Saturday, June 30, 2018

श्रमिकों और गरीबों के अब तक 17 करोड़ के बिजली बिल माफ


TOC NEWS @ www.tocnews.org
नरसिंहपुर, 30 जून 2018. बैठक में विद्युत वितरण कम्पनी के अधीक्षण यंत्री एके चौबे ने जानकारी दी कि मुख्यमंत्री जनकल्याण- संबल योजना के तहत मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम 2018 के अंतर्गत सभी असंगठित श्रमिक एवं बीपीएल कार्डधारक उपभोक्ता पात्र हैं।
इस योजना में 30 जून 2018 को उपभोक्ता द्वारा बिजली बिल की देय मूल बकाया राशि एवं सरचार्ज की सम्पूर्ण राशि माफ की जायेगी। उन्होंने बताया कि जिले में विभिन्न स्थानों, ग्राम पंचायतों आदि में 20 जून से शिविर लगाकर बिजली बिल माफी का कार्य किया जा रहा है। जिले में अब तक असंगठित श्रमिकों और बीपीएल कार्डधारक पात्र बिजली उपभोक्ताओं के 17 करोड़ रूपये के बिजली के बिल माफ किये जा चुके हैं।
जिला सीईओ जिला पंचायत श्री अहिरवार ने बताया कि मनरेगा के अंतर्गत नरसिहपुर जिले में जून 2018 तक 10 लाख 6 हजार 901 मानव दिवस रोजगार सृजित किया जा चुका है, जो प्रदेश में सर्वाधिक है। सांसद ने मनरेगा का भुगतान समय पर सुनिश्चित करने पर बल दिया। कृषि विभाग के अधिकारी डॉ. आरएन पटैल ने बताया कि चालू खरीफ मौसम में जिले में खाद एवं बीज की पर्याप्त उपलब्धता है। जिले में 14 हजार 294 टन उर्वरक का भंडारण है, इसमें से 9 हजार 134 टन उर्वरक का वितरण किया जा चुका है।
भंडारित उर्वरक में यूरिया, डीएपी, काम्लेक्स, पोटाश व एसएसपी शामिल हैं। जिले में 20 हजार 895 क्विंटल बीज उपलब्ध है और 13 हजार 75 क्विंटल बीज का वितरण किया जा चुका है। खाद- बीज वितरण सतत चालू है। मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना के अंतर्गत रबी विपणन वर्ष 2017- 18 में गेहूं एवं धान के लिए 19 हजार 475 किसानों को 30 करोड़ 98 लाख रूपये की राशि का भुगतान किया गया।
रबी विपणन वर्ग 2018- 19 में 10 जून को गेहूं की 34 करोड़ 10 लाख रूपये की राशि 19 हजार 54 किसानों के खातों में भुगतान की जा चुकी है। इस तरह इस योजना में जिले के कुल 38 हजार 529 किसानों को 65 करोड़ 8 लाख 87 हजार 778 रूपये का भुगतान किया जा चुका है। भावांतर भुगतान योजना में जिले के 23 हजार 690 किसानों को 46 करोड़ 10 लाख 20 हजार 203 रूपये का भुगतान किया जा चुका है।

कृषि तथा कृषकों के उत्थान हेतु प्रधानमंत्री के नाम हक रक्षक दल (HRD) का खुला खत

सेवारत हक रक्षक दल (HRD) के लिए इमेज परिणाम
TOC NEWS @ www.tocnews.org
माननीय प्रधान मंत्री जी, जैसा कि आप जानते हैं कि प्रत्येक 10 साल में सरकारी कर्मचारी-अधिकारियों के वेतन-भत्तों और पेंशन को संशोधित करने से पहले वेतन आयोग द्वारा देश और विदेशों में घूम-घूम कर विदेशी सरकारी कर्मचारी-अधिकारियों के वेतन-भत्तों और उन्हें मिलने वाली सुविधाओं का सरकारी खर्चे पर विस्तृत अध्ययन किया जाता है।
 
तदोपरांत वेतन आयोग वेतन, भत्ते, सुविधा और पेंशन के बारे में अपनी अनुशंसा करता है। जिसके अनुरूप सरकार वेतन-भत्तों और पेंशन को संशोधित करती हैं। इसके बाद भी अनेक सरकारी कर्मचारी-अधिकारी असंतोष व्यक्त करते हुए देखे जा सकता हैं।
 
माननीय प्रधान मंत्री जी, दूसरी ओर यहां पर हम सब के लिये यह महत्वपूर्ण तथ्य विचारणीय है कि सभी कर्मचारी-अधिकारी और पेंशनर, उन्हें मिलने वाले वेतन, भत्तों और पेंशन के जरिये अपने घर-परिवार और जीवन संचालित करते हैं। सबसे महत्वपूर्ण तथ्य वे सब के सब खाने के लिये भोजन, सब्जी, दूध, दही, छाछ, मावा आदि अनेकानेक कृषि आधारित खाद्य और पेय पदार्थ बाजार से क्रय करते हैं। जो सभी कृषकों द्वारा उत्पादित किये जाते हैं।
 
माननीय प्रधान मंत्री जी, यह सर्व-स्वीकार्य हकीकत है कि भारत जैसे कृषि प्रधान देश में शतप्रतिशत लोगों का जीवन कृषि पर आधारित है। कृषि उत्पादों के बिना लोगों का जिंदा रहना असंभव है। इसके बावजूद भी कृषकों के हालातों को सुधारने के लिये किसी भी सरकार ने ऐसी कोई परिणामदायी स्थायी व्यवस्था निर्मित नहीं की गयी है, जिसके तहत कर्मचारी-अधिकारियों के हितों की भांति भारत के कृषकों के हितों के संरक्षण हेतु विदेशों में जाकर, वहां के कृषकों का अध्ययन किया जाकर भारत में कृषि एवं यहां के कृषकों के उत्थान के लिये पुख्ता व्यवस्था की जा सके। क्या यह कृषि प्रधान भारत के कृषकों और कृषि के साथ खुला अन्याय नहीं है?
 
माननीय प्रधान मंत्री जी, जैसा कि आप जानते हैं कि सबको अन्न उपलब्ध करवाने वाला कृषक आत्महत्या करने को विवश है। इस गंभीर स्थिति का आपकी पार्टी के अनेक उच्च पदस्थ नेताओं के द्वारा घोर आपत्तिजनक तरीके से अपमान किया जाता रहा है। आपकी सरकार भी 4 साल का कार्यकाल पूर्ण कर चुकी है, लेकिन किसान की स्थिति यथावत है। किसान आप और आपकी सरकार से भी पूरी तरह से नाउम्मीद हो चुका है। परिणामस्वरूप किसानों की दशा बद से बादतर होती जा रही है।
 
अत: माननीय प्रधान मंत्री जी, किसानों सहित सभी वंचित समुदायों के हितों के संरक्षण तथा संविधान एवं लोकतंत्र की रक्षा हेतु देशभर में सेवारत हक रक्षक दल (HRD) सामाजिक संगठन के लाखों समर्थकों एवं सदस्यों की ओर से आपको याद दिलाया जाता है कि प्रधानमंत्री के रूप में किसानों की हिफाजत करना आपका संवैधानिक दायित्व है। जिसमें आप गत 4 साल में पूरी तरह से असफल रहे हैं। कृपया आप कृषि एवं किसान के हालातों पर विचार कीजिये, अन्यथा देशभर के किसान को मजबूरन सड़क पर उतरने को विवश होना पड़ सकता है? यदि ऐसा हुआ तो सभी लोकतांत्रिक सरकारों के लिये स्थिति को संभालना बहुत मुश्किल हो जायेगा।
 
माननीय प्रधान मंत्री जी, अंत में यह और कि 'हमारा मकसद साफ! सभी के साथ इंसाफ!' जय भारत! जय संविधान! नर, नारी सब एक समान! जैसे आदर्श वाक्यों की भावना में विश्वास करने वाले हक रक्षक दल की ओर से इस खुले खत के माध्यम से हालातों से अवगत करवाकर आप से उम्मीद है कि आप अविलम्ब कृषि एवं किसानों के संरक्षण के बारे में न्यायसंगत निर्णय लेकर इतिहास रचने का अवसर नहीं गंवायेंगे?
 
डॉ. पुरुषोत्तम मीणा 'निरंकुश', राष्ट्रीय प्रमुख-हक रक्षक दल (HRD) सामाजिक संगठन, जयपुर, राजस्थान, 30.06.2018, 9875066111

गाडरवारा : ग्रामीण अंचल में विद्युत बिल माफी शिविर आयोजित

गाडरवारा : ग्रामीण अंचल में विद्युत बिल माफी शिविर आयोजित

TOC NEWS @ www.tocnews.org
व्यूरो चीफ गाडरवारा // अरूण श्रीवास्तव : 8120754889
गाडरवारा। मध्यप्रदेश पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा संबल योजना के अंतर्गत विद्युत सरल बिल योजना के शिविरों का आयोजन संभागीय कार्यपालन अधिकारी अभिषेक शुक्ला की उपस्थिति में ग्रामीण क्षेत्रों में आयोजित किये जा रहे है जो 10 जुलाई तक लगेगा।
बीते गुरूवार को ग्राम टिमरावन, महंगवाकलां, गांगई, उकासघाट, खमरिया, मढगुला, रम्पुरा, डुगरिया, नरसरा, भूमियाढाना में शिविर आयोजित किये गये।  
इस अवसर पर करीब 979 पात्र हितग्राहियों के आवेदन प्राप्त हुए। शिविर में 90 लाख 14 हजार रूपया की विद्युत बकाया राशि माफ करके उन्हे शून्य विद्युत बिल किया गया। विद्युत विभाग द्वारा ग्रामीण अंचलों में लगाये जा रहे शिविरों में पात्र हितग्राहियों में विद्युत माफी बिलों को लेकर जागरूकता देखी जा रही है। इन शिविरों में परीक्षण सहायक मनोज नगाईच, आशीष गढ़ेवाल, रजनीश कौरव, दीपक चौरसिया, अभिषेक भुसारी, कंधीलाल परते, तेजबहादुर थापा, लखनलाल जाटव, प्रदीप मलगाम, नेतराम अहिरवार उपस्थित रहे।
 

