Times of Crime Bhopal

Times of Crime Bhopal

Thursday, November 23, 2017


TOC News
भोपाल। श्री पी. नरहरि, सचिव, राजस्व विभाग तथा नियंत्रक, शासकीय मुद्रण एवं लेखन सामग्री, भोपाल (अतिरिक्त प्रभार) को आयुक्त, जनसम्पर्क मध्यप्रदेश तथा कार्यपालक संचालक, पर्यावरण नियोजन एवं समन्वय संगठन (एप्को) (अतिरिक्त प्रभार) सौंपा गया है। इस संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग मध्यप्रदेश शासन मंत्रालय भोपाल ने 22 नवम्बर 2017 को आदेश जारी कर दिये हैं।
श्री नरहरि 2001 बैच के आईएएस अधिकारी हैं। श्री नरहरि कलेक्टर सिवनी, सिंगरौली, ग्वालियर और इंदौर कलेक्टर के पद पर रह चुके हैं। वर्तमान में श्री नरहरि के पास सचिव राजस्व विभाग का दायित्व ​था। श्री नरहरि कमिश्नर नगर निगम इंदौर तथा सीईओ जिला पंचायत छिंदवाड़ा के पद पर भी कार्य कर चुके हैं। इसके अलावा अनेक जिलों में एवं विभागों में कार्य कर चुके है।

भूमाफिया ठेकेदार का गुर्गा गरीब आदिबासी की जमीन पर कर रहा दबंगाई से सड़क निर्माण की कोशिश


  Toc News
*आदिबासी किसान की मदद करने मैदान में उतरे युवराज अभिजीत शाह*

 *सिराली* / आजादी के बाद  पहली वार बनी सड़क में भ्रस्टाचार का बोलबाला ठेकेदार ने अपने निजी स्वार्थ के चलते गरीब आदिबासी के खेत से निकाला रास्ता पीड़ित आदिबासी ने किया विरोध तो मिश्रा बन्धु के गुर्गे ने उक्त गरीब किसान को उठाकर ले गए और ऑफिस में बंद कर दी जान से मारने की धमकी पीड़ित किसान मानक लाल , युवराज अभिजीत शाह के साथ पहुचा था सिराली थाने घटना के 8 दिन बाद भी नही हुई कार्रवाई।

 *क्या है पूरा मामला*

 जानकारी के अनुसार वनांचल के ग्राम पदालदा से झिरपी सावरी मार्ग पर प्रधाममंत्री ग्राम सड़क योजना अंतर्गत लगभग सवा 4 सो करोड़ रूपये की लागत से बन रहा मार्ग पर नियमो को ताक में रखते हुए मनमर्जी से विना सीमांकन के ही ठेकेदार सड़क निर्माण कार्य बना रहा है। इतना ही नही उक्त ठेकेदार ने अपने निजी स्वार्थ के चलते झिरपी गॉव के पास सयानी नदी पर बन रहे पुल पर एक छोर पर एक किसान के खेत को खोद डाला। जब गरीब आदिबासी ने विरोध किया तो 13 नववर को किसान मानकलाल पिता सुवेदार जाति गोड निबासी झिरपी को मिश्रा बन्धु के मैंनेजर प्रवीण तिवारी के इशारे पर उसके गुर्गे ने स्थानीय बिद्या बिहार कालोनी से दबंगाई से उठाकर उसके ऑफिस लेकर गया कमरे में बंद कर मानसिक रूप से प्रताड़ित कर जान से मारने की धमकी दी। पीड़ित ने थाने में दिए हुए आवेदन में   कहा कि तिवारी ठेकेदार ने धमकी देते हुए कहा कि 15 नववर को तैयार रहना सड़क बनने दे, अगर सड़क निर्माण में आड़े आया तो तुझे जेल भिजवा दूँगा। जिसकी शिकायत पीड़ित किसान ने 14 नवंबर को युवराज अभिजीत शाह के साथ सिराली थाने शिकायत करने पहुचे। जहाँ पीड़ित के साथ हुई घटना के ध्यान में रखते हुए युवराज अभिजीत शाह ने ठेकेदार के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कराने के लिये अड़ गए काफी देर बाद जहाँ पुलिस ने भी हिला हवाला देते हुए सरकारी काम बताकर आवेदन लेकर ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई का आश्वाशन देकर रवाना कर दिया।
पीड़ित आदिबासी मानक लाल ने बताया कि मैने पूर्व में तीन माह पूर्व भी प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के महाप्रबन्धक को एवं जिला कलेक्टर को भी शिकायत की थी। लेकिन कोई कार्रवाई नही की पीड़ित ने बताया कि 3 एकड़ भूमि है जिसपर मेहनत मजदूरी कर अपना परिवार चलाता हु । लेकिन मुझे मेरी ही भूमि से वेदखल किया जा रहा है। ठेकेदार  तिवारी मुझे बार बार धमकी दे रहा इतना ही नही मेरे खेत अवैध तरीके से लगभग सो गाड़ी मिट्टी बजरी निकाल कर मेरी भूमि को 4 मीटर गहरा तालाब बना दिया। जिसमें लम्बाई 15 मीटर एवं चौड़ाई 14 मीटर है। न्याय के लिए सिराली थाने गया लेकिन वहाँ भी मुझे न्याय नही मिला।

