Showing posts with label बिजनेस. Show all posts
Showing posts with label बिजनेस. Show all posts

Monday, June 29, 2020

टमाटर हुए सुर्ख, दाम पहुंचे आसमान पर, कमरतोड़ मॅहगाई में अच्छे अच्छो के किचिन से दूर टमाटर

टमाटर हुए सुर्ख, दाम पहुंचे आसमान पर, कमरतोड़ मॅहगाई में अच्छे अच्छो के किचिन से दूर टमाटर 

TOC NEWS @ www.tocnews.org
ब्यूरो चीफ मुलताई, जिला बैतूल 
मुलताई। नगर में इन दिनों टमाटर का भाव आसमान छू रहा है तथा आवक भी कम हो रही है। बाजार में कम जगह ही टमाटर नजर आ रहे हैं जो लगभग 80 रूपए किलो बिक रहे हैं। टमाटर फिलहाल व्यापारियों के पास ही मिल रहे हैं।
व्यापारियों ने बताया कि अचानक टमाटर का आवक कम होने से भाव बढ़ गए हैं। व्यापारियों के अनुसार टमाटर नागपूर से आ रहे हैं जहां जगह पर ही टमाटर का भाव तेज होने से वे कम टमाटर ला रहे हैं तथा मजबूरी में बढ़े हुए भाव में बेचना पड़ रहा है।

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले ही टमाटर का भाव गिरकर 10 रूपए तथा 5 रूपए किलो तक हो गया था लेकिन वर्तमान में टमाटर सुर्ख हैं और भाव आसमान छू रहे हैं। 

Saturday, June 27, 2020

गुमास्ता एक्ट के नियमों का उल्लंघन करने वाले व्यापारियों पर होगी सख्त से सख्त कार्रवाई

गुमास्ता एक्ट के नियमों का उल्लंघन करने वाले व्यापारियों पर होगी सख्त से सख्त कार्रवाई

TOC NEWS @ www.tocnews.org
ब्यूरो चीफ गाडरवाराजिला नरसिंहपुर // दीपक अग्रवाल : 9039 5134 65 
गुमास्ता एक्ट के नियमों का उल्लंघन करने वाले व्यापारियों पर होगी सख्त कार्रवाई
गाडरवारा ब्रेकिंग्- गुमास्ता एक्ट के नियमों का उल्लंघन करने वाले व्यापारियों पर होगी सख्त से सख्त कार्रवाई पुलिस दलबल के साथ करेंगे भारी जुर्माना एसडीएम राजेश शाह गाडरवारा ।

.
नगर परिषद सीएमओ को जारी किया जा रहा आदेश ।
शिकायतों के बाद प्रशासन ने लिया निर्णय  ।
अगले शनिवार होगी कार्यवाही सोसल मीडिया पर रखा जाएगा ध्यान ।
एसडीओपी एसडीएम ने बैठक में लिया निर्णय ।

Friday, June 26, 2020

लेन्सेक्स उद्योग की चिमनी उगल रही है धुआँ हो रहा वायु प्रदूषण जवाबदार क्यो है मौन?

लेन्सेक्स उद्योग की चिमनी उगल रही है धुआँ हो रहा वायु प्रदूषण जवाबदार क्यो है मौन?

TOC NEWS @ www.tocnews.org
ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567
नागदा, 25 जुन 2020 गुरुवार की रात्रि के लगभग 8.30 बजे नागदा में स्थित लेन्सेक्स इण्डिया प्रा.लि की चिमनी से निकलने वाले सफ़ेद धुवे और गैस के प्रभाव से शहर में अफ़रातफ़रि का माहौल निर्मित हो गया।
सत्रों से मिली जानकारी के अनुसार रहवासी क्षेत्रो मे उद्योग से निकलने वाली गैस की वजह से लोगों की आखो में जलन और सांस की तकलिफ होने की सूचना मिली। धुवे की वजह से लोगो में बैचेनी देखी गई वही उद्योग से निकल रहा सफ़ेद धुआँ लोगो में चिंता का विषय बन गया की कहाँ से ओर किस उद्योग से आ रहा है।