किराना दुकान में चोरी करते चोर सीसी टीवी कैमरे में कैद, लाखों का माल किया पार, पुलिस के हाथ फिर भी खाली


TOC NEWS @ www.tocnews.org
व्यूरो चीफ गाडरवारा // अरूण श्रीवास्तव : 8120754889
गाडरवारा/सालीचौका। नगर में बढ़ती चोरी की बारदाते और चोरो द्वारा मेन बजारों की बड़ी-बड़ी दुकानों को निषाना बनाकर चोरी की घटनाओं को अनजाम दे रहे है। जिससे पुलिस के रात्रि गस्त पर सवालिया निषान लग रहे है।
 
षुक्रवार की रात्रि में चोरो द्वारा कपड़ा बाजार मुख्य मार्ग पर स्थित मनोज तुलसानी की किराना दुकान पर ऊपर का टीन सेट खोलकर नगदी समेत लाखों का माल पार कर दिया। दुकान के अंदर लगे सीसी टीबी कैमरे में रात्रि तीन बजकर पचपन मिनिट पर एक युवक दुकान के अंदर चोरी करता दिख रहा है। किराना दुकान संचालक ने नगदी समेत कीमती सामग्री चोरी होने की षिकायत दर्ज कराई है इस बारदात से स्थानीय व्यापारियों में दहषत का माहौल है।
 
पूर्व में दर्जनों बड़ी चोरियों का खुलासा अभी तक नहीं हुआ वहीं सीसी टीबी की फुटेज को लेकर पुलिस आस-पास के ग्रामों में उक्त चोर की षिनाख्त करने में लगी हुई है। लेकिन पुलिस के हाथ चोर नहीं लगे। वहीं संदेह के चलते स्थानीय कुछ लोगों को उठाकर पुलिस पूछतास कर रही है। लकिन पुलिस के हाथ फिर भी खाली है। लोगों ने यह भी अंदेषा जताया है, कि नगर के कुछ अपराधिक किस्म के लोगों द्वारा बाहर  से लोगों को बुलाकर चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है। 
   
गाडरवारा नगर एवं क्षेत्र मे ंवड़ रही चोरी की घटनाओ के संबंध में नवागत गाडरवारा थाना प्रभारी संजय दुबे से वात की तो उन्होने कहा कि क्षेत्र में हो रहे अपराधो को रोकने के लिए पुलिस अधिक्षक नरसिंहपुर के निर्देष एवं एसडीओपी सुमित केरकट्टा के मार्ग दर्षन में एक अभियान चलाकर ऐसी घटनाए रोकने की भरपूर प्रयास करेगी।
 
उन्होने सालीचौका में हुई किराने व्यापारी के यहा चोरी के संबंध में कहा कि हमारी पुलिस टीम तत्परता से चोरो की खोजवीन कर रही है। जल्द ही चोरो को पकड़ लिया जायेगा।

मंदसौर रेप केस में कई चौंका देनेवाली बातें आयीं सामने, दूसरा आरोपी भी पुलिस की गिरफ्त में

TOC NEWS @ www.tocnews.org
मंदसौर : जिले में आठ साल की मासूम के साथ हुई ‘निर्भया’ जैसी दरिंदगी के मामले में एक और चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। पुलिस जांच में पता चला है कि आरोपियों ने वारदात को अंजाम देने के लिए पहले से स्कूल पर नजर रखी हुई थी और इसके लिए बाकायदा पूरी प्लानिंग भी की थी। इतना ही नहीं वारदात को अंजाम देने के लिए आरोपियों ने जानबूझ कर मासूम को चुना था, ताकि वो रेप का विरोध नहीं कर सके।
जिंदगी से जंग लड़ रही मासूम
अस्पताल में मासूम की हालत नाजुक बनी हुई है। अब तक डॉक्टर उसकी कई सर्जरियां कर चुके हैं। पुलिस के मुताबिक आरोपियों ने बच्ची से गैंगरेप के बाद काफी देर उन चीजों की तलाश की जिससे उसके प्राइवेट पार्ट्स को नुकसान पहुंचाया जा सके।
ऐसे हुआ दूसरे आरोपी का खुलासा
पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दूसरे आरोपी को भी अरेस्ट कर लिया है। एसपी मनोज सिंह ने बताया कि, ‘स्कूल के ही एक बच्चे ने लड़की को किडनैप करने वाले दूसरे आरोपी को देखा था। बच्चे ने बताया कि वह नारंगी टी-शर्ट पहने हुए था। सीसीटीवी फुटेज में इरफान को नीले रंग की शर्ट पहने देखा गया था। पूछताछ के दौरान इरफान ने स्वीकार किया कि उसने अपने साथी आसिफ के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम देने के लिए साजिश रची थी।

बच्ची को ऐसे फंसाया जाल में
आरोपियों ने बताया कि करीब पांच बजे आसिफ स्कूल के गेट के पास घूमने लगा और मासूम बच्ची पर नजर रखने लगा। उसने कैंडी और स्नैक्सि देकर उसे लालच दिया कि अगर वह उसके साथ चलेगी तो और ज्यादा मिलेगा। बच्ची आसिफ के साथ चल दी और बाद में इरफान भी उसके साथ मिल गया। वे लोग बच्ची को एक सुनसान जगह पर ले गए, जहां करीब दो घंटे तक आसिफ ने उसके साथ गैंगरेप किया और फिर इरफान ने बर्बरता की शुरुआत की। इसके बाद उन्होंने बच्ची का गला काट दिया और मरने के लिए छोड़ दिया।
MP की एक ही आवाज ‘आरोपी को फांसी दो’
घटना के बाद पूरे राज्य में आक्रोश फैला हुआ है। जनता सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन करते हुए सरकार से एक ही मांग कर रही है कि आरोपियों को फांसी दो।
दरिंदों को CM दिलाएंगे फांसी
सीएम शिवराज ने इस घटना पर दुख जताते आरोपियों को दरिंदा करार दिया है। उन्होंने कहा कि ‘ये दरिंदे धरती पर बोझ हैं, ये धरती पर जीवित रहने के लायक नहीं हैं।’ उन्होंने कहा, ‘बलात्कार के मामलों में हमने प्रदेश में फास्ट ट्रैक अदालत में कार्यवाही करने के प्रावधान किए हैं। सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट से भी इस प्रकार के प्रावधान करने का अनुरोध किया है ताकि इस तरह के अपराध करने वाले आरोपियों के खिलाफ शीघ्र अदालती कार्यवाही कर उन्हें फांसी की सजा दी जा सके’।

आखिरकार बाजार में नीलाम हुआ माल्या का यह आलीशान जेट,जानें क्या हैं खूबियां

आखिरकार बाजार में नीलाम हुआ माल्या का यह आलीशान जेट,जानें क्या हैं खूबियां के लिए इमेज परिणाम
TOC NEWS @ www.tocnews.org
आखिरकार भगोड़े विजय माल्या का आलीशान लग्जरी जेट नीलाम हो ही गया। माल्या का लग्जरी जेट 34.08 करोड़ रुपये में बिका। दरअसल, कानूनी अड़चनों के बाद माल्या के प्राइवेट जेट की तीन बार नीलामी की गई, लेकिन हर बार किसी न किसी कारण से यह पूरी नहीं हो सकी।
माल्या के VIP जेट को मिला नया मालिक
बता दें कि बैंक का हजारों करोड़ रुपए का कर्ज लेकर देश से फरार माल्या का लग्जरी प्राइवेट जेट हमेशा सुर्खियों में रहा है। ऐशो-आराम की सभी सुविधाओं से लैस इस जेट का रजिस्ट्रेशन नंबर भी वीआइपी है। लेकिन अब A319-133C VT-VJM MSN 2650 रजिस्ट्रेशन नंबर वाले वीआइपी जेट को उसका नया मालिक मिल गया है।
अमेरिका की इस कंपनी ने खरीदा विमान
अमेरिका बेस्ड विमानन कंपनी ‘एविएशन मैनेजमेंट सेल्स’ ने विजय माल्या का ये प्राइवेट जेट खरीदा है। उच्चतम बोली बॉम्बे हाईकोर्ट की मंजूरी के अधीन है। दरअसल, जेट को खरीदने के लिए अमेरिकी कंपनी ने 5.05 मिलियन डॉलर की बोली लगायी, जो पिछली बार सर्विस टैक्स डिपार्टमेंट द्वारा करायी गई ई-नीलामी की बोली की रकम से काफी ज्यादा है। बता दें कि नीलामी की शुरुआत ही 1.9 मिलियन डॉलर से की गई। गौरतलब है कि ये नीलामी कारोबारी विजय माल्या की किंगफिशर एयरलाइंस पर बकाया सर्विस टैक्स की रिकवरी के तहत की गई थी।

मध्य प्रदेश : रेप पीड़िता से मिलने पहुंचे भाजपा नेता, कहा- सांसद जी को धन्यवाद बोलिए

मध्य प्रदेश : रेप पीड़िता से मिलने पहुंचे भाजपा नेता, कहा- सांसद जी को धन्यवाद बोलिए के लिए इमेज परिणाम
TOC NEWS @ www.tocnews.org
मध्य प्रदेश के मंदसौर में 7 साल की मासूम के साथ हुई हैवानियत को लेकर पूरा देश उबाल पर है। लोग आरोपियों को सख्त से सख्त सजा देने की मांग कर रहे हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी शुक्रवार को अस्पताल में फोन कर डॉक्टरों से बच्ची का हालचाल जाना। उन्होंने आरोपियों को फांसी की सजा देने की भी मांग की है। लेकिन उन्ही के विधायक इस मामले में भी राजनीति करने से बाज नहीं आ रहे हैं।
दरअसल, शुक्रवार को मंदसौर के बीजेपी सांसद सुधीर गुप्ता बच्ची का हालचाल जानने अस्पताल गए थे। वहां उन्होंने डॉक्टरों से बच्ची की तबीयत के बारे में पूछा और बच्ची के परिवार से भी मुलाकात की। इस दौरान सांसद के साथ बीजेपी विधायक सुदर्शन गुप्ता भी थे। उन्होंने शर्मनाक राजनीति का नमूना पेश करते हुए बच्ची के माता-पिता से कहा कि वो मंदसौर के सांसद जी को धन्यवाद बोलें, क्योंकि वह स्पेशल उनसे ही मिलने अस्पताल आए हैं।

