Times of Crime Bhopal

Times of Crime Bhopal

C

C

Friday, June 23, 2017

किसी बॉलीवुड हीरोइन से कम नही है ये भारतीय न्यूज़ एंकर

sweta singh aaj tak beautiful के लिए चित्र परिणाम
TOC NEWS
स्वेता सिंह जो कि आज तक न्यूज़ चैनल की एंकर है, वे काफी ज्यादा खुबशुरत है।
उन्होंने अपना कैरियर टाइम्स ऑफ इंडिया से शुरू किया था पर इसके बाद वे ज़ी न्यूज़ के साथ जुड़ी लेकिन कुछ महीने बाद ही वे आज तक से जुड़ गई और 2002 से लगातार आज तक मैं काम कर रही है। श्वेता सिंह ने हमेशा ही अपनी पर्सनल ज़िन्दगी को कभी भी मीडिया के साथ शेयर नही किया पर कुछ खबरों के अनुसार उसने सांकेत कोटकर के साथ शादी की जो कि अभी अपनी एक बेटी के साथ दिल्ली में रहते है।
संबंधित चित्र
उन्हें सबसे ज्यादा स्टारडम ज़ी न्यूज़ और सहारा न्यूज़ के साथ काम करने पर मिली। उन्होंने अपनी सफलता से कई अवार्ड भी प्राप्त किये और 2017 में भी उन्हें दादा साहेब फाल्के फ़िल्म फाउंडेशन की और से बेस्ट एंकर का अवार्ड भी मिला है।उसने चक्रव्यूह नाम की एक बॉलीवुड फिल्म में भी काम किया है।
इसे भी पढ़ें :- बीजेपी विधायक के बाहुबली पति के खिलाफ CM योगी ने दर्ज करा दी FIR
 
संबंधित चित्र
shweta singh aaj tak tv anchor
संबंधित चित्र
संबंधित चित्र

Sweta Singh Height, Weight, Age, Affairs, Husband, Biography & More

Sweta Singh is an Indian journalist and news presenter. She is a news anchor and Executive Editor, Special Programming of Aaj Tak. Sweta was born on 21 August 1977 in Patna Bihar. She did her graduation in Mass Communication from the Patna University.  Sweta married her long-term boyfriend Sanket Kothar and they are happily married. She has a daughter. She is very famous and is a renowned news anchor. She is also amongst the most prettiest news anchor in the Indian news channel
Real Name : Sweta Singh
Date of Birth : 21 August 1977
Age (as in 2016) : 39 years
Profession: News Anchor
Birth Place : Patna, Bihar, India
Zodiac sign/Sun sign : Leo
Nationality : Indian
Hometown : Patna, Bihar, India
Educational Qualifications: Graduation in Mass Communication
Religion : Hindu
Hobbies: Reading, Writing and Travelling

CAREER

Sweta Singh is an Indian News Anchor and a Journalist. She started her career with Times of India, Patna and Hindustan Times, Patna and Zee News and Sahara before she joined Aaj Tak in the year 2002. She has also won the award for the Best producer in the year 2013 and ENBA Best Business show for Swetapatra budget in the year 2014. She has also received the award for the best anchor in the year 2012.

हार्दिक पांड्या पर फिदा हुई बॉलीवुड की यह अभिनेत्री

TOC NEWS
चैंपियंस ट्रॉफी में भारतीय टीम को मिली करारी हार के बाद भी भारतीय टीम के युवा ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या ने सभी खेल प्रेमियों का दिल जीत लिया। हार्दिक की आक्रामक पारी को देखकर फैंस तो क्या पूरा बॉलीवुड भी उन पर फिदा हो गया। यहां तक की बॉलीवुड एक अभिनेत्री ने तो सोशल मीडिया पर अपने प्यार का इजहार तक कर दिया।
आपको बता दें कि लंदन में भारत और पाकिस्तान के खेले जा रहे चैंपियस ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले में किसी भी भारतीय खिलाड़ी का बल्ला नहीं चला, लेकिन हार्दिक पांड्या ने शानदार बल्लेबाजी का प्रदर्शन करते हुए 43 गेंदो का सामना कर 76 रनों की पारी खेलकर भारतीय फैंस को खुश होने का मौका दिया।
इसे भी पढ़ें :- बीजेपी विधायक के बाहुबली पति के खिलाफ CM योगी ने दर्ज करा दी FIR
 