 *युवराज अभिजीत शाह पहुचे पीड़ित आदिबासी किसान के खेत में*

बुधवार शाम 5 बजे युवराज अभिजीत शाह ग्राम झिरपी पहुचे जहाँ पुल का निर्माण कार्य चल रहा था। निर्माण कार्य पर उपयंत्री के समक्ष कंक्रीट मिक्स का सेंपल लिया जिसको लेब में टेस्ट के लिए देगे। मौके पर उपयंत्री कादिर सिद्दीकी से चर्चा करते हुए सड़क के सीमांकन सबधी चर्चा की जहाँ उपयंत्री का कहना है। कि यहाँ जितने भी अवैध कार्य हुए है उसकी मुझे जानकारी नही है। जबकि नियमानुसार विना इंजीनियर के ले आउट के कोई भी निर्माण कार्य नही होता यहाँ स्पस्ट दिख रहा है कि झिरपी तरफ के अवेटमेंट के लिए अवैध खनन हुआ है जिसमे से लगभग 100 गाड़ी मिटी बजरी का परिवहन हुआ है। जो की ठेकेदार की मिलभगत के संभव नही। ज्ञात हो की पूर्व में भी कई जगह उक्त ठेकेदार द्वारा भोले भाले आदिवासियों को डरा धमका कर अवैध उत्खनन किया गया जिसके लिए मजबूर आदिबासी किसान मकड़ाई युवराज अभिजीत शाह के पास आ रहे है।

वीरांगना की मूर्ति बेटियों को आगे बढ़ने के लिये उत्साह उर्जा और प्रेरणा देती है-वित्तमंत्री श्री मलैया

TOC NEWS

वीरांगना झलकारी बाई की आज 187 वीं जयंती पर आप सभी का वंदन अभिनंदन है। उत्तर प्रदेश में उनकी प्रतिमा आगरा में स्थापित की गई है, प्रदेश के भोपाल में वीरांगना झलकारी बाई की मूर्ति का अनावरण भारत के राष्ट्रपति महामहिम श्री रामनाथ कोविंद द्वारा गुरू तेगबहादुर काम्पलेक्स में अभी हाल ही में किया गया है। इस आशय की बात आज प्रदेश के वित्त, वाणिज्यिक कर मंत्री जयंत कुमार मलैया ने अखिल भारतीय कोरी समाज संगठन जिला शाखा दमोह द्वारा आयोजित वीरांगना झलकारी बाई की जयंती कार्यक्रम में कही। इस अवसर पर सांसद प्रहलाद पटैल, भाजपा जिलाध्यक्ष देवनारायण श्रीवास्तव, लघु वनोपज संघ अध्यक्ष महेश कोरी, नगर पालिका अध्यक्ष मालती असाटी, डॉ. केदारनाथ शर्मा, रमन खत्री, राघवेन्द्र सिंह, रूपेश सेन, जनपद सदस्य लता राजेश कोरी, संतोष रोहित, बीडी बावरा मंचासीन थे।

