Wednesday, September 15, 2010

दुराचार का आरोपी बाबा विकासानंद को मिली सजा

अलग-अलग धाराओं में दस-दस साल का कारावास एवं पैंतीस हजार का ठोंका
प्रतिनिधि // उदयसिंह पटेल (सिहोरा // टाइम्स ऑफ क्राइम)
प्रमुख से सम्पर्क : 93298 48072
अंतत: दुराचारी विकास उर्फ विकासानंद बाबा को उसके गुनाहों की सजा मिल ही गई। उल्लेखनीय है कि विगत 31 अगस्त मंगलवार को फास्ट ट्रेक कोर्ट ने भा।द।वि. की धारा मोटो ग्राफी एक्ट के अन्तर्गत 3 साल के सश्रम कारावास की सजा सुनाई और साथ ही पैंतीस हजार रूपये का जुर्माना भी लगाया गया है। अत: अर्थ दंड की राशि अदा न करने की सूरत में आरोपी को अतिरिक्ति कारावास भुगतना होगा। जानकारी के अनुसार अपर जिला एवं सत्र-न्यायाधीश शकील खान जबलपुर के सक्षम अभियोजना का पक्ष ए.जी.पी. श्रीमती कुक्कू दत्त, डी.के. जैन एवं प्रमोद पाण्डे ने रखा और कोर्ट को अवगत कराया कि मुखबिर की सूचना पर लार्डगंज पुलिस ने विगत 8 मार्च 2006 शाम 4 बजे आरोपी बाबा को होटल सत्य अशोका में नाबालिग युवक-युवतियों के साथ आपत्ति जनक अवस्था में उसे रंगे हाथ गिरफ्तार किया एवं मौके पर मिली अश्लील सीडियां व मादक पदार्थ को जप्त किया है। और पुलिस ने धारा 376, 377, 328 एवं 417 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया।
आरोपी बाबा नशीली भभूति से करता रहा मदमस्त
उक्त मामला विचारण के दौरान अभियोजन साक्षियों के कथनों से सिद्ध हुआ कि बाबा युवक-युवतियों को जो भभूति खिलाता रहा उसमें नाइट्रोजोलाम (ट्रेंक्वोलाइजर) नामक नशीला पदार्थ मिला रहता था, जिसे जीभ में रखते ही नौजवान अपनी सुध-बुध खो बैठते थे। इसके बाद ही आरोपी अपना नापाक खेल शुरू करता था गौरतलब है कि मदमस्त (नशे) की हालत में आरोपी बाबा युवक-युवतियों के साथ जबरन अश्लील अनैतिक तथा अप्राकृतिक यौनाचार करता और उनकी अश्लील फिल्में बनाकर ब्लैकमेल करता था।
एफ.एस.एल. रिपोर्ट ने खोली बाबा की पोल
अभियोजन ने दलील दी कि सागर से आई.एफ.एस.एल. रिपोर्ट से साफ है कि आरोपी बाबा की सिलेटी कलर की भभूति में जगह-जगह सफेद दाने जैसी चीज पाई गई जिसकी तस्दीक नाइट्रो जोलाम के रूप में पहचान की गई है। जो नशीला पदार्थ है, अपराध साबित करने में अभियोजन सफल रहा। गवाहों के बयान तथा अभियोजन के तर्क से दुराचारी के करतूतों से पर्दा उठ गया जिससे आरोपी बाबा विकासानंद को उसके जुर्मों की सजा मिली।

नगरपालिका चन्देरी में बेहिसाव भ्रष्टाचारी

प्रतिनिधि // नरेन्द्र भार्गव (चंदेरी //टाइम्स ऑफ क्राइम) ब्यूरो प्रमुख से सम्पर्क 94257 20540