#Lansex_industry
जिसकी जानकारी लोगो द्वारा एक दूसरे से फोन पर लेने की कोसिश की गई। जानकारी के अनुसार किसी भी व्यक्ति के अस्पताल पहुचने की सूचना  नही मिली है। किन्तु लोगों मे भय का माहौल निर्मित हो गया।
जब इस विषय की जानकारी एएनआई न्यूज़ इण्डिया सवाददाता को मिली तो उद्योगों के समीप जा कर देखा कि लेन्सेक्स इण्डिया प्रा.लि के पावर प्लांट की चिमनी से सफ़ेद रंग का गहरा धुआँ वातावरण में फ़ैल रहा है। धुआँ ऊपर जाने की बजाय निचे की ओर हवा के प्रभाव से बह रहा था। जिसका प्रभाव आस पास के क्षेत्रो में देखा जा सकता था।

Monday, June 15, 2020

बंजर भूमि पर लौकी की खेती से सालाना कमा रहें एक लाख, फसल चक्र अपने हुए किसान हुआ मालामाल

बंजर भूमि पर लौकी की खेती से सालाना कमा रहें एक लाख, फसल चक्र अपने हुए किसान हुआ मालामाल

TOC NEWS @ www.tocnews.org
ब्यूरो चीफ बालाघाट // वीरेंद्र श्रीवास 83196 08778
दीनी का युवा किसान तामेश चौधरी बना कृषकों के लिए मार्गदर्शक
बालाघाट. जहां पहले बालाघाट क्षेत्र के किसान धान, गेहूं और मोटी अनाज की पैदावार को अपनी आय का एक मात्र जरिया मानते थे कुछ  सोच से आगे बढ़कर वर्ष भर फसल चक्र को अपनाते हुई वर्ष में तीन अगल-अगल फसल खेती को कमाई का जरिया बनाया जिससे वह सालाना प्रति हेक्टीयर १.५-२ लाख रूपये का शुद्ध आय अर्जित करते है। जिससे जिले के युवा भी प्रभावित हो रहें है और युवा वर्ग के लिए मार्गदर्शक बन चुके है।

जिला मुख्यालय से १८ किमी दूर वारासिवनी तहसील के ग्राम दिनी के युवा किसान तामेश चौधरी ने अपने पिता पोतनलाल चौधरी व चाचा के मार्गदर्शन में  लौकी, मुंग, बरबटी और ककड़ी जैसी सह फसली खेती वरदान साबित हो रही है।   यह बंजर भूमि थी जिसे उपजाऊ बना कर फसल चक्र के आधार से खेती की जा रही है। वर्तमान में लौकी के लगभग ४००० पौधे लगाये है जिसमें प्रति पौधे से औसतन १० लौकी मिलती है। एक एकड़ में लगभग 70 से 90 क्वीटंल लौकी का उत्पादन हो जाता है बाजारों में भाव अच्छा मिल जाने पर ९0 हजार से एक लाख रुपए का शुद्ध आय होने की सम्भावना रहती है।