हैवानियत का दूसरा आरोपी भी गिरफ्तार

बता दें कि मासूम के साथ हैवानियत की सारी हदें पार करने वाले दूसरे आरोपी को भी पुलिस ने शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने उसकी पहचान आसिफ के रूप में की है। फिलहाल उससे पूछताछ चल रही है। उसके बाद उसे कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा।
इससे पहले पुलिस ने एक आरोपी इरफान खान को बुधवार को ही गिरफ्तार कर लिया था। उसकी गिरफ्तारी सीसीटीवी फुटेज के आधार पर की गई थी। फुटेज में वह बच्ची को अपने साथ ले जाता दिखाई दे रहा था। आरोपी इरफान खान को 2 जुलाई तक रिमांड पर लिया गया है। उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।

जिंदगी और मौत से जूझ रही है बच्ची

बच्ची इस समय इंदौर के अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच झूल रही है। घटना से मंदसौर और आसपास के इलाकों के लोगों में भारी आक्रोश है। शुक्रवार को नीमच और रतलाम बंद रहा जबकि बृहस्पतिवार को मंदसौर बंद था। कई संगठनों ने दरिंदे को फांसी देने की मांग को लेकर जुलूस भी निकाले। यह संगीन मामला बुधवार का है। पुलिस के अनुसार, मंदसौर के एक प्राइवेट स्कूल की कक्षा तीसरी की बच्ची मंगलवार शाम से लापता थी। उसकी दादी ने दिन में 12 बजे स्कूल छोड़ा था, शाम को छुट्टी के 15 मिनट बाद पिता लेने पहुंचे तो वह नहीं मिली। तमाम जगह तलाशने के बाद जब पता नहीं चला तो रात को कोतवाली पुलिस को खबर की गई।
बुधवार सुबह करीब साढ़े 11 बजे कंदोया गली के रहने वाले नरेंद्र सोनी ने बच्ची को एक नाले के पास झाड़ियों से बाहर निकलते देखा। वह ठीक से चल नहीं पा रही थी। चेहरा लहूलुहान था और शरीर पर कई घाव थे। पुलिस उसे जिला अस्पताल लेकर गई, जहां से बच्ची को इंदौर के सरकारी एमवाई अस्पताल रेफर कर दिया गया। गंभीर हालत देखते हुए बुधवार रात को ही उसके कई ऑपरेशन किए गए।
एमवाई अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि बच्ची की हालत देखकर वे भी अंदर से हिल गए थे। बच्ची का रैक्टम बुरी तरह फट गया था और आंतें बाहर आ गई थीं। चेहरे पर घाव थे, जिन्हें ढकने के लिए ल्यूकोप्लास्टी की गई है। पीड़िता के साथ उसके माता-पिता हैं। पुलिस के गार्ड भी तैनात हैं। एमवाईएच के डॉ. बृजेश लाहोटी के अनुसार, बच्ची की हालत स्थिर है। 
इस बीच पीड़िता के पिता ने कहा, ‘मैं चाहता हूं कि आरोपी को चौराहे पर सबके सामने फांसी दी जाए। हमारी आत्मा को शांति तभी मिलेगी। मैं अपनी बेटी को खोना नहीं चाहता हूं।’ उन्होंने बच्ची का इलाज इंदौर के बॉम्बे अस्पताल में कराने की गुहार भी लगाई। इस बीच, मामले की जांच के लिए 15 अधिकारियों की टीम बनाई गई है। यह टीम सात दिन में डीएनए टेस्ट कराके 20 दिन के भीतर चालान पेश कर देगी।

बच्ची के जख्मों को देख कांप गए डॉक्टर

एमवाई अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि बच्ची की हालत देखकर वे भी अंदर से हिल गए थे। बच्ची का रैक्टम बुरी तरह फट गया था और आंतें बाहर आ गई थीं। चेहरे पर घाव थे, जिन्हें ढकने के लिए ल्यूकोप्लास्टी की गई है। पीड़िता के साथ उसके माता-पिता हैं। पुलिस के गार्ड भी तैनात हैं। एमवाईएच के डॉ. बृजेश लाहोटी के अनुसार, बच्ची की हालत स्थिर है।

हैवान को चौराहे पर दी जाए फांसी : पिता

इस बीच पीड़िता के पिता ने कहा, ‘मैं चाहता हूं कि आरोपी को चौराहे पर सबके सामने फांसी दी जाए। हमारी आत्मा को शांति तभी मिलेगी। मैं अपनी बेटी को खोना नहीं चाहता हूं।’ उन्होंने बच्ची का इलाज इंदौर के बॉम्बे अस्पताल में कराने की गुहार भी लगाई। इस बीच, मामले की जांच के लिए 15 अधिकारियों की टीम बनाई गई है। यह टीम सात दिन में डीएनए टेस्ट कराके 20 दिन के भीतर चालान पेश कर देगी।

मंदसौर में हुई घटना के विरोध में बंद रहा पिपलिया, रैली निकालकर सौंपा ज्ञापन, हत्यारे को फांसी की मांग


संबंधित इमेज

TOC NEWS 

मंदसौर में मासूम के साथ हुई हैवानियत की घटना के विरोध में गुरुवार को सामाजिक संगठनों व गणमान्य नागरिकों के आव्ह्ान पर पिपलिया बंद रहा। शाम को जुलूस निकालकर ज्ञापन सौंपा। जानकारी के अनुसार सुबह से ही सामाजिक संगठनों से जुड़े लोग गांधी चौराहे पर एकत्रित हुए, नारेबाजी की व मासूम के साथ अमानवीय कृत्य करने वाले युवक को फांसी की सजा देने की मांग की। 

सुबह कुछ देर बाजार खुला, लेकिन विरोध के बाद धड़ाधड़ दुकानें बंद हो गई। दिनभर बाजार बंद रहा। पुलिस गश्त करती रही। शाम को 3 बजे करीब विभिन्न संगठनों ने टीलाखेड़ा बालाजी मंदिर से नारेबाजी के साथ जुलूस निकाला, जो मुख्य मार्ग होता हुआ गांधी चौराहा पहंुचा, यहां मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार को दिये ज्ञापन का वाचन रामलाल राठौर ने करते हुए हत्यारे को फांसी की सजा दी जाए। 

इस अवसर पर श्यामलाल जोकचन्द्र, मोहनलाल गुप्ता, राजेन्द्र भारद्वाज, अनिल शर्मा, रुपचंद होतवानी, सुनील देवरिया, शिवलाल सोलंकी, भरत जोशी, भंवर राठौर, बलराम सोलंकी, एम सय्यद मंसूरी, भगतराम डाबी, अशोक खिंची, बाबू मंसूरी, बगदीराम माली, राकेश गुप्ता, जयराम राठौर, मनोहर सोनी, दिलीप गोयल, दिलीप चावड़ा, अशोक शर्मा, नरेश जजवानी, संदीप अग्रवाल, राजेश भारती, बीएल शर्मा, राजेन्द्र सेठिया सहित गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। संचालन भूपेन्द्र महावर ने किया।

मंदसौर की घटना को लेकर दूसरे दिन भी नही थमा विरोध, हाथों में तख्तियां लेकर निकाली रैली, सौंपा ज्ञापन, दोषी को फांसी की मांग

मंदसौर  दोषी को फांसी की मांग के लिए इमेज परिणाम

TOC NEWS 

मंदसौर में 7 वर्षीय बालिका के साथ हुई घटना के विरोध में शुक्रवार को भी विरोध नही थमा, कृत्य करने वाले को फांसी की सजा की मांग को लेकर विभिन्न संगठनों ने ज्ञापन सौंपे। दोपहर तीन बजे मस्जिद में मुस्लिम समाज जुम्मे की नमाज अदा करने के बाद मौन जुलूस के रुप में हाथों में तख्तियां लेकर गांधी चौराहे पहंुचे। 

यहां अंजुमन कमेटी की ओर से राज्यपाल के नाम ज्ञापन नायब तहसीलदार संतोष घाटिया को सौंपा, जिसका वाचन अंजुमन सदर हुसेन खां पठान ने करते हुए अमानवीय कृत्य करने वाले युवक को फांसी की सजा देने की मांग की, साथ ही बताया कि ऐसे दोषी को पिपलिया के कब्रस्तान में भी जगह नही दी जाएगी। इसी तरह शाम को हिंदू-मुस्लिम महिलाओं, युवतियों व बालिकाओं ने तख्तियां लेकर सांई व मस्जिद से रैली निकालकर गांधी चौराहा पहंुच दोषी को फांसी की सजा की मांग को लेकर नायब तहसीलदार ललिता गाडरिया को ज्ञापन सौंपकर दोषी को फांसी की सजा देने की मांग की।

अल्पसंख्यक हक अधिकार समिति ने मंदसौर पहंुच सौंपा ज्ञापन:-

मंदसौर में मासूम बालिका के साथ हुए घटनाक्रम के विरोध में दोषी को फांसी की सजा देने की मांग को लेकर प्रदेश अल्पसंख्यक हक अधिकारी समिति ने मंदसौर एसपी के नाम कंट्रोल रुम पर ज्ञापन सौंपा। जिसका वाचन प्रदेश उपाध्यक्ष बाबू मंसूरी ने किया। इस अवसर पर प्रदेश महामंत्री आमिर कुरेशी, फिरोज पठान, शाहरुख शाह, जाहिद खान, चांद शेख, इकलाख मंसूरी, अय्युब मंसूरी, तौफिक शाह, अकरम खान, इमाम मेव सहित समिति पदाधिकारी उपस्थित थे।

Friday, June 29, 2018

देश की अदालतों में बेहतर अधोसंरचना की जरूरत : चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा

jabalp[ur 02 cm ani news india
देश की अदालतों में बेहतर अधोसंरचना की जरूरत : चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा
TOC NEWS @ www.tocnews.org

मध्यप्रदेश से हो शुरूआत , नवीन जिला कोर्ट कॉम्पलेक्स के उद्घाटन समारोह में दिया उद्बोधन