चन्देरी नगरपालिका परिषद में वेहिसाव भ्रष्टाचारी की जा रही है। रोज नये-नये भ्रष्टाचारी के तरीके जन्म लेते हैं। प्रत्येक नया सी.एम.ओ. अस्थायी कर्मचारियों को बाहर करता है, नये कर्मचारियों को पैसा लेकर निुयक्ति करता है, वेहिसाव हो रहे भ्रष्टाचार को देखकर किसी नागरिक का दिल दहल सकता है वेचारी जनता बेवस है हर वार परिषद के अध्यक्ष, पार्षद, जनता को पागल बनाकर वोट प्राप्त करते है वाद में उसी जनता का वही पार्षद खून चूसते हैं। यही आलम है चन्देरी नगरपाकिा का हमारे क्षेत्र के लोक प्रिय व विकास शील नेता श्रीमंत ज्योतिरादित्य जी सिंधिया ने जनहित के कार्य करने एवं भ्रष्टाचार रोकने हेतु श्री जगभान सिंह यादव को सांसद प्रतिनिधि नियुक्त किया। भ्रष्टाचारी की खबरो से त्रस्त सांसद प्रतिनिधि ने श्रीमान सी.एम.ओ. नगरपालिका से सूचना के अधिकार के तहत कुछ जानकारी मांगी गई, पहले तो सी.एम.ओ. ने आवेदन लेने से ही आना कानी की वाद में लिया तो सांसद प्रतिनिधि से अवशब्दों का प्रयोग किया गया। जव जगभान ने श्रीमंत सिंधिया साहव का नाम लिया तो सी.एम.ओ. ने श्रीमंत सिंधिया को भी नहीं वक्सा और उनके विषय में भी अवशब्द वकने लगा। अन्त में सांसद प्रतिनिधि से बोला तू होता कौन है जा कहदे अपने सिंधिया से हरिजन एक्ट लगवा कर जेल भिजवा दूंगा। ये पहला सी.एम.ओ. आया है जिसने श्रीमंत के खिलाफ अवशब्दों का प्रयोग किया इस तत्काल दण्डित किया जावे।

ट्रक लूटेरा देवास डीएसपी को पथरोटा पुलिस ने किया गिरफ्तार

ब्यूरों प्रमुख// सुरिन्दर सिंह अरोरा (होशंगाबाद// टाइम्स ऑफ क्राइम)
ब्यूरों प्रमुख से सम्पर्क : 99939 93300
नेशनल हाइवे 69 की आईटीआई के पास ट्रक के ड्राइवर और ट्रक लूटने वाले फर्जी देवास डीएसपी को पथरोटा पुलिस ने केवलारी से गिरफ्तार किया।

पथरोटा थाना प्रभारी आरएस चौहान ने बताया कि गत दिनों स्कार्पियो में लालबत्ती लगाकर खुद को डीएसपी व अन्य पुलिस अधिकारी बताकर ट्रक और ड्राइवर से लूटपाट करने वाले सचिन नाग की पूछताछ के लिए ससुराल पहुंची तो उसके साले प्रेमकुमार पिता रमेश प्रसाद झारिया 30 वर्ष को केवलारी से गिरफतार कर साथ लायी और यहां फरियादी से उसकी शिनाख्त कराई। चालक ओमप्रकाश पिता गणेश गोड़ निवासी परासिया ने उसे फर्जी डीएसपी में पहचान लिया है।उन्होनें बताया कि आरोपी को गिरफतार करने के बाद उसने जीजा सचिन नाग के अलावा अन्य साथियों के नाम भी बताए। उसने बताया कि जीजा ने सारणी और छिंदवाड़ा में फायनेंस कंपनी में काम कर लोगों को चूना लगाया था। उसके साथी ने पुलिस बनकर 6 अगस्त 2010 की रात 11 बजे मंडीदीप से सारणी जा रहे ट्रक को आईटीआई के पास रोककर चालक से कहा कि तुम टक्कर मारकर भागे हो। इसके बाद ड्राइवर से 22 हजार रूपए और ट्रक सीहोर ले गए। वहां पर उन्हें लाज में रूकवाकर भाग गए। इसके बाद फरियादी ने पथरोटा थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। जब आरोपियों की खोजबीन की गई तो पता चला कि जीजा-साले सहित अन्य साथियों ने इस वारदात को अंजाम दिया था। पुलिस ने डीएसपी बने आरोपी प्रेमकुमार को पकड़ लिया है। उसके जीजा सचिन नाग छिंदवाड़ा के चार साथी बंटी, अली, सोनू और सुरेश उर्फ सुरेन्द्र की सरगर्मियों से तलाश जारी है।