Monday, May 25, 2020

शराब ठेकेदारों के लिए फायदेमंद नजर आ रहा ठेका निरस्त करना

शराब ठेकेदारों के लिए फायदेमंद नजर आ रहा ठेका निरस्त करना

TOC NEWS @ www.tocnews.org
ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567
इंदौर। मध्यप्रदेश में खुली शराब दुकाने फिर से बंद हो गई है। दरसल, ठेकेदारों की मांगों को लेकर ठेकेदारों और शासन-प्रशासन के बीच तनातनी चल रही है। ग्रामों क्षेत्रों में तो शराब की दुकाने खुली ही नहीं लेकिन अन्य जिलों में भी खुली थी उन्हें भी आज से बंद करने का फैसला लिया गया है। ठेका निरस्त करवाना ज्यादा फायदेमंद नजर आ रहा है।
कर्फ्यू और लॉकडाउन के चलते लगातार शराब दुकानें बंद हैं। एक अप्रैल से नए ठेके शुरू हो जाते हैं, मगर उसके पहले 22 मार्च को लागू जनता कर्फ्यू के दिन से ही दुकानें बंद हैं, जिसके चलते नए ठेके शुरू ही नहीं हो सके। इंदौर में ठेकेदारों के समूह ने 1168 करोड़ रुपए में जिले की सभी देशी-विदेशी शराब दुकानों का ठेका लिया है, जिसमें 5 प्रतिशत ड्यूटी भी एडवांस में जमा की गई, लेकिन लॉकडाउन के चलते दुकानें ही नहीं खुल सकी।
अब लॉकडाउन-4 में प्रदेश शासन ने अपने खाली खजाने को भरने के लिए शराब दुकानें खुलवाने का निर्णय लिया और पहले चरण में ग्रीन और ऑरेंज झोन की दुकानें खुलवाई गई। और रेड झोन, जिसमें इंदौर भी शामिल है, उसमें अनुमति अनुमति नहीं दी। लिहाजा कई जिलों में शराब दुकानें खुल तो गई, लेकिन 20 से 30 प्रतिशत ही बिक्री हो रही है। ऐसे में ठेकेदारों का कहना है कि वह पूरी 100 प्रतिशत लाइसेंस फीस कैसे जमा करेंगे।
इंदौर में चूंकि सबसे अधिक महंगा ठेका दिया है और कई ठेकेदार तो चवन्नी-अठन्नी से लेकर 1 रुपए के भागीदार हैं, उनकी आर्थिक स्थिति बहुत ज्यादा बेहतर अन्य बड़े ठेकेदारों की तरह नहीं है, जिसके चलते वे तो पूरी तरह से बर्बाद ही हो जाएंगे। पिछले दिनों शासन के निर्देश पर कलेक्टर मनीष सिंह ने ग्रामीण क्षेत्र की 83 दुकानों को खोलने के आदेश दिए। मगर ठेकेदारों ने दुकानें नहीं खोली। कल फिर शासन ने दो माह की लाइसेंस फीस भी माफ की। यानी मार्च के स्थान पर मई तक छूट दी गई। इस आशय का गजट नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया गया, लेकिन इंदौर सहित प्रदेशभर के ठेकेदारों का कहना है कि शासन के नोटिफिकेशन में जो शर्तें हैं, वे उन्हें मंजूर नहीं है और जो दुकानें खुली हैं वह भी आज से बंद कर दी जाएगी।
ठेकेदारों का कहना है कि शासन हमारी व्यवहारिक कठिनाई को दूर करे और लाइसेंस फीस में राहत दी जाए और जितनी शराब की खपत हो उसके आधार पर लाइसेंस फीस ली जाए। अभी 20 से 25 प्रतिशत ही खपत होगी। ऐसे में पूरी 100 प्रतिशत फीस ठेकेदार कैसे भरेंगे। 10 से 15 प्रतिशत की कीमतों में भी शासन ने वृद्धि करने का निर्णय लिया, लेकिन ठेकेदारों का कहना है कि इससे कोई फायदा नहीं है। शासन ने ठेके निरस्त करने की चेतावनी दी है। इस पर भी ठेकेदारों का कहना है कि वे खुद तैयार हैं कि ठेके निरस्त हो जाएं, ताकि फिर से नीलामी होगी, तो आधी कीमत में ही ये ठेके अब सरकार को देना पड़ेंगे। 27 मई को जबलपुर हाईकोर्ट में भी इन्हीं मुद्दों पर लगाई गई याचिका पर फैसला आना है।
लिहाजा ठेकेदार और सरकार की निगाह इस फैसले पर टिकी है। इसके बाद निर्णय होगा। हालांकि ठेकेदारों का यह भी कहना है कि वे अगर हाईकोर्ट में हारे तो सुप्रीम कोर्ट भी जाएंगे। वहीं उनकी 5 प्रतिशत जमा की गई राशि भी शासन राजसात नहीं कर पाएगा। उसके लिए भी कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे और 5 प्रतिशत राशि अगर डूब भी गई तो भी ठेका चलाने की तुलना में यह कम घाटे का सौदा फायदेमंद रहेगा।

Monday, May 11, 2020

भेल की 6 हजार एकड़ भूमि में से कुल 1164.21 एकड़ भूमि मध्यप्रदेश शासन के नाम दर्ज होगी

भेल की 6 हजार एकड़ भूमि में से कुल 1164.21 एकड़ भूमि मध्यप्रदेश शासन के नाम दर्ज होगी