हार्दिक पांड्या की शानदार पारी के बाद सोशल मीडिया पर उनको लेकर एक से बढ़कर एक ट्वीट किए जाने लगे।
संबंधित चित्र
क्रिकेट प्रेमी से लेकर सेलिब्रिटी भी हार्दिक की इन शानदारी पारी को देखकर अपनी खुशी जताने में पीछे नहीं रहे। रणवीर सिंह, गौहर खान और सोनल चौहान समेत सेलिब्रिटी ने हार्दिक के लिए ट्वीट किया।
यहां तक की पूर्व मिस यूनिवर्स और बॉलीवुड अभिनेत्री सुष्मिता सेन ने हार्दिक से अपने प्यार का इजहार तक कर दिया और उन्हें आई लव यू तक बोल डाला।

कादर खान की ऐसी हालत देख आपकी आंखे भी हो जाएंगी नम

कादर खान की ऐसी हालत देख आपकी आंखे भी हो जाएंगी नम के लिए चित्र परिणाम
TOC NEWS
दरअसल इस वीडियो में कादर खान को एक बस से बाहर उतारते हुए देखा जा सकता है। इसमें उन्हें कुछ लोग उन्हें सहारा देकर बस से लाने की कोशिश कर रहे हैं। वहीं साइड में एक व्हील चेहर पर नजर आ रहा हैं। 
बस से उतारते ही कादर खान को तुरंत इस व्हील चेयर पर बैठा दिया गया है। उन्हें हालत में देख आप जरूर भावुक हो उठेंगे। कादर खान को कई फिल्मों में शानदार अदाकारी करते हुए देखा गया, खासतौर पर जब बात उनकी कॉमेडी की हो तो उनसे बेहतर कलाकार कोई नहीं होगा। उन्होंने अपने पूरे फिल्मी करियर के दौरान दर्शकों को खूब हंसाया है।
इसे भी पढ़ें :- बीजेपी विधायक के बाहुबली पति के खिलाफ CM योगी ने दर्ज करा दी FIR

कादर खान का नाम सुनते ही हम सभी के जहन में उनका कॉमिक अवतार आ जाता है। उन्होंने कुछ वक्त पहले कहा था कि अब कोई भी निर्माता-निर्देशक उन्हें अपनी फिल्म में नहीं लेना चाहता। बता दें कि कादर खान ने अपने अभिनय से तो दर्शकों को लुभाया ही है साथ ही वह राइटर के तौर पर भी कई फिल्मों में काम कर चुके हैं।

अगली स्लाइड में देखें वीडियो:-

उन्हें पिछली बार 2015 में अपनी फिल्म 'हो गया दिमाग का दही' के दौरान ही मीडिया से रुबरू होते देखा गया था। लेकिन इसके बाद से वह अपनी बीमारी के कारण लाइमलाइट से दूर हो गए हैं।

मंदसौर के कलेक्टर और एसपी के निलंबन पर उठ रहे सवाल

अवधेश पुरोहित 

भोपाल। यूँ तो मध्यप्रदेश में कब क्या हो जाए किन मुद्दों पर बहस खड़ी हो जाए यह सिलसिला तो हमेशा जारी रहता है मगर इसके बावजूद भी मध्यप्रदेश सरकार की नौकरशाही के इस रवैये में कोई परिवर्तन होता दिखाई नहीं देता, पिछले दिनों मंदसौर में आंदोलन कर रहे किसानों के उग्र होने और पुलिस की फायरिंग से छ: किसानों की मौत होने के बाद पहले तो यह विवाद चला कि किसानों की मौत पुलिस की गोली से नहीं हुई है बल्कि असामाजिक तत्वों के द्वारा चलाई गई गोलियों से हुई है। 