फर्जी चिकित्सक को 3 साल की कैद

जिला प्रतिनिधि // डी. जी. चौरे(बालाघाट // टाइम्स ऑफ क्राइम)जिला प्रतिनिधि से सम्पर्क 93023 02479 - फर्जी डिग्री के जरिये लोगो का इलाज करना एक चिकित्सक को मंहगा पड़ गया बालाघाट के विद्ववान मुख्य न्यायिक मजिस्टेड ने फर्जी डिग्री के आधार पर लापरवाही पूर्वक उपचार करने वाले आरोपी डॉक्टर प्रेमलाल दमाहे भा.द.वि. की धारा 420 अंतर्गत दोशी मानते हुये 3 साल की कठोर कारावास तथा धारा 471 के अंतर्गत 3 वर्श के कठोर कारावास एंव धारा 338 के अतंर्गत 1 वर्श के कठोर कारावास के दंड से दण्डित किया है। अभियोजन के अनुसार दिनांक 09/07/1998 को आरोपी डॉ. प्रेमलाल दमाहे द्वारा गा्रम धंसा में बाया बाई नामक महिला का लापरवाही पूर्वक उपचार किया तथा बाया बाई को सर्दी खांसी बुखार होने पर उसे गलत इजेंक्षन लगाया जिससे बाया बायी के शरीर मे खुजली होने लगी तकलीफ बढऩे पर उसका उपचार गोंदिया में कराया गया। पंरतु उसे आराम नही लगा। तथा उसकी आंखे स्थायी रूप से खराब हो गई। एंव उसके पैर भी खराब हो गये घटना की रिपोर्ट थाना बहेला में की गई।आरोपी के विरूद्ध पुलिस द्वारा प्रकरण दर्ज कर आरोपी की डिग्री जप्त की गयी जो विवेचना के द्वारा जांच किये जाने पर फर्जी पायी गयी। पूर्व में प्रकरण का निरकारण करते हुये मुख्य न्यायिक मजिस्टेड द्वारा आरोपी को उसकी चिकित्सीय डिग्री न्यायालय में फर्जी प्रमाणित न होने पर दोश मुक्त कर दिया। आरोपी के दोशमुक्त के विरूद्ध अभियोजन द्वारा प्रथम अपर सत्र न्यायाधीश के न्यायालय मे अपील प्रस्तुत की गयी। अपील के निराकरण में प्रकरण पुन: विचारण माननीय न्यायालय को प्रेशित किया गया। पुन: विचारण आंरभ होने पर अभियोजन द्वारा दिनांक 08/02/2010 को जगदीश प्रसाद दुरजर रजिस्ट्रार राज्य होम्योपैथिक परिसर भोपाल के बयान न्यायालय के समक्ष कराये गये ।जिससे उन्होनें आरोपी डॉ. की डिग्री फर्जी कुट रचित प्रमाणित किया । माननीय न्यायालय द्वारा आरोपी के विरूद्ध डिग्री के आधार पर लापरवाही पूर्वक इलाज किये जाने का मामला सिद्ध पाये जाने पर भा.द.वि की धारा 420 के अंतर्गत 3 वर्श के कठोर कारावास एंव 1,000 हजार रूपये जुर्माना तथा धारा 338 के अंतर्गत 1 वर्श के कठोर दंड से दडिंत किया । प्रकरण में अभियोजन के ओर से जिला अभियोजन अधिकारी विजय कुमार उइके, सहायक जिला अभियोजन अधिकारी रामेष्वर कुंभरे व अमित राय द्वारा पैरवी की गई। उक्ताशय की जानकारी प्रेस विज्ञप्ति में सहायक अभियोजन अधिकारी द्वारा दी गयी।

dhamaal Posts

जिला ब्यूरो प्रमुख / तहसील ब्यूरो प्रमुख / रिपोर्टरों की आवश्यकता है

जिला ब्यूरो प्रमुख / तहसील ब्यूरो प्रमुख / रिपोर्टरों की आवश्यकता है

ANI NEWS INDIA

‘‘ANI NEWS INDIA’’ सर्वश्रेष्ठ, निर्भीक, निष्पक्ष व खोजपूर्ण ‘‘न्यूज़ एण्ड व्यूज मिडिया ऑनलाइन नेटवर्क’’ हेतु को स्थानीय स्तर पर कर्मठ, ईमानदार एवं जुझारू कर्मचारियों की सम्पूर्ण मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ के प्रत्येक जिले एवं तहसीलों में जिला ब्यूरो प्रमुख / तहसील ब्यूरो प्रमुख / ब्लाक / पंचायत स्तर पर क्षेत्रीय रिपोर्टरों / प्रतिनिधियों / संवाददाताओं की आवश्यकता है।