TOC NEWS @ www.tocnews.org
भोपाल // विनय जी. डेविड 9893221036 
भोपाल : राजस्व विभाग द्वारा कलेक्टर भोपाल को निर्देशित किया गया है कि बीएचईएल (BHEL) के आधिपत्य में सौंपी गई 6 हजार एकड़ भूमि में से कुल 1164.21 एकड़ भूमि, जो भेल द्वारा उपयोग में नहीं लाई जा रही है, को मध्यप्रदेश शासन राजस्व विभाग के नाम दर्ज किया जाये। इस भूमि का उपयोग औद्योगिक निवेश बढ़ाने में किया जायेगा।
गौरतलब है कि राज्य शासन द्वारा भेल को नगर निगम भोपाल की सीमाओं में स्थित लगभग 6 हजार एकड़ शासकीय भूमि का वर्ष 1959 से 1962 के मध्य आधिपत्य सौंपा गया था। यह भूमि कारखाना स्थापित करने एवं अन्य आनुषंगिक गतिविधियों के लिये आधिपत्य में दी गई थी। इस भूमि में से लगभग 1164.21 एकड़ भूमि का भेल द्वारा कोई उपयोग नहीं किया जा रहा है।
राजस्व विभाग द्वारा कलेक्टर भोपाल को भेल (बी.एच.ई.एल.) के आधिपत्य में सौंपी गई 6 हजार एकड़ भूमि के संबंध में जरूरी कार्यवाही के निर्देश दिये गये हैं। भेल द्वारा 3121.40 एकड़ भूमि का उपयोग वर्तमान में कारखाना एवं अन्य आनुषंगिक गतिविधियों के लिये किया जा रहा है। इस भूमि के भेल के पक्ष में विधिवत आवंटन के लिये प्रस्ताव राजस्व विभाग को भेजें, जिससे आवंटन आदेश एवं पट्टा देने की कार्यवाही की जा सके।
भेल से 611.45 एकड़ भूमि वापस लेकर अन्य विभागों/उपक्रमों को दी गई, परंतु अभी भी इस भूमि में भेल का नाम राजस्व अभिलेख में दर्ज है। ऐसे प्रकरणों में यथास्थिति हस्तांतरण संबंधित विभागों को (मध्यप्रदेश शासन के विभागों के मामले में) किया जाये अथवा भूमि का आवंटन संबंधित विभागों/ उपक्रमों को ( भारत शासन के विभाग, अन्य राज्य शासन के विभाग/उपक्रम एवं राज्य शासन के उपक्रम के मामलों में) करने के लिये यथोचित प्रस्ताव राजस्व विभाग को भेजें।
कुल 1084.62 एकड़ भूमि जो राज्य और केन्द्र शासन के विभागों एवं संस्थानों द्वारा उपयोग में लाई जा रही है, तथा संबंधित विभाग का नाम दर्ज है, इन प्रकरणों में यदि संबंधित विभाग मध्यप्रदेश शासन का न होकर केन्द्र शासन का है अथवा संबंधित संस्थान मध्यप्रदेश, केन्द्र शासन अथवा अन्य राज्य शासन का उपक्रम है और इन्हें भूमि का विधिवत आवंटन आदेश जारी नहीं किया गया है तो इस संबंध में यथोचित प्रस्ताव राजस्व विभाग को भेजा जाये।

Monday, May 4, 2020

अब दारू की होगी होम डिलीवरी लॉकडाउन के दौरान, आबकारी विभाग ने बनायी व्यवस्था, इस वेबसाईट अथवा एप से कर सकेंगे बुकिंग