   वित्तमंत्री श्री मलैया ने कहा वीरांगना झलकारी बाई हू-ब-हू लक्ष्मीबाई की शक्ल में थी। इतिहास में कई लोगों को उतना स्थान नहीं मिल पाता है जितना मिलना चाहिये, वैसा ही वीरांगना झलकारी बाई के साथ हुआ। वीरांगना की मूर्ति बेटियों को आगे बढ़ने की के लिये उत्साह, उर्जा और प्रेरणा देती है। उन्होंने कहा 75 प्रतिशत से अधिक अंक लाने पर बेटे-बेटियों पढ़ाई में आगे बढ़ने के लिये सरकार मदद कर रही है, उनकी फीस सरकार भरेगी, आप सभी अपने-अपने बेटे बेटियों को पढ़ायें। उन्होंने कहा समाज के भवन हेतु जमीन बतायें, हम भवन बनवा देंगे।
   सांसद प्रहलाद पटैल ने कहा मैं अपनी तरफ से कोरी समाज को बधाई देना चाहता हूं आप सब ने इतना अच्छा कार्यक्रम किया। अपने पूर्वजों के गरिमाशाली परम्परा के अनुसार आगे आने वाले समय में यह कार्य अपने बच्चों को मार्गदर्शन देगा। उन्होंने कहा मैने झलकारी बाई की प्रतिमा देखी है, जो इतिहासवाद को बड़ी गरिमा के साथ आगे बढ़ाने के लिये किसी भी कीमत पर अगर झलकारी बाई को जीवित करना है तो हमें अपने आप को दाव पर लगाना पड़ेगा। झलकारी ने स्वतंत्रता संग्राम में मोर्चा सम्हाला और उसी का परिणाम हैं कि लक्ष्मीबाई दूसरी ओर से निकल सकीं। उन्होंने वीर सपूतों और वीरांगनाओं के बारे में बड़े विस्तार से अपनी बात रखी।

   लघुवनोपज संघ के अध्यक्ष महेश कोरी ने कहा प्रदेश के मंत्री जयंत कुमार मलैया और सांसद ने अपने व्यस्ततम समय में से अपना अमूल्य समय हमें कार्यक्रम के लिये दिया है यह गौरव की बात है। उन्होंने कहा पूरे देश मे कोरी समाज की जनसंख्या करोड़ों में है। इसी प्रकार मध्यप्रदेश में भी लगभग 42 लाख है जो लगभग 6 प्रतिशत है। उन्होंने कहा वीरांगना झलकारी बाई कोरी के इस कार्यक्रम में सभी एक रहें और एकता का परिचय दें। उन्होंने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की तारीफ करते हुये कहा कि उन्होंने समाज को देश ही नहीं पूरे विश्व में उच्च स्तर पर पहुंचाया है। देश के महामहिम के रूप में श्री रामनाथ कोविंद को आसीन कराया है बहुत गर्व की बात है। उन्होंने कोरी समाज और संगठन को बधाई दी।

   इस अवसर पर अतिथियों का स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मान किया गया। अतिथियों द्वारा प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को स्मृति चिन्ह और प्रमाण पत्र भेंट कर सम्मानित किया गया। इसके अलावा जिले अन्य क्षेत्रों से आये समाज के वरिष्ठजनों का भी सम्मान किया गया। नन्हें-मुन्ने बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये। कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों द्वारा वीरांगना झलकारी बाई के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर तथा राष्ट्रगान से हुआ।
   इस अवसर पर नगर पालिका अध्यक्ष मालती असाटी, डॉ.केदारनाथ शर्मा ने भी वीरांगना झलकारीबाई के जीवन पर विस्तार से प्रकाश डाला और उनके मार्ग पर चलने अनुशरण करने की बात कही।सुधा कनौजे ने भी वीरांगना झलकारी बाई के जीवन पर अपनी बात रखी।