जबलपुर 29 जून 2018. भारत के प्रधान न्यायाधीश श्री जस्टिस दीपक मिश्रा ने कहा है कि देश की अदालतों में बेहतर अधोसंरचना की जरूरत है। सभी न्यायालयों में न केवल आवश्यक सुविधाएं हों वरन् वहां का वातावरण भी न्यायालय की गरिमा के अनुरूप हो। श्री मिश्रा आज यहां जबलपुर में नवनिर्मित जिला कोर्ट कॉम्पलेक्स के उद्घाटन समारोह में उद्बोधन दे रहे थे।
उन्होंने कहा कि अत्याधुनिक सुविधायुक्त भवन में गरिमामय वातावरण में न केवल पक्षकारों को अच्छी प्रतीति होगी वरन् अधिवक्तागण भी बेहतर ढंग से अपना काम कर सकेंगे। प्रधान न्यायाधीश ने कहा कि बेहतर अधोसंरचना न्याय के पिरामिड का निर्माण करती है। जब राज्य न्यायालयों में अपेक्षित अधोसंरचना उपलब्ध कराता है तो वह एक प्रकार से न्याय देने के लिए रोडमैप प्रदान करता है। न्याय व्यवस्था से एक सरकार के आकलन की दृष्टि से महत्वपूर्ण है।
देश की अदालतों में बेहतर अधोसंरचना की जरूरत : चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा

उन्होंने कहा कि भारत का संविधान अपने नागरिकों को न्याय का वचन देता है और इस अर्थ में न्यायालयों में न्याय प्राप्त करने के लिए आने वाले पक्षकारों को गरिमामय माहौल में न्याय प्राप्त होना आवश्यक है। श्री मिश्रा ने सभी जिलों में जिला कोर्ट कॉम्पलेक्स की आवश्यकता पर जोर देते हुए कहा कि इनमें जरूरी तौर पर लॉयर्स चैम्बर होने चाहिए। उन्होंने न्यायालयों में टेक्नोलॉजी को बढ़ावा देने की आवश्यकता भी प्रतिपादित की।
श्री मिश्रा ने कहा कि सुविधाएं बढ़ेंगी तो निश्चय ही परफॉर्मेंस भी बेहतर होगा। प्रधान न्यायाधीश श्री मिश्रा ने जबलपुर में नवीन कोर्ट कॉम्पलेक्स के निर्माण पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि एशिया की बेहतरीन कोटर््स में शुमार साकेत कोर्ट से जबलपुर कोर्ट कॉम्पलेक्स किसी भी मायने में कमतर नहीं है। प्रधान न्यायाधीश ने इसके लिए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान को बधाई देते हुए कहा कि देश के सभी न्यायालयों में इसी प्रकार की बेहतरीन अधोसंरचना और अत्याधुनिक सुविधाओं की आवश्यकता है।
उन्होंने आशा व्यक्त की कि मध्यप्रदेश इस सिलसिले में कदम उठाकर अग्रणी राज्य बनेगा। प्रधान न्यायाधीश ने विश्वास जताया कि न्यायालयों में बेहतर अधोसंरचना स्थापित कर प्रभावी, तीव्र गति और गुणवत्तापूर्ण न्याय सुनिश्चित करने में मध्यप्रदेश समूचे देश के लिए उदाहरण बनेगा। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि 192 करोड़ रूपए की लागत से निर्मित जिला कोर्ट के भव्य भवन का प्रधान न्यायाधीश द्वारा उद्घाटन संस्कारधानी के लिए बेहद महत्वपूर्ण अवसर है।
इसकी प्रेरणा स्वयं प्रधान न्यायाधीश श्री मिश्रा की थी और उनके इस विचार को मध्यप्रदेश हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस श्री हेमंत गुप्ता और पटना हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस श्री राजेन्द्र मेनन द्वारा आगे बढ़ाया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि एडवोकेट्स के लिए फर्नीचर की जरूरतें भी पूरी की जाएंगी। श्री चौहान ने बताया कि एडवोकेट प्रोटेक्शन एक्ट लगभग तैयार हो चुका है और शीघ्र ही अध्यादेश के जरिए आगे पहल की जाएगी। 
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंदसौर की दुर्भाग्यपूर्ण घटना को लेकर अपनी वेदना व्यक्त करते हुए आग्रह किया कि जिस प्रकार मध्यप्रदेश में नन्हीं बच्चियों से दुराचार के मामलों के लिए फास्टट्रैक कोटर््स बनाई गई हैं उसी प्रकार हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में भी ऐसे गर्हित मामलों में शीघ्र सुनवाई और निर्णय की व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि ऐसे मामलों में दोषी को जल्द सजा मिलने से नजीर कायम होगी और अपराधियों में कानून का खौफ पैदा होगा। इस अवसर पर मध्यप्रदेश हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश श्री जस्टिस हेमंत गुप्ता ने कहा कि हम सभी सौभाग्यशाली हैं कि विशाल क्षेत्र में बेहतरीन अधोसंरचना का कोर्ट भवन हमें हासिल हुआ है।
उन्होंने कहा कि लिंग, जाति या अन्य किसी भी विभेद के बिना सबको समान रूप से न्याय मिलने में ही इस उपलब्धि की सार्थकता होगी। श्री गुप्ता ने कहा कि हमें पूरी क्षमता से आम आदमी खास तौर पर पीड़ित लोगों को न्याय दिलाना सुनिश्चित करना होगा। जो भी पीड़ित न्यायालय में आए उसकी पीड़ा दूर हो तभी लोकतंत्र की सफलता है। कार्यक्रम में पटना हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश श्री जस्टिस राजेन्द्र मेनन तथा म.प्र.हाई कोर्ट के प्रशासनिक न्यायाधीश श्री जस्टिस एस.के. सेठ की मौजूदगी भी उल्लेखनीय थी।
कार्यक्रम में मध्यप्रदेश हाई कोर्ट के जज तथा जबलपुर जिला कोर्ट के पोर्टफोलियो जज श्री जस्टिस आर.एस.झा ने जिला कोर्ट कॉम्पलेक्स का भवन तैयार होने म.प्र. हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस श्री हेमंत गुप्ता और पटना हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस श्री राजेन्द्र मेनन के योगदान का उल्लेख किया। उन्होंने इस सिलसिले में महाधिवक्ता पुरूषेन्द्र कौरव तथा डिट्रिक्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष आर.के.सिंह सैनी तथा एसोसिएशन के अन्य पदाधिकारियों की ओर से हासिल सहयोग को भी महत्वपूर्ण बताया।
भारत के प्रधान न्यायाधीश श्री जस्टिस दीपक मिश्रा ने विधिवत् दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। जिला जज श्री चन्द्रेश खरे ने अतिथियों के सम्मान में स्वागत भाषण दिया। कार्यक्रम में विभिन्न अधिवक्ता संगठनों के पदाधिकारी मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन न्यायिक मजिस्ट्रेट अनु सिंह ने किया। डिट्रिक्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष आर.के.सिंह सैनी ने अतिथियों के प्रति आभार ज्ञापित किया।

मुख्यमंत्री ने संभागायुक्तों और पुलिस महानिरीक्षकों को दिये निर्देश, अवैध खनन के वाहन राजसात करें