कार्य क्षेत्र :- जो अपने कार्य क्षेत्र में समाचार / विज्ञापन सम्बन्धी नेटवर्क का संचालन कर सके । आवेदक के आवासीय क्षेत्र के समीपस्थ स्थानीय नियुक्ति।
आवेदन आमन्त्रित :- सम्पूर्ण विवरण बायोडाटा, योग्यता प्रमाण पत्र, पासपोर्ट आकार के स्मार्ट नवीनतम 2 फोटोग्राफ सहित अधिकतम अन्तिम तिथि 30 मई 2019 शाम 5 बजे तक स्वंय / डाक / कोरियर द्वारा आवेदन करें।
नियुक्ति :- सामान्य कार्य परीक्षण, सीधे प्रवेश ( प्रथम आये प्रथम पाये )

पारिश्रमिक :- पारिश्रमिक क्षेत्रिय स्तरीय योग्यतानुसार। ( पांच अंकों मे + )

कार्य :- उम्मीदवार को समाचार तैयार करना आना चाहिए प्रतिदिन न्यूज़ कवरेज अनिवार्य / विज्ञापन (व्यापार) मे रूचि होना अनिवार्य है.
आवश्यक सामग्री :- संसथान तय नियमों के अनुसार आवश्यक सामग्री देगा, परिचय पत्र, पीआरओ लेटर, व्यूज हेतु माइक एवं माइक आईडी दी जाएगी।
प्रशिक्षण :- चयनित उम्मीदवार को एक दिवसीय प्रशिक्षण भोपाल स्थानीय कार्यालय मे दिया जायेगा, प्रशिक्षण के उपरांत ही तय कार्यक्षेत्र की जबाबदारी दी जावेगी।
पता :- ‘‘ANI NEWS INDIA’’
‘‘न्यूज़ एण्ड व्यूज मिडिया नेटवर्क’’
23/टी-7, गोयल निकेत अपार्टमेंट, प्रेस काम्पलेक्स,
नीयर दैनिक भास्कर प्रेस, जोन-1, एम. पी. नगर, भोपाल (म.प्र.)
मोबाइल : 098932 21036


क्र. पद का नाम योग्यता
1. जिला ब्यूरो प्रमुख स्नातक
2. तहसील ब्यूरो प्रमुख / ब्लाक / हायर सेकेंडरी (12 वीं )
3. क्षेत्रीय रिपोर्टरों / प्रतिनिधियों हायर सेकेंडरी (12 वीं )
4. क्राइम रिपोर्टरों हायर सेकेंडरी (12 वीं )
5. ग्रामीण संवाददाता हाई स्कूल (10 वीं )

SUPER HIT POSTS

TIOC

''टाइम्स ऑफ क्राइम''

''टाइम्स ऑफ क्राइम''


23/टी -7, गोयल निकेत अपार्टमेंट, जोन-1,

प्रेस कॉम्पलेक्स, एम.पी. नगर, भोपाल (म.प्र.) 462011

Mobile No

98932 21036, 8989655519

किसी भी प्रकार की सूचना, जानकारी अपराधिक घटना एवं विज्ञापन, समाचार, एजेंसी और समाचार-पत्र प्राप्ति के लिए हमारे क्षेत्रिय संवाददाताओं से सम्पर्क करें।

http://tocnewsindia.blogspot.com




यदि आपको किसी विभाग में हुए भ्रष्टाचार या फिर मीडिया जगत में खबरों को लेकर हुई सौदेबाजी की खबर है तो हमें जानकारी मेल करें. हम उसे वेबसाइट पर प्रमुखता से स्थान देंगे. किसी भी तरह की जानकारी देने वाले का नाम गोपनीय रखा जायेगा.
हमारा mob no 09893221036, 8989655519 & हमारा मेल है E-mail: timesofcrime@gmail.com, toc_news@yahoo.co.in, toc_news@rediffmail.com

''टाइम्स ऑफ क्राइम''

23/टी -7, गोयल निकेत अपार्टमेंट, जोन-1, प्रेस कॉम्पलेक्स, एम.पी. नगर, भोपाल (म.प्र.) 462011
फोन नं. - 98932 21036, 8989655519

किसी भी प्रकार की सूचना, जानकारी अपराधिक घटना एवं विज्ञापन, समाचार, एजेंसी और समाचार-पत्र प्राप्ति के लिए हमारे क्षेत्रिय संवाददाताओं से सम्पर्क करें।





Followers

toc news