 Now Daru will have home delivery

TOC NEWS @ www.tocnews.org
जिला ब्यूरो चीफ रायगढ़  // उत्सव वैश्य : 9827482822 
  • मदिरा की बुकिंग की वेबसाइट का http://csmcl.in
  • बुकिंग वेबसाइट http://csmcl.in में जाकर डाउनलोड एन्ड्रायड बटन को क्लिक कर अथवा गूगल प्ले स्टोर में CSMCL APP
रायगढ़, छत्तीसगढ़ शासन द्वारा 4 मई से सोशल एवं पर्सनल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए राज्य की मदिरा दुकानों को संचालित करने के निर्देश जारी किए है और सोशल डिस्टेंसिंग एवं कोविड-19 के फैलाव को नियंत्रित करने के उद्देश्य से होम डिलेवरी की अनुमति भी शासन के द्वारा प्रदान की गई है।
राज्य की मदिरा दुकानें छत्तीसगढ़ स्टेट मार्केटिंग कार्पोरेशन के द्वारा संचालित है। शासन के आदेश के पालन में मदिरा दुकानों में भीड़ को नियंत्रित करने सोशल एवं पर्सनल डिस्टेंसिंग के पालन की दृष्टि से डिलेवरी बॉय के माध्यम से मदिरा प्रदाय की व्यवस्था की शुरूआत की गई है। मदिरा की बुकिंग की वेबसाइट का http://csmcl.in है।
उक्त वेबसाइट के माध्यम से मदिरा की डिलेवरी की बुकिंग की जा सकती है। बुकिंग वेबसाइट http://csmcl.in में जाकर डाउनलोड एन्ड्रायड बटन को क्लिक कर अथवा गूगल प्ले स्टोर में CSMCL APP खोज कर उसे एन्ड्रायड मोबाइल में इंस्टॉल किया जा सकता है तथा मोबाइल के माध्यम से भी बुकिंग की जा सकती है। ग्राहक को अपना मोबाइल नंबर, आधार कार्ड तथा पूर्ण पता दर्ज कर पंजीयन करना होगा। पंजीयन ओटीपी के माध्यम से कन्फर्म होगा। पंजीयन उपरांत ग्राहक को लॉगिन करने के पश्चात अपने जिले के निकट के 1 विदेशी दुकान, 1 देशी दुकान तथा एक प्रीमियम दुकान को ड्रॉप डाउन के माध्यम से लिंक करने की सुविधा प्रदान की गई है। 
ग्राहक की सुविधा के लिए जिले की समस्त मदिरा दुकानों को गूगल मैप पर देखने की सुविधा भी प्रदान की गई है जिससे ग्राहक के द्वारा आसानी से अपनी निकट की दुकान का चयन कर लिंक किया जा सकता है। लिंक की गई दुकान से मदिरा होम डिलिवरी के लिए बुक की जा सकती है। ग्राहक को संबंधित मदिरा दुकान में उपलब्ध मदिरा की सूची एवं उसका मूल्य प्रदर्शित किया गया है जिसमें से अपनी पसंद की मदिरा को अपनी आवश्यकता अनुसार क्रय सकता है। ग्राहक एक मदिरा दुकान से एक बार में 5000 एमएल तक मदिरा डोर डिलिवरी के माध्यम से प्राप्त कर सकता है।
ग्राहक के द्वारा बुक की गई मदिरा सुपरवायजर के द्वारा पैक किए जाने पर ग्राहक को स्वत: ओटीपी प्राप्त हो जाएगी। डिलिवरी बॉय के द्वारा आर्डर की गई मदिरा प्रदान किए जाने पर उन्हें मदिरा की मूल्य तथा डिलिवरी चार्ज रुपए 120 का भुगतान करना होगा। भुगतान पश्चात ग्राहक को ओटीपी डिलिवरी बॉय को डिलिवरी पूर्ण करने के लिए प्रदान करना होगा। इस प्रकार बुक की गई मदिरा की डिलिवरी पूर्ण हो जाएगी।