0 cm ani news india

TOC NEWS @ www.tocnews.org
  • ऐसी तड़प के साथ कार्य करें कि योजनाओं के लाभ से कोई वंचित नहीं रहे : मुख्यमंत्री
  • पंचायत स्तर तक मॉनीटरिंग की कार्य-प्रणाली बनाएं अवैध खनन के वाहन राजसात करें 
  • मुख्यमंत्री श्री शिवराज चौहान ने संभागायुक्तों और पुलिस महानिरीक्षकों को दिये निर्देश
भोपाल : शुक्रवार, जून 29, 2018. मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि गरीब को उसका जायज़ हक़ मिले। इसके लिये सरकार द्वारा व्यापक स्तर पर प्रयास किये गये हैं। योजनाओं का क्रियान्वयन इस तड़प के साथ किया जाये कि कोई भी पात्र व्यक्ति इनके लाभ से वंचित नहीं रहे। क्रियान्वयन पंचायत स्तर तक प्रशासनिक कसावट के साथ हो। इसकी नियमित मॉनीटरिंग की जाये। लापरवाही के प्रकरणों में कठोर कार्रवाई की जाये।
श्री चौहान ने अवैध खनन के प्रकरणों में वाहन नीलामी की कार्रवाई करने और महिलाओं पर होने वाले अपराधों को रोकने के लिये प्रभावी रणनीति बनाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि आगामी पर्वों और मौसम को दृष्टिगत रखते हुए अग्रिम कार्य-योजना बनायें। श्री चौहान आज मंत्रालय में संभागायुक्तों और पुलिस महानिरीक्षकों की संयुक्त बैठक को संबोधित कर रहे थे। बैठक में मुख्य सचिव श्री बी.पी. सिंह और पुलिस महानिदेशक श्री आर.के. शुक्ला भी मौजूद थे।
संबल योजना सामाजिक सुरक्षा का इतिहास रचेगी
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि संबल योजना गरीबी दूर करने का सबसे प्रभावी प्रयास है। योजना का लाभ हर जरूरतमंद को मिले, इसकेलिये सजगता और सक्रियता के साथ योजना की मॉनीटरिंग की जाये। उन्होंने कहा कि योजना के क्रियान्वयन कार्य की वे स्वयं प्रतिदिन समीक्षा करेंगे। योजना का सीएम डैशबोर्ड बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गरीब की आवश्यकताओं को पूरा करना ही गरीबी दूर करने का सबसे प्रभावी तरीका है। संबल योजना का क्रियान्वयन व्यापक स्तर पर करने के लिये जरूरी है कि आम आदमी योजना को भलीभांति समझें। इसके लिये व्यापक स्तर पर सभी प्रचार माध्यमों का उपयोग किया जाये। इसमें कोई कोर-कसर बाकी नहीं रहनी चाहिये।
मुख्यमंत्री ने फ्लेट रेट विद्युत और बकाया बिल समाधान योजना की समीक्षा की। उन्होंने विद्युत कनेक्शन के नामांतरण कार्य के लिये स्टाम्प शुल्क की बाध्यता को समाप्त करवाने केलिये कहा। मुख्यमंत्री ने कहा कि संबल निगरानी समिति के सदस्यों को योजना के एम्बेसडर के रूप में स्थापित किया जाये। विद्युत बिल पंजीयन शिविरों में और मास्टर ट्रेनर के प्रशिक्षण कार्यक्रम में समिति सदस्यों को शामिल किया जाये। उन्होंने कहा कि इस वर्ष उच्च शिक्षा पाठ्यक्रमों में प्रवेश लेने वाले द्वितीय और अंतिम वर्ष के अध्ययनरत छात्रों की फीस भी सरकार भरवा रही है। इस संबंध में व्यापक स्तर पर छात्र-छात्राओं को जानकारी दी जाये।
अनुसूचित जनजाति को सहजता से लाभ मिले
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहाकि प्रशासनिक व्यवस्थाएं इतनी चुस्त और दुरूस्त हों कि गरीब और अनूसूचित जनजाति के सदस्य के साथ कोई छल नहीं कर सके। उन्होंने सरकार के कल्याणकारी कार्यों के लाभ उन तक पहुँचाने और उनकी समस्याओं का संवेदनशीलता के साथ समाधान करने के लिये निर्देशित किया। उन्होंने वनाधिकार पट्टे, कुपोषण, बँटवारे, जाति प्रमाण पत्र, वनोपज संग्रहण और विक्रय, निजी भूमि पर पेड़ काटने के अधिकार से संबंधित समस्याओं का परीक्षण करने और प्रभावी समाधान के लिये संभागायुक्तों को व्यक्तिगत उत्तरदायित्व के साथ कार्य करने के लिये निर्देशित किया। कहा कि वनाधिकार दावों के पुन: परीक्षण के कार्य को और अधिक गति से संचालित करें ताकि अगस्त माह तक सभी पात्रों को वनाधिकार पट्टे मिल जायें। चरण पादुका योजना के अंतर्गत सभी पात्र व्यक्तियों को सामग्री मिलना सुनिश्चित करें।
भू-अधिकार से कोई वंचित नहीं रहेगा
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि रहने लायक भूमि के टुकड़े का अधिकार पत्र 15 अगस्त से पूर्व सभी पात्र परिवारों को मिल जाये। नगरीय क्षेत्र की भूमि पर लम्बे समय से बसे परिवारों की समस्याओं के समाधान के लिये विशेष दृष्टि के साथ प्रयास हो। उन्होंने कहा कि वे स्वयं भी राजस्व न्यायालय मॉनीटरिंग सिस्टम की समीक्षा समय-समय पर करेंगे। साथ ही बटाईदार कानून एवं भू-राजस्व संहिता में किये जा रहे क्रांतिकारी बदलाव का प्रचार-प्रसार करें।
उपार्जन राशि का शीघ्र भुगतान करायें
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अगर किसी किसान को गेहूँ, चना और मसूर का किसी कारणवश उपार्जन पोर्टल पर दर्ज नहीं हो सका है, उन प्रकरणों का परीक्षण स्वयं संभागायुक्त करें। उनके प्रतिवेदन के आधार पर छूट गये किसानों को दर्ज करने के लिये पोर्टल खुलवाया जायेगा। उन्होंने स्पष्ट किया कि यह सुनिश्चित किया जाना चाहिये कि व्यवस्था से केवल वास्तविक किसान ही लाभान्वित हों। साथ ही, गेहूँ खरीदी की राशि का शीघ्र भुगतान भी सुनिश्चित किया जाये।
कानून एवं व्यवस्था सुदृढ़ रखे
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंदसौर की घटना के अपराधियों को जल्द से जल्द दण्ड दिलाने के लिये सजगता के साथ प्रयासों की जरूरत बताई। उन्होंने कहा कि आगामी समय में पर्वों को दृष्टिगत रखते हुए संवदेनशील कार्य प्रणाली के साथ व्यवस्थाएं की जायें। हर हाल में साम्प्रदायिक सौहार्द्र को सुनिश्चित किया जाये। प्राकृतिक आपदाओं की आशंका के दृष्टिगत अग्रिम कार्य-योजना बनाई जाये, जिसमें राहत और बचाव के समुचित प्रबंध हों। उन्होंने कहा कि अवैध खनन के प्रकरणों में वाहन जप्त कर नीलामी की कार्रवाई की जानी चाहिये। इसी तरह असामाजिक तत्वों के विरूद्ध भी कठोर कार्रवाई की जाये। मुख्यमंत्री ने विगत दिनों प्रदेश में की गई कार्रवाई के सकारात्मक परिणामों का उल्लेख भी किया। उन्होंने सायबर क्राईम और सोशल मीडिया की कड़ी निगरानी की जरूरत बताई। मादक पदार्थों के व्यापार को रोकने के लिये विशेष प्रयास करने के लिये कहा।
जन-आशीर्वाद यात्रा में जानेंगे मैदानी हकीकत
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि 14 जुलाई से प्रदेश में जन-आशीर्वाद यात्रा का आयोजन किया जायेगा। यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री आम जन के साथ सीधा संवाद करेंगे। गरीब बस्तियों में जाकर रहवासियों के साथ चर्चा करेंगे। शासन की योजनाओं की जमीनी हकीकत से परिचित होंगे। क्रियान्वयन कार्य की समीक्षा के लिये राजस्व न्यायालय, छात्रावास, चिकित्सालय, विद्यालय और निर्माण कार्यों का भी आकस्मिक निरीक्षण करेंगे।
फसल बीमा राशि का वितरण
इस दौरान बताया गया कि फसल बीमा योजनांतर्गत खरीफ 2017 के दावों की राशि का शीघ्र वितरण किया जायेगा। इससे प्रदेश के 17 लाख 77 हजार 300 किसानों को 5260 करोड़ रूपये की राशि मिलेगी। यह देश में किसानों को मिलने वाली अभी तक की सर्वाधिक राशि है।
बैठक में अपर मुख्य सचिव कृषि श्री पी.सी. मीना, अपर मुख्य सचिव वन श्री के.के. सिंह, अपर मुख्य सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास श्री इकबाल सिंह बैस, श्रम, कृषि, ऊर्जा, सूक्ष्म एवं लघु उद्योग, अनुसूचित जनजाति कल्याण, राजस्व, नगरीय प्रशासन आदि विभागों के प्रमुख सचिव एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

अनियंत्रित होकर ऑटो पलटी कई यात्री घायल, ओवर लोड ऑटो पलटने से कई गम्भीर

TOC NEWS @ www.tocnews.org
जिला ब्यूरो चीफ, अनूपपुर // राम मनोहर सिंह 95849 33114
अनूपपुर . राजेन्द्र ग्राम थाना अंतर्गत ग्राम शिवरीचंदास के पास ओवरलोड ऑटो क्रमांक MP65 R05013 के पलटने से सवारियों को आईं गम्भीर चोटें, खबर लगी है कि ऑटो सवारी लेकर नवगवां से राजेन्द्रग्राम आ रही थी.
इस ऑटो में 15 से 20 सवारियां बैठी हुई थीं।ऑटो ओवरलोड होने कि वजह से हादसे का शिकार हो गई,ऑटो में सवार लोगों को गम्भीर चोटें आई है,किसी के  हाथ तो किसी के पैर टूटने कि खबर है,घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पुष्पराजगढ़ में भर्ती कराया गया है।

गम्भीर घायलों में -

राजकुमारी पति राजू सिंह को गम्भीर चोट लगी है,चिंता प्रसाद मेहरा पिता जियालाल हाथ टूटा हैं,लाल सिंह पिता राममिलन के सर पर गम्भीर चोट लगी है,लक्ष्मी पिता पच्चू अगरिया, सन्तोष प्रसाद पिता मोलाई प्रसाद,को पीठ में गंभीर चोटें आईं हैं,मीना बाई पति कृष्णलाल भी गम्भीर रूप से घायल हैं, ये सभी नवगंवा  निवासी हैं, सांथ ही बेलडोंगरी निवासी राजेन्द्र सिंह पिता दरवारी सिंह को भी चोटें आई हैं।एवं तेजभान पिता दुलवा प्रसाद का पैर फैक्चर होना पाया गया जिसे जिला अस्पताल अनूपपुर रिफर कर दिया गया

प्रायः देखा गया है कि राजेन्द्रग्राम थाना के सामने से ओवर लोड सवारी गाड़ियों का आना जाना दिन भर लगा रहता है,जो गाड़ी ओवर लोड होती है बकायदा  पुलिस को हप्ता दिया जाता है ,जिससे ऑटो एवं सवारी गाड़ियों का बेधड़क आना जाना होता रहता है।

100 डायल नही पहुंची मौके पर 
आज शिवरीचदास के पास ऑटो पलटने कि जैसे ही खबर गांव वालों को लगी वैसे ही 100 डायल को फोन किया गया किन्तु 100 डायल मौके पर नही पहुंची घायलों को और उनके सान्थियों के द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया।

राज्य मंत्री श्री पटैल ने किया करीब एक करोड़ के 17 निर्माण कार्यों का लोकार्पण व भूमिपूजन, 841 आवासीय पट्टों का वितरण