इसे भी पढ़ें :- बीजेपी विधायक के बाहुबली पति के खिलाफ CM योगी ने दर्ज करा दी FIR

लेकिन यह विवाद पूरे दिन चलता रहा और शाम होते ही गृहमंत्री ने बड़ी ही सहजता से यह स्वीकार करते हुए माना कि मंदसौर में उग्र किसानों पर गोली चालन पुलिस के द्वारा किया गया और पुलिस की गोली चालन से ही किसानों की मौत होना बताया, लेकिन घटना के दस दिन बाद सरकार ने मंदसौर के तत्कालीन कलेक्टर और एसपी को निलंबित कर यह स्वीकार कर लिया कि मंदसौर में जिला प्रशासन की गलती के कारण छ: किसानों की मौत हुई और यह प्रशासनिक चूक है अब जब सरकार की इस तरह की स्वीकृति के बाद भी सवाल यह उठता है कि क्या इस घटना को लेकर बनाये गये जांच आयोग का कोई औचित्य रह गया है। 

इस मुद्दे को लेकर राज्य के आईएएस अधिकारियों और कानून के जानकारों में एक बहस सी छिड़ी हुई है तो वहीं कानून के जानकारों का कहना है कि सरकार ने जब मंदसौर जिले के तत्कालीन कलेक्टर और एसपी को निलंबित करके यह स्वीकार कर लिया कि वहां गोली चालन हुआ और उस गलती के पीछे यह अधिकारी जिम्मेदार हैं, तो अब इस घटना की जांच के लिये बनाये गये आयोग का कोई औचित्य ही नहीं रह जाता है 

लेकिन वहीं प्रदेश के कुछ आईएसस अधिकारी मंदसौर जिले के तत्कालीन कलेक्टर और एसपी को घटना के दस दिन बाद निलंबित करने की सरकार की कार्यवाही को गलत मानकर चल रहे हैं और इन अधिकारियों का कहना है कि यदि सरकार को इस तरह की कोई कार्यवाही करनी थी तो घटना के तुरंत बाद की जा सकती थी, मगर दस दिन बाद इस तरह की कार्यवाही किये जाने का कोई औचित्य नहीं है, 

इसके साथ ही इन अधिकारियों का तर्क है कि केन्द्र सरकार द्वारा हाल ही में बदले गए नियमों के अनुसार किसी भी आईएएस या आईपीएस अधिकारी के निलम्बन की सूचना २४ घंटे के अंदर केन्द्र सरकार को देनी चाहिए हालांकि वह यह तर्क भी देते नजर आते हैं कि पता नहीं सरकार ने नये नियमों के अनुसार इसका पालन किया कि नहीं लेकिन वह अपने आईएसस अधिकारी और आईपीएस अधिकारियों पर सरकार द्वारा किये गये निलंबन की कार्यवाही पर सवाल खड़े करते नजर आ रहे हैं। 
 
खैर, यह मामला कानूनी है और इस पर निर्णय सरकार और अधिकारियों को लेना है यह वही जाने लेकिन कानून के जानकारों के अनुसार यह चर्चा जरूर जोरों पर है कि जब सरकार ने तत्कालीन कलेक्टर और एसपी का निलंबन का आधार सरकार को मंदसौर में हुए गोली चालन की गलत जानकारी देना माना और इसी मुद्दे को लेकर उनपर निलंबन की कार्यवाही की इस कार्यवाही से यह साफ हो जाता है कि सरकार ने यह स्वीकार कर लिया कि मंदसौर में आंदोलन कर रहे किसानों पर गोली चालन तत्कालीन जिला प्रशासन की गलती का खामियाजा है तो अब इस घटना की जांच के लिये बनाये गये जांच आयोग के औचित्य को लेकर भी चर्चाएं जोरों पर हैं।

मोदी के खिलाफ इस बीजेपी सांसद ने उठाई आवाज़, कहा – कोविंद नहीं बन सकते राष्ट्रपति!