   इसके पूर्व एक वीरांगना झलकारी बाई की जयंती पर एक शोभा यात्रा का आयोजन किया गया जो नगर के विभिन्न मार्गो से होते हुये मानस भवन पहुंची। इस दौरान समाज की दो छात्राएं वीरांगना झलकारी बाई का स्वरूप लेकर घोड़े पर सवार होकर चल रहीं थी। जगह-जगह शोभायात्रा का स्वागत किया गया।
   कार्यक्रम में प्रदेश सदस्य इन्द्रकुमार कोरी, अध्यक्ष वाय.के.कोरी, उपाध्यक्ष लखन तंतुवाय, मुकेश कोरी खजरी, राजेश कोरी, बुद्दन तंतुवाय हटा, गोपी मास्टर, सुरेन्द्र कठहरे, हेमेन्द्र कोरी हिण्डोरिया, प्रकाश कोरी, पी.एल.तंतुवाय, जसवंत कोरी, दीपचंद कटहरे, पी.एल.कोरी, शारदा प्रसाद कोरी, तुलसीराम, ब्राज किशोर, प्रेमलाल कोरी, महेश कटारे, मुरारी कोरी, डॉ. नरेन्द्र कोरी, प्रेम दाऊ, डैनी कोरी, नरेन्द्र तंतुवाय, दीपराज कोरी, अरूण कोरी, जितेन्द्र कोरी, रवि कोरी, धर्मेन्द्र कोरी,तेजराम कोरी, भरत कोरी, कार्तिक कोरी, संत कुमार कोरी, सूरज कोरी सहित कोरी समाज के नागरिकगण तथा बड़ी संख्या में महिलाएं मौजूद थी।

मोदी सरकार ने NAA को दी मंजूरी, GST के नाम पर मुनाफाखोरी करने वालों की खैर नहीं

TOC NEWS

अगर आपको लगता है कि सरकार तो तमाम चीजों पर जीएसटी के रेट में कमी कर रही है लेकिन अपको उसका फायदा नहीं मिलता तो आपका शक बिल्कुल सही है. सरकार को भी ऐसी तमाम शिकायतें मिली हैं कि जीएसटी में कमी का फायदा कंपनियां और दुकानदार ग्राहकों तक नहीं पहुंचा रहे हैं और टैक्स कम होने के बाद भी कई चीजें सस्ती नहीं हो रही हैं. लेकिन अब सरकार ने जीएसटी की आड़ में मुनाफाखोरी करने वालों की नकेल कसने का इंतजाम कर लिया है.

गुरुवार को कैबिनेट में जीएसटी के लिए एंटी प्रोफिटियरिंग ऑथोरिटी (एनएए) के गठन को मंजूरी दे दी. इसमें तत्काल एक चैयरमैन और टेक्निकल मेंबर्स की बहाली की जाएगी. एनएए का काम ही होगा इस बात की निगरानी करना कि जो लोग जीएसटी में टैक्स कटौती का फायदा ग्राहकों तक पहुंचाने के बजाय खुद हड़प रहे हैं उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए. 15 नवंबर से ही तमाम चीजों पर जीएसटी की घटी हुई दरें लागू हुई हैं जिनमें रेस्टोरेंट में खाने पर जीएसटी 18 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी करना शामिल है.
कैबिनट के फैसलों के बारे में जानकारी देते हुए केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया कि हाल में ही सरकार ने जीएसटी के रेट में जबरदस्त कमी करते हुए 59 चीजों को छोड़कर आम आदमी के काम आने वाली ज्यादातर चीजों को 28 फीसदी जीएसटी के दायरे से बाहर कर दिया है. बहुत सारी चीजों को अब सबसे कम 5 प्रतिशत टैक्स की श्रेणी में लाया गया है. इसके बाद एंटी प्रोफिटियरिंग ऑथोरिटी (एनएए) का गठन करके सरकार ने यह साफ कर दिया है कि सरकार हर हाल में कम टैक्स का फायदा आम लोगों तक पहुंचाने के लिए वचनबद्ध है.

ऐसा होगा एनएए का प्रारूप
अगर लोगों को लगेगा कि जीएसटी में हुए टैक्स का फायदा उनको नहीं मिल रहा है तो वे एंटी प्रोफिटियरिंग ऑथोरिटी (एनएए) में शिकायत कर सकेंगे. एनएए का प्रमुख एक सचिव स्तर का अधिकारी होगा और इसमें चार टेक्निकल मेंबर्स होगें जो केन्द्र से या राज्यों से हो सकते हैं. केन्द्र में एंटी प्रोफिटियरिंग ऑथोरिटी (एनएए) के अलावा इसके लिए एक स्टैंडिग कमेटी और सभी राज्यों में स्क्रीनिंग कमेटी होगी.