Narsinghpur_Mantri_Program_ani news india
राज्य मंत्री श्री पटैल ने किया करीब एक करोड़ के 17 निर्माण कार्यों का लोकार्पण व भूमिपूजन, 841 आवासीय पट्टों का वितरण
TOC NEWS @ www.tocnews.org
गाडरवारा // अरूण श्रीवास्तव : 8120754889
नरसिंहपुर. नरसिंहपुर विधानसभा क्षेत्र की विकास यात्रा के दौरान प्रदेश के आयुष, कुटीर एवं ग्रामोद्योग (स्वतंत्र प्रभार) और लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी राज्य मंत्री श्री जालम सिंह पटैल ने जनपद पंचायत करेली के अनेक ग्रामों का शुक्रवार को भ्रमण किया। राज्य मंत्री श्री पटैल ने रामपिपरिया, ग्वारी, उमरिया- चिनकी, घूरपुर आदि ग्रामों का भ्रमण किया।   
इस दौरान राज्य मंत्री श्री पटैल ने 91 लाख 34 हजार रूपये लागत के 17 निर्माण कार्यों का लोकार्पण व भूमिपूजन किया। उन्होंने 841 हितग्राहियों को आवासीय पट्टों का वितरण किया। राज्य मंत्री ने 134 तेंदूपत्ता संग्राहकों को पानी की बॉटल व महिलाओं को साड़ी, 8 कल्याणी महिलाओं को पेंशन स्वीकृति पत्रक और 150 श्रमिक कार्ड वितरित किये। श्री पटैल ने उमरिया में महिला मंडल की सदस्यों को संगीत सामग्री ढोलक, मजीरा आदि प्रदान किये। उन्होंने ग्राम ग्वारी में बच्चों को खेल किट भी प्रदान की। भ्रमण के दौरान राज्य मंत्री श्री पटैल ने ग्रामीणों से आत्मीयता से बात कर उनकी समस्यायें और कठिनाईयां जानी, उनके आवेदन लिये और अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये।       
राज्य मंत्री श्री पटैल ने रामपिपरिया में 177, ग्वारी में 135, उमरिया- चिनकी में 381 और घूरपुर- झामर में 148 हितग्राहियों को आवासीय पट्टों का वितरण किया। उन्होंने ग्वारी में 13, उमरिया- चिनकी में 99 एवं घूरपुर में 22 तेंदूपत्ता संग्राहकों को बॉटल व साड़ी प्रदान की। राज्य मंत्री श्री पटैल ने ग्राम ग्वारी में 8 लाख 75 हजार रूपये लागत के 5 निर्माण कार्यों का लोकार्पण किया। इनमें 2 सीसी रोड, 2 चबूतरा और एक शांतिधाम के कार्य शामिल हैं। उन्होंने ग्राम घूरपुर में 50 लाख रूपये लागत के हाट बाजार का लोकार्पण किया और 10 लाख रूपये लागत के सामुदायिक भवन का भूमिपूजन किया।
श्री पटैल ने घूरपुर में 20 लाख 59 हजार रूपये लागत के 9 निर्माण कार्यों का लोकार्पण किया। इन निर्माण कार्यों में धर्मशाला, रिटेनिंग बॉल, 4 सीसी रोड व नाली निर्माण, एक सीमेंट सड़क, झामर की एक सीमेंट सड़क व टीन शेड के कार्य शामिल हैं। उन्होंने यहां एक- एक लाख रूपये लागत के दो चबूतरों का भूमिपूजन किया। ग्वारी में सीमेंट सड़क निर्माण की घोषणा       
राज्य मंत्री श्री पटैल ने ग्राम ग्वारी में स्थानीय लोगों की मांग पर 2 लाख रूपये लागत की सीमेंट सड़क का निर्माण कराने की घोषणा की। इस दौरान आयोजित कार्यक्रमों में संबोधित करते हुए राज्य मंत्री श्री पटैल ने कहा कि केन्द्र और राज्य सरकार अंत्योदय के विचार को मूर्तरूप देने के लिए कार्य कर रही है। शासन की मंशा है कि जो सबसे अंतिम छोर के व्यक्ति हैं, उनकी प्रगति हो, वे आगे आयें और समाज की मुख्यधारा में शामिल हों। केन्द्र एवं राज्य सरकार गरीबों, मजदूरों, किसानों, महिलाओं, युवाओं, विद्यार्थियों समेत समाज के सभी वर्गों के कल्याण के लिए निरंतर कार्य कर रही है। सभी वर्गों के हित में अनेक कल्याणकारी योजनायें संचालित की जा रही हैं। इन योजनाओं का लाभ लेने के लिए खासतौर पर युवा वर्ग लोगों को जागरूक एवं प्रेरित करे।       
राज्य मंत्री श्री पटैल ने कहा कि राज्य सरकार ने मध्यप्रदेश भू- राजस्व संहिता (संशोधन) विधेयक 2018 पारित कर लोगों के हित में अनेक भूमि सुधार लागू किये हैं। मुख्यमंत्री जनकल्याण- संबल योजना के माध्यम से असंगठित श्रमिकों के लिए अनेक कल्याणकारी प्रावधान किये गये हैं। इस योजना में पंजीकृत श्रमिकों के बिजली के बिल माफ किये जा रहे हैं। गरीबों एवं श्रमिकों को 200 रूपये मासिक के फ्लेट रेट पर बिजली मिलेगी।       
इस अवसर पर मेर सिंह गुमास्ता, शिवकुमार राजपूत, जनपद सदस्य, सरपंचगण, त्रि- स्तरीय पंचायतों के पदाधिकारी, अन्य जनप्रतिनिधि, तहसीलदार प्रमोद चतुर्वेदी, अनुविभागीय वन अधिकारी अमित पटौदी और बड़ी संख्या में ग्रामीणजन मौजूद थे।

गाडरवारा : सड़क निर्माण कंपनी ने बिछाई पीली मिट्टी बारिश में बनी बड़ी मुसीबत, लोगों का आवागमन हुआ प्रभावित

गाडरवारा : सड़क निर्माण कंपनी ने बिछाई पीली मिट्टी बारिश में बनी बड़ी मुसीबत, लोगों का आवागमन हुआ प्रभावित

TOC NEWS @ www.tocnews.org
गाडरवारा // अरूण श्रीवास्तव : 8120754889
सिहोरा / बोहानी । सिहोरा से खुलरी भौंरझिर होकर एन एच 26 लिंगा तक लगभग 28 कि0मी0 का सी सी सड़क मार्ग लगभग 46 करोड़ की लागत से उन्नयन/चौड़ीकरण का कार्य जारी है,
 
किन्तु डेढ़ वर्ष गुजर जाने के बावजूद मार्ग का कार्य पूर्ण नहीं हुआ है। लिंगा से सिहोरा के बीच मार्ग पर कई जगह पीली मिट्टी होने के बजह से दर्जनों ग्रामों के हजारों लोगों को आवागमन में बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
 
जीप, बस सहित बड़े वाहन यहां से निकल नही पा रहे हैं, वही दो पहिया बाहन भी नही निकल रहे, फिसल कर दुर्घटना ग्रस्त हो रहे हैं।  वैसे मार्ग का चौड़ीकरण होने के साथ यह मार्ग टू लाइन रोड बननी है, किन्तु निर्माण करने वालों ने एक ही लाइन बनाई है और वह भी अधूरी व बंद है। दूसरी लाइन तरफ पीली मिट्टी की फिसलन है।
 
दो दर्जन से अधिक गांवो के लोगों को मुसीबत का सबब बना हुआ है, लिंगा भौरझिर से खुलरी सिहोरा सडक मार्ग। बीते साल भी इस मार्ग से जुड़े ग्रामों के लोग काफी परेशानी झेल चुके हैं। लोगो की सोच थी कि चालू बर्ष मे सड़क का काम पूरा हो जायेगा।
 
लेकिन जिम्मेदारों की अनदेखी के चलते आज भी यह सडक आधी अधूरे निर्माण की कहानी खुद व खुद बया कर रही है। दो दर्जन गांवो की अपेक्षा है कि कम से कम मिटटी पर हल्की रेत व गिट्टी डालकर बरसात मे चलने लायक मार्ग रखा जाये जिससे बरसात के मौसम में भी लोगों का आसानी से आवागमन हो सके।

गाडरवारा : आखिरकार पुनः खुला ब्लड स्टोरेज यूनिट बैंक, एक साल दो माह के संघर्ष के बाद मेहनत लाई रंग

गाडरवारा : आखिरकार पुनः खुला ब्लड स्टोरेज यूनिट बैंक, एक साल दो माह के संघर्ष के बाद मेहनत लाई रंग 

TOC NEWS @ www.tocnews.org
गाडरवारा // अरूण श्रीवास्तव : 8120754889
गाडरवारा। विगत वर्षो की समाजसेवी श्रीसाईं श्रद्धा सेवा समिति की संधर्षरत पहल पर जुलाई 2015 को सिविल अस्पताल में ब्लड स्टोरज यूनिट खोला गया था। जिसे करीब एक साल दो माह पूर्वं नवीन लायसेंस के नवीनकरण के साथ रफिरेटर का सही मापक का न होने के कारण इसे बंद कर दिए गया। एवं नये रफिरेटर के लिए फंड न होने का रोना भी रोया गया।

जिस पर सांसद राव उदय प्रताप द्धारा समिति की अनुशंसा पर दो लाख चालीस हजार की राशि स्वीकृत कराई गई। जिसके बाद रफिरेटर के साथ आवश्यक सामग्री की पूर्ति के उपरांत इसे पुनः प्रारंभ किया गया। जिसकी आधिकारिक सूचना श्रीसाईं श्रद्धा सेवा समिति के अध्यक्ष आशीष राय प्रदान की गई।

अब नहीं होना पड़ेगा मरीजों को परेशान- ब्लड के आभाव में मरीजों को जिला अस्पताल रिफर किया जा रहा था। जिसके कारण मरीज एवं उनके परिजनों को अनेक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही आवागमन के आर्थिक खर्च का भी वहन कष्टदायी हो रहा है। लेकिन ब्लड यूनिट के पुनः खुलने से इन समस्या का निदान मिलेगा। जिससे अब मरीज एवं परिजनों को भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। 



सांसद करेंगे शुभारंभ - श्रीसाईं श्रद्धा सेवा समिति की अनुशंसा पर क्षेत्रीय सांसद राव उदय प्रताप द्धारा रफिरेटर एवं आवश्यक सामग्री के लिए सांसद निधि से दो लाख चालीस हजार की राशि प्रदान की गई थी। इस ब्लड स्टोरेज का पुनः शुभारंभ एवं रफिरेटर की पूजा अर्चना बहुत जल्द सांसद महोदय द्धारा की जायेगा।

एक साल दो माह किया संधर्ष - स्वास्थ्य विभाग द्धारा ब्लड स्टोरेज के मामले में लगातार ढीला ढाली की जा रही थी। इसका मुख्य कारण यह देखा गया है, की ब्लड स्टोरेज के कारण डाक्टरों को दुर्धटनाग्रस्त, गर्ववती महिला इत्यादि के आपरेशन में अतिरिक्त कार्य करना पड़ता था। और इसके न होने से मरीजों को आसानी से जिला अस्पताल रिफर से कर दिया जाता था। इसी के चलते कंही न कंही स्वास्थ्य विभाग की इच्छा शक्ति में कमी बनी रहती थी।