TOC NEWS

नई दिल्ली। राष्ट्रपति चुनाव में अपने उम्मीदवार को लेकर बीजेपी ने अपने पत्ते खोल दिए हैं। एनडीए की तरफ से रामनाथ कोविंद को उम्मीदवार बनाया है। इस ऐलान के बाद बयानबाजी का दौर शुरु हो गया।

कोई पार्टी इस चेहरे का सपोर्ट कर रही तो कोई इसका विरोध जता रही। अब बीजेपी के अंदर से ही रामनाथ कोविंद को राष्‍ट्रपति उम्‍मीदवार बनाए जाने के खि‍लाफ आवाज उठी है। अभिनेता और बीजेपी सांसद शत्रुघन सिन्हा ने इस मामले में अपनी आवाज उठाई है और कोविंद को उम्मीदवार बनाए जाने का विरोध किया है।
— Shatrughan Sinha (@ShatruganSinha) June 20, 2017
इसे भी पढ़ें :- बीजेपी विधायक के बाहुबली पति के खिलाफ CM योगी ने दर्ज करा दी FIR
शत्रुघन सिन्हा ने सीनियर नेता लाल कृष्ण आडवाणी का साथ भी दिय
शत्रुघन सिन्हा ने ट्वीट करके बीजेपी के सीनियर नेता लाल कृष्ण आडवाणी का साथ भी दिया। सिन्हा ने कई सारे ट्वीट करते हुए सबसे पहले रामनाथ कोविंद के चुने जाने पर उनको बधाई दी। लेकिन फिर उन्होंने कहा कि पार्टी इस फैसले को थोड़ा और पारदर्शी और सही तरीके से कर सकती थी। सिन्हा के मुताबिक, बीजेपी राष्ट्रपति उम्मीदवार चुनने से पहले बाकी पार्टियों से मिलने में ज्यादा वक्त खराब कर रही थी।
शत्रुघन ने लाल कृष्ण आडवाणी को दोस्त, दार्शनिक, गाइड, गुरु और अंतिम नेता भी बताया। शत्रुघन से पहले ऐसे ही आरोप बीजेपी की साथी पार्टी शिवसेना ने लगाए थे। शिवसेना ने कहा था कि कोविंद का नाम उनको मीडिया और विपक्ष के नेताओं द्वारा पता लगा था जबकि बीजेपी नेता इन दिनों बाकी पार्टी के नेताओं के साथ बातचीत में व्यस्त थे। शिवसेना ने कहा था कि उनको कोविंद का नाम नहीं सुझाया गया था।
Nonetheless, long live our friend, philosopher, guide, guru & ultimate leader Honourable Mr. L.K.Advani.
Long live #BJP Jai Hind.
— Shatrughan Sinha (@ShatruganSinha) June 20, 2017
..in a more mature & transparent manner. We could have nipped the bud right in the beginning in an open & shut, transparent manner..3>4

कौन हैं रामनाथ कोविंद

रामनाथ कोविंद वर्तमान में बिहार के राज्यपाल थे उन्होंने कल ही अपने पद से इस्तीफा दिया है। वो 8 अगस्त, 2015 को बिहार के राज्यपाल चुने गए थे। रामनाथ कोविंद को बीजेपी ने 1990 में घाटमपुर लोकसभा सीट से टिकट दिया था लेकिन वह चुनाव हार गए थे। इसके बाद पार्टी ने 1994 और 2000 में उन्हें यूपी से दो बार राज्यसभा सांसद बनाकर भेजा। 1977 में इमरजेंसी के दौरान जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद वह तत्कालीन प्रधानमंत्री मोरारजी देसाई के निजी सचिव बने थे। इसके बाद वो बीजेपी नेतृत्व के संपर्क में आए। ऑल इंडिया कोली समाज के अध्यक्ष हैं रामनाथ कोविंद। वो बीजेपी के एससी-एसटी मोर्चा के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। रामनाथ कोविंद सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट में 16 साल तक वकालत की प्रैक्टिस कर चुके हैं।