Tuesday, April 28, 2020

कोविड 19 के योद्धाओं को रिलांयस जियो ने भेट किये सुरक्षा कवच

कोविड 19 के योद्धाओं को रिलांयस जियो ने भेट किये सुरक्षा कवच

TOC NEWS @ www.tocnews.org
ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567
तीन बड़ी औद्योगिक इकाइयां होने के बाद भी नही मिल रही योद्धाओं को सुविधा, नींद में है उद्योग
नागदा जं.। औद्योगिक शहर नागदा के सरकारी अस्पताल मे स्वास्थ्य विभाग की टीम के मुख्य चिकित्सा अधिकारी कमल सोलंकी को रिलायंस जियो के मोहित प्रधान ने 20 ( पी.पी.किट ) सुरक्षा कवच भेट किये ।
रिलांयस जियो के श्री प्रधान ने नरसिंह मेडिकल के संचालक शशांक सेठिया से 20 सुरक्षा कीट मँगवाने का अनुरोध किया जिस पर श्री सेठिया ने किट उप्लब्ध कराई । जिसे आज मंगलवार के शुभ दिन रिलांयस जियो ने डॉ. कमल सोलंकी को देते हुये हर्ष व्याप्त किया।
वही आज एक बात और निकल कर सामने आई की जब से देश, प्रदेश, जिला, नगर में लॉक डाऊन लगा है सभी समाज सेवकों एव जन प्रतिनिधियों ने स्वास्थ्य विभाग के कार्यो को देखते हुये सुरक्षा किट उपलब्ध कराई है। स्वास्थ्य विभाग की टीम रातो दिन नागदा और आस पास के क्षेत्रों मे कोरोना संक्रमित लोंगों की जांच में अपनी जान जोखिम में डाल अपने कर्तव्यों का पालन करने मे लगे हुये है। इसे देखते हुवे समाज सेवियों एव जन प्रतिनिधियों ने हर सम्भव मदद स्वास्थ्य विभाग की कर रहे है और आगे भी करते रहेंगे।
नागदा औद्योगिक शहर के नाम से देश ओर दुनिया मे विख्यात होने के बाद भी शहर मे संचालित तीन बड़े उद्योग ग्रेसिम स्टेबल फायबर, केमिकल डिविजन और जर्मनी की बहुराष्ट्रीय कम्पनी लेन्सेक्स इण्डिया प्रायवेट लिमिटेड होने के बाद भी उद्योगों को यहा के स्वास्थ्य विभाग को ले कर कोई चिंता नही दिखाई देती है। लॉक डाऊन से आज तक स्वास्थ्य विभाग को कोई भी सुविधा उप्लब्ध नही कराई गई है। केमिकल डिविजन ने हाइपो क्लोराइड के केवल दो ड्रम स्वास्थ्य विभाग को दीये है वह भी मंगाए जाने के बाद।
क्या शहर मेँ उद्योगों की कोई जवाबदेही नही - ऊँची दुकान फीके पकवान - कहावत सही ही है
जब उद्योगो मे नागदा शहर के निवासरत श्रमिकों ओर मजदूरों से काम लिया जाता है । मजदूरों के स्वास्थ्य की चिंता यहां का सरकारी स्वास्थ्य विभाग कर रहा है तो उनकी चिंता ये उद्योग क्यों नही कर रहे यह सोचने का विषय है।

Saturday, April 25, 2020

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने लांच की जीवन-शक्ति योजना, घर-घर महिलाएँ बनाएंगी मास्क, कमाएँगी लाभ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने लांच की जीवन-शक्ति योजना, घर-घर महिलाएँ बनाएंगी मास्क, कमाएँगी लाभ

TOC NEWS @ www.tocnews.org
खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036
भोपाल :  मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज मंत्रालय में जीवन-शक्ति योजना लॉन्च की। इसके अंतर्गत शहरी क्षेत्रों में महिलाएँ घर-घर मास्क बनाएँगी तथा लाभ कमाएँगी।
सरकार प्रति मास्क उन्हें 11 रुपये की राशि तुरंत उपलब्ध कराएगी। श्री चौहान ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से  मास्क बनाने के लिए पंजीयन करा चुकी महिलाओं से बातचीत करते हुए कहा कि मास्क बनाकर वे न केवल लाभ कमाएँगी बल्कि एक पुण्य कार्य में भागीदारी भी करेंगी।
मास्क पहनने से लोगों का जीवन बचेगा। यह मास्क कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकेगा। मुख्यमंत्री ने राबिया खान भोपाल, साइना बी नीमच, वृंदा अहिरवार रायसेन, वर्षा जोशी इंदौर, गरिमा उज्जैन, तथा नूरी गुना से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत की तथा मास्क के निर्माण के संबंध में जानकारी दी। 
मुख्यमंत्री ने बताया कि मास्क बनाने की इच्छुक महिलाओं को उनके टेलीफोन अथवा मोबाइल फोन के माध्यम से कॉल सेंटर नंबर 0755-2700800 पर कॉल कर अपना पंजीयन कराना होगा। पंजीयन के बाद उन्हें मोबाइल पर ही मास्क बनाने का ऑर्डर मिल जाएगा। एक बार में उन्हें कम से कम 200 मास्क बनाने का आर्डर मिलेगा। मास्क सूती कपड़े का बनना है। मास्क बनाने के बाद वे अपने नगरीय निकाय में नोडल अधिकारी के पास अपने बनाए गए मास्क जमा करा देंगी।
मास्क जमा कराते ही उनको भुगतान की कार्रवाई की जाएगी। भुगतान उसी दिन अथवा अगले दिन उनके खाते में प्राप्त हो जाएगा।  इस अवसर पर मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, पुलिस महानिदेशक श्री विवेक जौहरी, प्रमुख सचिव नगरीय प्रशासन श्री संजय दुबे, प्रमुख सचिव उद्योग डॉ. राजेश राजौरा और सचिव जनसंपर्क श्री पी. नरहरि भी उपस्थित थे।