जिसके विरोध में समिति द्धारा विगत एक साल में करीब नौ बार उच्च अधिकारियों से लेकर मुख्यमंत्री एवं स्वास्थ्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित कर शिकायत जा चुके थी। साथ ही विगत दिवस विश्व रक्तदान दिवस पर रक्तदान न करते हुए विरोध स्वरुप रक्त से लिखित ज्ञापन अनुविभागीय राजस्व अधिकारी को सौपा गया था। जो की प्रदेश स्तर पर सुखियों में रहा।  


समिति ने हर्ष व्यक्त कर जताया आभार - इस ब्लड स्टोरेज के पुनः प्रारंभ होने पर श्रीसाईं श्रद्धा सेवा समिति के सदस्यों ने साईंचौक पर उपस्तिथ होकर एक दुसरे को मिठाई खिलाकर हर्ष व्यक्त किया। इस अवसर पर राष्ट्रीय अध्यक्ष आशीष राय, प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप ब्रिजपुरिया, सचिव बबलू दवाईवाला, कोषाध्यक्ष साकिर खान, शाखा अध्यक्ष सुजीत चौधरी, आध्यत्मिक अध्यक्ष महेंद्र साहू, युवा अध्यक्ष कमलेश अग्रवाल, विधार्थी अध्यक्ष आदर्श कौरव, अमित श्रीवास, मोहित सोनी, अमिन खान, अमित कोरी सहित बच्चे उपस्तिथ थे। साथ ही समिति राष्ट्रीय अध्यक्ष आशीष राय ने क्षेत्रीय सांसद, विधायक, कलेक्टर, स्वास्थ्य अधिकारी, चिकित्सा अधिकारी, समाजसेवी तथा सामाजिक संस्था, सदस्य एवं गणमान्य नागरिकों के साथ स्थानीय पत्रकारों के प्रति आभार व्यक्त किया जिनके विशेष सहयोग से यह स्टोरेज पुनः प्रारंभ हो सका।

किम जोंग ने सैन्य अधिकारी को सरेआम मरवाया, 90 गोलियों से किया छलनी!

संबंधित इमेज
TOC NEWS @ www.tocnews.org
12 जून को अमेरिकी राष्ट्रपति के साथ हाथ मिलाकर दुनिया को शांति का संदेश देने वाले उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग-उन की क्रूरता एक बार फिर सामने आई है। खबरों के मुताबिक, किम जोंग ने उत्तर कोरियाई सेना के एक लेफ्टिनेंट जनरल को सरेआम 90 गोलियों से छलनी करवा दिया। सैन्य अधिकारी पर जवानों को जरूरत से ज्यादा राशन बांटने का आरोप था।
दक्षिण कोरिया में स्थित उत्तर कोरियाई खबरों पर नजर रखने वाली वेबसाइट डेली एनके की खबर के मुताबिक, इस हत्या से पहले एक कमरे में सुनवाई हुई जहां उत्तर कोरिया वर्कर्स पार्टी के बड़े अधिकारी, मंत्री, सुप्रीम गार्ड कमांड, सेना के कई अधिकारी मौजूद थे। इसके बाद प्योंगयांग में सुनान जिले के कांग कॉन्ग मिलिटरी अकैडमी की फायरिंग रेंज में अधिकारी को सबके सामने मारा गया। अधिकारी की पहचान ह्योन जू सॉन्ग के तौर पर हुई है।
खबरों के मुताबिक, बीती 10 अप्रैल को ह्योन ने एक सैटलाइट लॉन्चिंग स्टेशन के लिए तेल आपूर्ति की जांच करते वक्त कहा था, हम रॉकेट और परमाणु हथियार बनाने के लिए और भूखे नहीं रह सकते। ह्योन के इस बयान को शासन के अनादर के तौर पर देखा गया।
ह्योन ने लॉन्चिंग स्टेशन पर मौजूद मिलिटरी अफसर और उनके परिवारों के लिए 1 टन ईंधन, 580 किलोग्राम चावल और 750 किलोग्राम मक्का भिजवाने का आदेश दिया। इसे पार्टी विरोधी कृत्य माना गया। ह्योन के साथ ही 9 अन्य भी आरोपी बनाए गए।
खबर के मुताबिक, जब ह्योन को फायरिंग रेंज ले जाया गया तो अन्य आरोपियों से उनपर 90 बार गोलियां दागने को कहा गया। हालांकि, यह पहली बार नहीं जब किम जोंग-उन के ऐसे आदेशों की खबरें आई हों। इससे हले भी किम एक बैठक में झपकी लेने पर अपने रक्षा प्रमुख ह्योंग योंग को मरवा चुका है।

दिशा पाटनी ने किया ये खतरनाक स्टंट, 21 लाख से ज्यादा बार देखा गया वीडियो

दिशा पाटनी ने किया ये खतरनाक स्टंट, 21 लाख से ज्यादा बार देखा गया वीडियो के लिए इमेज परिणाम
TOC NEWS @ www.tocnews.org
मुंबई: बाॅलीवुड एक्ट्रेस दिशा पाटनी अक्सर अपनी हाॅट तस्वीरों की वजह से सुर्खियों में रहती हैं। हाल ही में दिशा ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक वीडियो शेयर की है। इस वीडियो में वह अपने कोच के साथ खतरनाक स्टंट करती दिखाई दे रही हैं।
दिशा वीडियो में 'फ्रंट फ्लिप' मार रही हैं। इस स्टंट को करने के बाद दिशा ने यह साफ कर दिया है कि एक्शन के मामले में वह अपने बॉयफ्रेंड टाइगर श्रॉफ से कम नहीं हैं। 1 दिन पहले पोस्ट किए गए इस वीडियो को अब तक 21 लाख से ज्यादा बार देखा जा चुका है
बता दें कि दिशा जल्द ही फिल्म भारत में नजर आएंगी। फिल्म में उनके साथ सलमान खान और प्रियंका चोपड़ा मुख्य किरदार में हैं।

रिलीज से पहले ही 'संजू' ने कमा लिए इतने करोड़

संजू: पहले दिन ही फिल्म के लिए इमेज परिणाम
TOC NEWS @ www.tocnews.org
पिछले कई समय से लोग बस फिल्म संजू के रिलीज होने का ही बेसब्री से इंतजार कर रहे थे जो आज पूरा हो गया है। जब से फिल्म संजू का ट्रेलर रिलीज हुआ था तभी से रणबीर कपूर के अभिनय की प्रशंसा हर जगह हो रही थी क्योंकि रणबीर ने संजय दत्त का किरदार इतना बखूबी निभाया कि हर कोई उन्हें पहली नजर में असली का संजय दत्त समझ बैठा। आज फिल्म ने जबरदस्त ओपनिंग की है, तो आइए बात करते हैं फिल्म की ओपनिंग के बारे में।

फिल्म रिलीज हुई है रिकॉर्ड तोड़ 4000 स्क्रीन पर

जी हां यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर तकरीबन 4000 स्क्रीन पर रिलीज करी गई है जो एक ताबड़तोड़ ओपनिंग है। वही ओवरसीज में यह फिल्म 1300 स्क्रीन पर रिलीज हुई। बता दे दिल्ली से लेकर मुंबई कोलकाता और पुणे जैसे शहरों में लोग इस फिल्म को देखने के लिए पागल हो रहे हैं और माना जा रहा है कि यह फिल्म इस साल के सुपरहिट सन साबित हो सकती है।

रिलीज होने से पहले ही कर ली ताबड़तोड़ कमाई

अनुमान के मुताबिक यह फिल्म पहले दिन तकरीबन 35 से 40 करोड़ की कमाई कर सकती। लेकिन बात दें फिल्म रिलीज होने से पहले ही फिल्म ने एक रिकॉर्ड तोड़ दिया, जी हां फिल्म की एडवांस बुकिंग से ही इसमें तकरीबन 14 करोड़ की कमाई कर ली है। माना जा रहा है कि आने वाले 2 दिन में यह आंकड़ा 20 करोड़ तक भी पहुंच सकता है।

कितने करोड़ की कमाई कर सकती है?

इसमें कोई दो राय नहीं कि राजकुमार हिरानी द्वारा निर्देशित यह फिल्म वाकई इस साल की सुपरहिट फिल्म साबित हो सकती है। राजकुमार हिरानी का पिछला ट्रैक रिकॉर्ड देखा जाए तो मुन्ना भाई Mbbs, PK और 3 इडियट जैसी फिल्मों ने बड़ी आसानी से 200-300 करोड़ का आंकड़ा पार कर लिया था। अब देखना यह है कि यह फिल्म आखिरकार बॉक्स ऑफिस पर कितने करोड़ की कमाई करती?

दिल से जुड़ी समस्याओं को दूर करता है अंडा

अंडा के लिए इमेज परिणाम
TOC NEWS @ www.tocnews.org
आजकल ज्यादातर लोग दिल से जुड़ी समस्याओं से परेशान रहते हैं। अगर आपअपने दिल को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो अपने खाने में अंडे को शामिल करें। एक रिसर्च के अनुसार सप्ताह में कम से कम 12 अंडेखाने से प्री डायबिटीज या टाइप 2 डायबिटीज के मरीजों में दिल से जुड़ी बीमारी होने का खतरा कम हो जाता है।
अंडे में भरपूर मात्रा में प्रोटीन व अमीनो एसिड की मौजूद होते हैं। इसके अतिरिक्त इसमें ल्यूटेनिन नामक न्यूट्रीशन भी मौजूद होता है जो आपके दिमाग को स्वस्थ रखता है। रिसर्च में यह भी बताया गया है कि रोज एक अंडा खाने से दिल से जुड़ी बीमारी होने का खतरा 12% तक कम हो जाता है।
वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाईजेशन की रिपोर्ट के अनुसार हर वर्ष पूरी संसार में 17.7 मिलियन लोग दिल की बीमारी के कारण मर जाते हैं। जिसका कारण स्मोकिंग, अभ्यास ना करना, खाने में सब्जी व फलों की मात्रा कम लेना व फास्ट फूड का अधिक सेवन करना होता है। अगर आप रोज़ाना एक अंडे का सेवन करते हैं तो इससे आपका दिल हमेशा स्वस्थ रहता है।

आजतक के लाइव शो में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को जूते से मारने की मांग बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने की