Thursday, June 22, 2017

कियारा आडवाणी ने कहा, भाई-भतीजावाद हर जगह




TOC NEWS

मुम्बई: बॉलीवुड अभिनेत्री कियारा आडवाणी का कहना है कि भाई-भतीजावाद हर जगह मौजूद है, लेकिन यह बॉलीवुड में बाहरी लोगों के रास्ते बंद नहीं करता|



कियारा ने कहा, किसी भी इंडस्ट्री में यह आसान नहीं होने जा रहा| भाई-भतीजावाद हर जगह मौजूद है| किसी भी क्षेत्र में, संपर्को के द्वारा काम मिलने में आसानी रहती है| लेकिन मैं महसूस करती हूं कि यहां कई कलाकार ऐसे हैं, जिन्होंने खुद से अपनी पहचान बनाई है|

कियारा ने कहा, उदाहरण के लिए प्रियंका चोपड़ा को ही ले सकते हैं| उन्होंने जो प्राप्त किया है, वह फिल्म कलाकारों के बच्चे नहीं कर पाए| इसलिए, मैं सोचती हूं कि सबकी अपनी यात्रा होती है| जब आप एक कलाकार के बच्चे होते हैं, तब आपकी पहली फिल्म आसान हो जाती है, लेकिन इसके अलावा आपकी पूरी सफलता दर्शकों और उनके द्वारा आपकी स्वीकार्यता पर निर्भर होती है|

ये अभिनेता जानें क्यों किया “महिलाओं को सलाम”



TOC NEWS

मुम्बई: अभिनेता संदीप आनंद को लोकप्रिय कॉमेडी धारावाहिक ‘मे आई कम इन मैडम?’ में महिला की भूमिका के लिए वैक्स करानी पड़ी| हालांकि, इसका अनुभव उनके लिए बेहद खराब रहा|

संदीन ने कहा, “महिलाओं को सलाम, जो नियमित तौर पर वैक्स कराती हैं| यह बहुत दर्दनाक था, मैं उसे बयां नहीं कर सकता| उम्मीद करता हूं कि भविष्य में फिर कभी मुझे यह न कराना पड़े, क्योंकि मुझे नहीं लगता कि मैं फिर दोबारा यह दर्द सहन कर पाऊंगा|”

यह पहली बार नहीं है, जब संदीप ने टेलीविजन चैनल ‘लाइफ ओके’ के इस शो के लिए महिला की भूमिका निभाई| लेकिन इससे पहले निर्माताओं ने उन्हें वैक्स कराने के लिए नहीं कहा था|

‘मे आई कम इन मैडम?’ में नेहा पेंडसे और सपना सिकरवार भी प्रमुख भूमिकाओं में हैं|

प्रियंका की शार्ट ड्रेस से मोदी को दिक्कत होती तो वह खुद बोल देते : सनी लियोन


 
मुंबई में गुरुवार को शाकाहार से संबंधित अभियान ‘पीपुल फॉर एथिकल ट्रीटमेंट ऑफ एनिमल्स’ में सनी ने कहा कि मुझे लगता है कि हमने भारत के प्रधानमंत्री पद के लिए एक बहुत ही समझदार व्यक्ति को चुना है।
इसे भी पढ़ें :- बीजेपी विधायक के बाहुबली पति के खिलाफ CM योगी ने दर्ज करा दी FIR
 