कैसे होगी शिकायत
अगर किसी ग्राहक को लगता है कि जीएसटी का फायदा उसे नहीं मिल रहा है तो वो अपने राज्य में स्क्रीनिंग कमेटी में इसकी शिकायत कर सकता है. लेकिन मुनाफाखोरी का मामला ऐसा हो जिससे बहुत सारे लोग प्रभावित होते हों या फिर उसका असर पूरे देश पर पड़ सकता है तो सीधे स्टैंडिंग कमेटी को भी शिकायत की जा सकती है. शिकायतों पर जांच का काम सीबीईसी के तहत आने वाले डायरेक्टर जनरल ऑफ सेफगार्ड्स करके एनएए को सौंपेंगे जिसके आधार पर उचित कार्रवाई की जाएगी.

रद्द हो सकता है जीएसटी रजिस्ट्रेशन
एनएए शिकायत को सही पाए जाने पर या तो चीजों की कीमत कम करने का आदेश दे सकता है और अगर मामला बेहद गंभीर हुआ तो जुर्माना भी लगा सकता है. बेहद संगीन मामलों में जीएसटी का रजिस्ट्रेशन भी रद्द किया जा सकता है.

Tuesday, November 21, 2017

*"जर्नलिस्ट एसोसिएशन ऑफ इंडिया"* *''JAI''मध्यप्रदेश* *जिला नरसिंहपुर से पं0 श्री मदन तिवारी पत्रकार जिलाध्यक्ष नियुक्त*

Image may contain: 1 person, smiling, closeup

TOC NEWS

*भोपाल । देश के प्रतिष्ठित और पत्रकारों का सक्रिय संगठन *"जर्नलिस्ट एसोसिएशन ऑफ इंडिया"* "जय" के प्रांतीय अध्यक्ष श्री विनय जी डेविड ने संगठन का विस्तार करते हुए श्री मदन तिवारी को नरसिंहपुर जिले का जिलाध्यक्ष नियुक्त किया गया है। नरसिंहपुर में संगठन के विस्तार के लिए श्री मदन तिवारी जी को अहम जिम्मेदारी सौंपी गई है।

*नरसिंहपुर में शीघ्र ही जिला एवं तहसील कमेटी का गठन किया जाना है।*

*श्री मदन तिवारी* जी को *नरसिंहपुर अध्यक्ष* बनाए जाने पर *जय* परिवार की ओर से हार्दिक शुभकामनाएं एवं बधाई*

*संगठन से जुड़ने के लिए नरसिंहपुर जिले के इच्छुक पत्रकार साथी श्री मदन तिवारी जी से संपर्क कर सदस्यता को प्राप्त कर सकते हैं*

आप भी श्री मदन तिवारी जी को शुभकामनाएं दे सकते हैं संपर्क ~
+91 99 26 887245

जारी
21/11/2017

आपका 
*विनय जी डेविड* 
9893221036
प्रांतीय अध्यक्ष "जय" 
*जर्नलिस्ट एसोसिएशन ऑफ इंडिया "JAI"*
मध्य प्रदेश

 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

TOC NEWS

TOC NEWS

TIOC

''टाइम्स ऑफ क्राइम''

''टाइम्स ऑफ क्राइम''


23/टी -7, गोयल निकेत अपार्टमेंट, जोन-1,

प्रेस कॉम्पलेक्स, एम.पी. नगर, भोपाल (म.प्र.) 462011

फोन नं. - 0755- 4078525,

98932 21036,08305703436

किसी भी प्रकार की सूचना, जानकारी अपराधिक घटना एवं विज्ञापन, समाचार, एजेंसी और समाचार-पत्र प्राप्ति के लिए हमारे क्षेत्रिय संवाददाताओं से सम्पर्क करें।

http://tocnewsindia.blogspot.com




यदि आपको किसी विभाग में हुए भ्रष्टाचार या फिर मीडिया जगत में खबरों को लेकर हुई सौदेबाजी की खबर है तो हमें जानकारी मेल करें. हम उसे वेबसाइट पर प्रमुखता से स्थान देंगे. किसी भी तरह की जानकारी देने वाले का नाम गोपनीय रखा जायेगा.
हमारा mob no 09893221036, 09009844445 & हमारा मेल है E-mail: timesofcrime@gmail.com, toc_news@yahoo.co.in, toc_news@rediffmail.com