TOC NEWS @ www.tocnews.org
आम चुनाव-2019 जैसे जैसे नजदीक आ रहे हैं सियासी घमासान बढ़ता जा रहा है। दोस्तों आज से करीब 21 महीने पहले हुए पीओके में भारतीय सेना द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो सामने आते ही इसपर बहस छिड़ गयी। आज तक न्यूज़ चैनल के एक खास कार्यक्रम हल्ला बोल में बहस के दौरान भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा अपना आपा खो बैठे और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को जूते से मारने की मांग की। 
बात तब बढ़ी जब आजतक न्यूज़ चैनल पर बहस के दौरान कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी ने रक्षा बजट कम करने को लेकर सीधा पीएम मोदी पर हमला बोला। साथ ही कहा कि कांग्रेस के शासनकाल में भी सर्जिकल स्ट्राइक हुई थीं लेकिन सेना के नाम पर हमने राजनीति नहीं की।
इसके जवाब में बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि अगर सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत न दो, तो कांग्रेस सवाल उठाती है और जब सबूत दिया जाता है, तो कहती है कि राजनीतिक फायदे के लिए वीडियो जारी किया जा रहा है। बाद में संबित पात्रा ने कोकाकोला के मालिक को शिकंजी बेचने वाला बताने के राहुल गांधी के बयान पर जमकर हमला बोला। साथ ही खून की दलाली वाले बयान पर भी राहुल गांधी को घेरा। जिसके बाद कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी जमीन पर धरने पर बैठ गए।इससे बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा भड़क गए और लाइव शो के दौरान ही कांग्रेस पार्टी हाय हाय का नारा लगाने लगे। बाद में कहा की राहुल गांधी को जूते से मारो। जिसका राजीव त्यागी ने कद5 विरोध किया। दोस्तों आप भी अपनी राय जरूर दें और हमे फॉलो जरूर कीजिये।

तीन लड़किया पैदा होने के बाद उस पर दवाब बना कि एक बार देवर जी के साथ ट्राई करो..... फिर जो हुआ

बार देवर जी के साथ ट्राई करो... के लिए इमेज परिणाम

TOC NEWS @ www.tocnews.org

वो बोली कि मजाक है क्या.. और मजाक बन गई उसकी जिंदगी

शादी के बाद उस महिला के तीन बेटियां हुईं तो उसके पति सहित समस्त ससुराल वालों ने उससे कहा कि अब वह अपने देवर के साथ शारीरिक संबध बनाये तो लड़का पैदा होगा. लेकिन जब उसने मना किया तो उसके साथ मारपीट की गई तथा जबरन संबंध बनाने का दवाब डाला गया लेकिन वह महिला नहीं मानी तथा कहा कि वह कोई खिलौना नहीं है जो ये सब करेगी. इसके बाद जो हुआ वो उसकी जिंदगी को मजाक बना गया, तबाह कर गया. मामला पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद का है जहाँ एक महिला के तीन बेटियां पैदा होने के बाद देवर के साथ शारीरिक संबध बनाने से इंकार करने पर शौहर ने सऊदी अरब से फोन करके तीन तलाक दे दिया.
खबर के मुताबिक़, तलाक मिलने के बाद पीड़िता अब कार्रवाई के लिए पुलिस अधिकारियों के चक्कर लगा रही है. पीड़िता का आरोप है कि पति के सऊदी जाने के बाद ससुराल वालों ने उस पर दबाव बनाने लगे कि वो पति को छोड़कर अपने देवर से शारीरिक संबध बनाये लेकिन उसने इंकार कर दिया. आपको बता दें कि पीड़िता की शादी 8 साल पहले भोजपुर के बेहड़ी गांव के रहने वाले इब्राहिम से हुई थी. शादी के वक्त पीड़िता के परिजनों ने उसके पति के परिवार को 5 लाख रुपये का सामान भी दिया था. मामला सामने आने के बाद पुलिस इस मामले की जांच में जुट गई है.
तीन तलाक पीड़िता ने बताया कि शादी के कुछ दिनों बाद ही ससुराल पक्ष के लोग प्रताड़ित करने लगे. वहीं, बेटा पैदा न कर पाने का ताना देकर परेशान करने लगे. विवाद इतना बढ़ गया कि 22 जून को इब्राहिम ने सऊदी अरब से फोन पर पत्नी को तीन तलाक दे दिया. पीड़िता ने इसकी शिकायत एसपी देहात से की जिस पर ससुरालियों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश कर दिए गए. पीड़िता घर वापस पहुंची तो ससुरालियों ने उसके घर पर ताला लगा दिया. साथ ही उसका सामान बाहर फेंक दिया. पीड़िता अपने परिजनों के साथ भोजपुर थाने पहुंची जहां से पुलिस बल लेकर ससुराल पहुंची. पुलिस ने परिजनों को समझा-बुझाकर पीड़िता का सामान दोबारा मकान में रखवा दिया है.


CCH ADD

CCH ADD
CCH ADD

Popular Posts

dhamaal Posts

जिला ब्यूरो प्रमुख / तहसील ब्यूरो प्रमुख / रिपोर्टरों की आवश्यकता है

जिला ब्यूरो प्रमुख / तहसील ब्यूरो प्रमुख / रिपोर्टरों की आवश्यकता है

ANI NEWS INDIA

‘‘ANI NEWS INDIA’’ सर्वश्रेष्ठ, निर्भीक, निष्पक्ष व खोजपूर्ण ‘‘न्यूज़ एण्ड व्यूज मिडिया ऑनलाइन नेटवर्क’’ हेतु को स्थानीय स्तर पर कर्मठ, ईमानदार एवं जुझारू कर्मचारियों की सम्पूर्ण मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ के प्रत्येक जिले एवं तहसीलों में जिला ब्यूरो प्रमुख / तहसील ब्यूरो प्रमुख / ब्लाक / पंचायत स्तर पर क्षेत्रीय रिपोर्टरों / प्रतिनिधियों / संवाददाताओं की आवश्यकता है।

कार्य क्षेत्र :- जो अपने कार्य क्षेत्र में समाचार / विज्ञापन सम्बन्धी नेटवर्क का संचालन कर सके । आवेदक के आवासीय क्षेत्र के समीपस्थ स्थानीय नियुक्ति।
आवेदन आमन्त्रित :- सम्पूर्ण विवरण बायोडाटा, योग्यता प्रमाण पत्र, पासपोर्ट आकार के स्मार्ट नवीनतम 2 फोटोग्राफ सहित अधिकतम अन्तिम तिथि 30 मई 2019 शाम 5 बजे तक स्वंय / डाक / कोरियर द्वारा आवेदन करें।
नियुक्ति :- सामान्य कार्य परीक्षण, सीधे प्रवेश ( प्रथम आये प्रथम पाये )

पारिश्रमिक :- पारिश्रमिक क्षेत्रिय स्तरीय योग्यतानुसार। ( पांच अंकों मे + )

कार्य :- उम्मीदवार को समाचार तैयार करना आना चाहिए प्रतिदिन न्यूज़ कवरेज अनिवार्य / विज्ञापन (व्यापार) मे रूचि होना अनिवार्य है.
आवश्यक सामग्री :- संसथान तय नियमों के अनुसार आवश्यक सामग्री देगा, परिचय पत्र, पीआरओ लेटर, व्यूज हेतु माइक एवं माइक आईडी दी जाएगी।
प्रशिक्षण :- चयनित उम्मीदवार को एक दिवसीय प्रशिक्षण भोपाल स्थानीय कार्यालय मे दिया जायेगा, प्रशिक्षण के उपरांत ही तय कार्यक्षेत्र की जबाबदारी दी जावेगी।
पता :- ‘‘ANI NEWS INDIA’’
‘‘न्यूज़ एण्ड व्यूज मिडिया नेटवर्क’’
23/टी-7, गोयल निकेत अपार्टमेंट, प्रेस काम्पलेक्स,
नीयर दैनिक भास्कर प्रेस, जोन-1, एम. पी. नगर, भोपाल (म.प्र.)
मोबाइल : 098932 21036


क्र. पद का नाम योग्यता
1. जिला ब्यूरो प्रमुख स्नातक
2. तहसील ब्यूरो प्रमुख / ब्लाक / हायर सेकेंडरी (12 वीं )
3. क्षेत्रीय रिपोर्टरों / प्रतिनिधियों हायर सेकेंडरी (12 वीं )
4. क्राइम रिपोर्टरों हायर सेकेंडरी (12 वीं )
5. ग्रामीण संवाददाता हाई स्कूल (10 वीं )

SUPER HIT POSTS

TIOC

''टाइम्स ऑफ क्राइम''

''टाइम्स ऑफ क्राइम''


23/टी -7, गोयल निकेत अपार्टमेंट, जोन-1,

प्रेस कॉम्पलेक्स, एम.पी. नगर, भोपाल (म.प्र.) 462011

Mobile No

98932 21036, 8989655519

किसी भी प्रकार की सूचना, जानकारी अपराधिक घटना एवं विज्ञापन, समाचार, एजेंसी और समाचार-पत्र प्राप्ति के लिए हमारे क्षेत्रिय संवाददाताओं से सम्पर्क करें।

http://tocnewsindia.blogspot.com




यदि आपको किसी विभाग में हुए भ्रष्टाचार या फिर मीडिया जगत में खबरों को लेकर हुई सौदेबाजी की खबर है तो हमें जानकारी मेल करें. हम उसे वेबसाइट पर प्रमुखता से स्थान देंगे. किसी भी तरह की जानकारी देने वाले का नाम गोपनीय रखा जायेगा.
हमारा mob no 09893221036, 8989655519 & हमारा मेल है E-mail: timesofcrime@gmail.com, toc_news@yahoo.co.in, toc_news@rediffmail.com

''टाइम्स ऑफ क्राइम''

23/टी -7, गोयल निकेत अपार्टमेंट, जोन-1, प्रेस कॉम्पलेक्स, एम.पी. नगर, भोपाल (म.प्र.) 462011
फोन नं. - 98932 21036, 8989655519

किसी भी प्रकार की सूचना, जानकारी अपराधिक घटना एवं विज्ञापन, समाचार, एजेंसी और समाचार-पत्र प्राप्ति के लिए हमारे क्षेत्रिय संवाददाताओं से सम्पर्क करें।





Followers

toc news