वह बहुत ही समझदार, बुद्धिमान और मुखर हैं। अगर उन्हें इससे (प्रियंका की छोटी ड्रेस) से दिक्कत होती तो वह प्रियंका से बोलते। लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। उन्होंने कहा कि वह मानती हैं कि पहनावे से लोगों को आकना गलत है।
सनी ने कहा कि मुझे पता है कि वह प्रियंका समाज को वापस लौटाती हैं। मुझे पता है कि वह लोगों के साथ अच्छा बरताव करती हैं। इसलिए प्रियंका को उनके काम से आंकना चाहिए, उनके कपड़ों से नहीं। वहीं, इस मामले पर अमिताभ बच्चन सहित कई सेलिब्रिटी टिप्पणी करने से बचते नजर आए।
अमिताभ ने इस मामले पर टिप्पणी देने से यह कहते हुए इनकार कर दिया था कि न तो वह प्रधानमंत्री हैं और न ही प्रियंका चोपड़ा।
प्रियंका की शार्ट ड्रेस से मोदी के लिए चित्र परिणाम

बेनामी संपत्ति मामला: मीसा से पूछताछ के बाद मोदी ने कहा,तेजस्वी-तेजप्रताप को बर्खास्त करे नीतीश



TOC News
भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मांग की कि उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव और स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव को मंत्रिमंडल से बर्खास्त करें। बुधवार को प्रदेश भाजपा कार्यालय में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में मोदी ने दावा किया कि आयकर विभाग ने बेनामी संपत्ति अधिनियम के तहत तेजस्वी परिवार की 175 करोड़ की 14 बेनामी संपत्ति को जब्त करने का आदेश दिया है।

राज्य के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव पर आयकर विभाग ने 14 बेनामी संपत्ति रखने का मामला सही पाया है। मोदी ने कहा कि मुख्यमंत्री भ्रष्टाचार के मामले में जीरो टॉलरेंस की बात करते हैं, तो क्या तेजस्वी एवं तेजप्रताप से इस्तीफा लेंगे या उन्हें बर्खास्त करेंगे। आरोप लगाया कि बिहार एक बार फिर 1996 के चारा घोटाले के दौर में पहुंच गया है।

मोदी ने कहा कि सीएम कहते थे कि भाजपा के लोग सिर्फ प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हैं यदि सबूत है तो केंद्र सरकार कार्रवाई करें, अब जब केंद्र ने कार्रवाई कर दी है तो मुख्यमंत्री भी कार्रवाई करें। प्रेस कॉन्फ्रेंस में भाजपा नेता प्रेमरंजन पटेल, देवेश कुमार मौजूद थे।

भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी ने एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का समर्थन करने के लिए जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को बधाई दी है। उन्होंने कुमार से आग्रह किया कि उन्हें राजद व कांग्रेस को भी समर्थन के लिए तैयार करना चाहिए।

तो क्‍या राष्‍ट्रपति चुनाव के बाद गिर जाएगी नीतीश कुमार की सरकार?



TOC NEWS
राष्‍ट्रपति पद के लिए बीजेपी उम्‍मीदवार रामनाथ कोविंद को एनडीए से इतर दलों का समर्थन हासिल हो रहा है।
जद (यू) विधायक रत्नेश सदा ने बुधवार को पटना में संवाददाताओं से कहा कि जद (यू) राष्ट्रपति चुनाव में रामनाथ कोविंद का समर्थन करेगा।

 उन्होंने दावा किया कि पार्टी के अध्यक्ष नीतीश कुमार ने भी अपनी मंशा पूर्व में ही जाहिर कर दी थी। जद (यू) के सोनबरसा से विधायक सदा ने कहा, “बिहार का कोई राज्यपाल पहली बार राष्ट्रपति बनने जा रहा है। ऐसे में यह हमारे लिए गर्व की बात है और हम रामनाथ कोविंद के साथ हैं।”

बुधवार को जैसे ही खबर आई कि नीतीश कुमार ने रामनाथ कोविंद की उम्‍मीदवारी का समर्थन किया है, नई दिल्‍ली स्थित बीजेपी मुख्‍यालय में लड्डू बांटे जाने लगे। नीतीश कुमार ने रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाए जाने पर अपनी खुशी व्यक्त कर उन्हें समर्थन देने के संकेत दिए थे। कोविंद को उम्मीदवार बनाए जाने के बाद नीतीश ने राजभवन जाकर कोविंद से मुलाकात भी की थी।