''टाइम्स ऑफ क्राइम''

23/टी -7, गोयल निकेत अपार्टमेंट, जोन-1, प्रेस कॉम्पलेक्स, एम.पी. नगर, भोपाल (म.प्र.) 462011
फोन नं. - 0755- 4078525, 98932 21036, 09009844445

किसी भी प्रकार की सूचना, जानकारी अपराधिक घटना एवं विज्ञापन, समाचार, एजेंसी और समाचार-पत्र प्राप्ति के लिए हमारे क्षेत्रिय संवाददाताओं से सम्पर्क करें।





appointment times of crime

appointment times of crime

Followers

add tocn

add tocn
आवश्यकता है ‘‘टाइम्स ऑफ क्राइम’’ भारत के सर्वश्रेष्ठ निर्भीक, निष्पक्ष व खोजपूर्ण साप्ताहिक समाचार पत्र ‘‘टाइम्स ऑफ क्राइम’’ हेतु सम्पूर्ण भारत में नगर/ब्लाक/पंचायत स्तर पर क्षेत्रीय प्रतिनिधियों/संवाददाताओं की आवश्यकता है जो अपने गृह नगर क्षेत्र में समाचार/विज्ञापन/प्रसार सम्बन्धी नेटवर्क का संचालन कर सके। आवेदक के आवासीय क्षेत्र के समीपस्थ स्थानीय नियुक्ति। सम्पूर्ण विवरण योग्यता प्रमाण पत्र, पासपोर्ट आकार के नवीनतम फोटोग्राफ सहित अधिकतम 25.07. 2013 तक डाक/कोरियर द्वारा आवेदन करें।

toc news

Popular Posts

प्रतिनिधियों/संवाददाताओं की आवश्यकता है

review:


म.प्र., छ.ग.के समस्त नगर/ ब्लाक/ ग्राम पंचायत स्तर/ वार्ड में संवाददाता बनाना है


भारत के सर्वश्रेष्ठ निर्भीक, निष्पक्ष व खोजपूर्ण साप्ताहिक समाचार पत्र ‘‘टाइम्स ऑफ क्राइम’’ हेतु सम्पूर्ण भारत में नगर/ब्लाक/पंचायत स्तर पर क्षेत्रीय प्रतिनिधियों/संवाददाताओं की आवश्यकता है जो अपने गृह नगर क्षेत्र में समाचार/विज्ञापन/प्रसार सम्बन्धी नेटवर्क का संचालन कर सके। आवेदक के आवासीय क्षेत्र के समीपस्थ स्थानीय नियुक्ति। सम्पूर्ण विवरण योग्यता प्रमाण पत्र, पासपोर्ट आकार के नवीनतम फोटोग्राफ सहित अधिकतम 30.10. 2016 तक डाक/कोरियर द्वारा आवेदन करें।




टाइम्स ऑफ क्राइम

23/टी-7, गोयल निकेत अपार्टमेंट, पे्रस काम्पलेक्स,

जोन-1, एम. पी. नगर भोपाल (म.प्र.) दूरभाष क्र.-0755-4078525

मोबाइल 098932 21036, 08305703436



आवेदन पत्र का प्रारूप


1. आवेदक का नाम...................................

2. आवेदित पद........................................

3. कार्य क्षेत्र...........................................

4. पिता/पति का नाम .................................

5. जाति, धर्म एवं राष्ट्रीयता...........................

6. जन्म तिथि .........................................

7. वर्तमान तथा स्थायी पता.............................

8. शैक्षणिक योग्यता..................................

9. पूर्व अनुभव(यदि कोई हो).........................

10. फोन/मोबाइल नं..................................

11.आवेदन के तिथि...................................


सहित हस्ताक्षर