बीजेपी के अंदरखाने इस बात की भी चर्चा है कि जिस दिन बीजेपी संसदीय दल की बैठक के दौरान कोविंद का नाम घोषित किया गया था, उसी दिन अमित शाह ने कोविंद को फोन कर इशारा कर दिया था कि वह नीतीश कुमार को उनके समर्थन के लिए संदेश भिजवाएं।

जिसके बाद अरुण जेटली (राष्‍ट्रपति चुनावों के लिए सर्वसम्‍मति हासिल करने हेतु बनी तीन-सदस्‍यीय कमेटी के सदस्‍य) ने नीतीश कुमार से बात की। उसी के बाद बीजेपी का शीर्ष नेतृत्‍व यह मान रहा था कि नीतीश साथ आ गए हैं, और बुधवार को उन्‍होंने पुष्टि भी कर दी।

नीतीश कुमार के साथ आने को बीजेपी के शीर्ष नेतृत्‍व, खासकर नरेंद्र मोदी के लिए बड़ी राहत के तौर पर देखा जा रहा है। इस पूरे प्रकरण में यह भी कहा जा रहा है कि अगस्‍त 2017 के बाद से दो राज्‍यों में सरकार चलाना मुश्किल हो जाएगा। राष्‍ट्रपति चुनावों के बाद, तमिलनाडु में एआईएडीएमके सरकार और बिहार में जेडीयू सरकार अपदस्‍थ हो सकती है।

अब जब नीतीश साथ आ गए हैं तो ऐसे कयास लग रहे हैं कि बिहार में जेडीयू और उसके सहयोगी के बीच दरार देखने को मिल सकती है और फिर नीतीश के लिए बिहार सीएम बने रह पाना और मुश्किल हो सकता है। अगर लालू कोई दांव चलते हैं तो बीजेपी का समर्थन नीतीश के काम आ सकता है। बिहार में बीजेपी-जेडीयू के साथ आने की चर्चा इन दिनों बीजेपी के राष्‍ट्रीय मुख्‍यालय में जोर-शोर से चल रही है।

 तमिलनाडु में एआईएडीएमके भी एनडीए उम्‍मीदवार को अपना समर्थन दे सकती है। बीजेपी नेता सुब्रमण्‍यम स्‍वामी ने बुधवार को कहा कि ‘शशिकला उस पार्टी की संचालिका हैं। लोग तीन धड़ों, चार धड़ों की जितनी चाहे बात करें, वह अब एआईएडीएमके की उत्‍तराधिकारी हैं और मुझे यकीन है वे हमारे पक्ष में फैसला करेंगी।

’गौरतलब है कि राष्ट्रपति चुनाव की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। 17 जुलाई को मतदान होना है। नतीजा 20 जुलाई को घोषित होगा। वर्तमान राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो जा रहा है।
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

TOC NEWS

TOC NEWS

TIOC

''टाइम्स ऑफ क्राइम''

''टाइम्स ऑफ क्राइम''


23/टी -7, गोयल निकेत अपार्टमेंट, जोन-1,

प्रेस कॉम्पलेक्स, एम.पी. नगर, भोपाल (म.प्र.) 462011

फोन नं. - 0755- 4078525,

98932 21036,08305703436

किसी भी प्रकार की सूचना, जानकारी अपराधिक घटना एवं विज्ञापन, समाचार, एजेंसी और समाचार-पत्र प्राप्ति के लिए हमारे क्षेत्रिय संवाददाताओं से सम्पर्क करें।

http://tocnewsindia.blogspot.com




यदि आपको किसी विभाग में हुए भ्रष्टाचार या फिर मीडिया जगत में खबरों को लेकर हुई सौदेबाजी की खबर है तो हमें जानकारी मेल करें. हम उसे वेबसाइट पर प्रमुखता से स्थान देंगे. किसी भी तरह की जानकारी देने वाले का नाम गोपनीय रखा जायेगा.
हमारा mob no 09893221036, 09009844445 & हमारा मेल है E-mail: timesofcrime@gmail.com, toc_news@yahoo.co.in, toc_news@rediffmail.com

''टाइम्स ऑफ क्राइम''

23/टी -7, गोयल निकेत अपार्टमेंट, जोन-1, प्रेस कॉम्पलेक्स, एम.पी. नगर, भोपाल (म.प्र.) 462011
फोन नं. - 0755- 4078525, 98932 21036, 09009844445

किसी भी प्रकार की सूचना, जानकारी अपराधिक घटना एवं विज्ञापन, समाचार, एजेंसी और समाचार-पत्र प्राप्ति के लिए हमारे क्षेत्रिय संवाददाताओं से सम्पर्क करें।





appointment times of crime

appointment times of crime

Followers

add tocn

add tocn
आवश्यकता है ‘‘टाइम्स ऑफ क्राइम’’ भारत के सर्वश्रेष्ठ निर्भीक, निष्पक्ष व खोजपूर्ण साप्ताहिक समाचार पत्र ‘‘टाइम्स ऑफ क्राइम’’ हेतु सम्पूर्ण भारत में नगर/ब्लाक/पंचायत स्तर पर क्षेत्रीय प्रतिनिधियों/संवाददाताओं की आवश्यकता है जो अपने गृह नगर क्षेत्र में समाचार/विज्ञापन/प्रसार सम्बन्धी नेटवर्क का संचालन कर सके। आवेदक के आवासीय क्षेत्र के समीपस्थ स्थानीय नियुक्ति। सम्पूर्ण विवरण योग्यता प्रमाण पत्र, पासपोर्ट आकार के नवीनतम फोटोग्राफ सहित अधिकतम 25.07. 2013 तक डाक/कोरियर द्वारा आवेदन करें।

toc news

Popular Posts

प्रतिनिधियों/संवाददाताओं की आवश्यकता है

review:


म.प्र., छ.ग.के समस्त नगर/ ब्लाक/ ग्राम पंचायत स्तर/ वार्ड में संवाददाता बनाना है


भारत के सर्वश्रेष्ठ निर्भीक, निष्पक्ष व खोजपूर्ण साप्ताहिक समाचार पत्र ‘‘टाइम्स ऑफ क्राइम’’ हेतु सम्पूर्ण भारत में नगर/ब्लाक/पंचायत स्तर पर क्षेत्रीय प्रतिनिधियों/संवाददाताओं की आवश्यकता है जो अपने गृह नगर क्षेत्र में समाचार/विज्ञापन/प्रसार सम्बन्धी नेटवर्क का संचालन कर सके। आवेदक के आवासीय क्षेत्र के समीपस्थ स्थानीय नियुक्ति। सम्पूर्ण विवरण योग्यता प्रमाण पत्र, पासपोर्ट आकार के नवीनतम फोटोग्राफ सहित अधिकतम 30.10. 2016 तक डाक/कोरियर द्वारा आवेदन करें।




टाइम्स ऑफ क्राइम

23/टी-7, गोयल निकेत अपार्टमेंट, पे्रस काम्पलेक्स,

जोन-1, एम. पी. नगर भोपाल (म.प्र.) दूरभाष क्र.-0755-4078525

मोबाइल 098932 21036, 08305703436



आवेदन पत्र का प्रारूप


1. आवेदक का नाम...................................

2. आवेदित पद........................................

3. कार्य क्षेत्र...........................................

4. पिता/पति का नाम .................................

5. जाति, धर्म एवं राष्ट्रीयता...........................

6. जन्म तिथि .........................................

7. वर्तमान तथा स्थायी पता.............................

8. शैक्षणिक योग्यता..................................

9. पूर्व अनुभव(यदि कोई हो).........................

10. फोन/मोबाइल नं..................................

11.आवेदन के तिथि...................................


सहित हस्ताक्षर