Friday, April 10, 2020

दो व्यापारियों ने लगाया ब्लैक मार्केटिंक का आरोप नगर पालिका के बाहर आपस में भिड़े, वीडियो में देखें कैसे लगाये आरोप

दो व्यापारियों ने लगाया ब्लैक मार्केटिंक का आरोप नगर पालिका के बाहर आपस में भिड़े, वीडियो में देखें कैसे लगाये आरोप 
TOC NEWS @ www.tocnews.org
ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 83058955
नागदा. एसडीएम के आदेश के बाद नगर पालिका ने जारी किये किराना व्यापारियो को होम डिलीवरी के लिये पास जिसमें नागदा व्यापारी संघ को दरकिनार किया गया । दोनों व्यापारी संगठनों में मतभेद की लडाई पहले से है, जिस पर दिनेश अग्रवाल और मनोज राठी के बीच विवाद हो गया। राठी पर अग्रवाल ने लगाये अवैध वसूली के आरोप लगाए है।

घर पर रहें, सतर्क रहें, सुरक्षित रहें, सावधान रहें, ANI News India की अपील 

Tuesday, April 7, 2020

WhatsApp नया फरमान जारी किया : अब एक समय में सिर्फ एक चैट, आप भी जान लें

WhatsApp नया फरमान जारी किया : अब एक समय में सिर्फ एक चैट, आप भी जान लें

TOC NEWS @ www.tocnews.org
खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036
नई दिल्ली : वॉट्सऐप को लेकर नया फरमान जारी किया गया है। वॉट्सऐप ने फॉरवर्ड किए गए मैसेज को लेकर नए लिमिट का ऐलान किया है। कंपनी ने कोरोना वायरस को लेकर तेजी से फैल रहीं गलत जानकारियों को ध्यान में रख कर ये फैसला लिया है। क्योंकि गलत जानकारियों की वजह से लोग भ्रमित हो जाए रहें है और कई बार गलत कदम भी उठा रहें हैं।

मैसेज पर एक लेबल लगाना शुरू किया

वॉट्सऐप पर ज्यादा फॉरवर्ड किए गए मैसेज मतलब की ऐसा कोई मैसेज जो पांच बार से ज्यादा बार फॉरवर्ड किया जा चुका है। गौरतलब है कि बीते साल कंपनी ने फॉरवर्ड किए जा रहे मैसेज पर एक लेबल लगाना शुरू किया था जिससे वॉट्सऐप यूजर्स को ये पता चल सके कि ये मैसेज फॉरवर्डेड है।
वॉट्सऐप पर मैसेज फॉरवर्ड को लेकर कंपनी ने कहा है, ‘हमें पता है कि कई यूजर्स जरूरी जानकारियां वॉट्सऐप के जरिए एक दूसरे को फॉरवर्ड करते हैं। इनमें फनी वीडियोज, मीम्स और प्रेयर्स होते हैं जो उन्हें जरूरी लगते हैं’।
आगे कंपनी ने कहा है कि हाल के कुछ हफ्तों में लोगों ने फ्रंटलाइन हेल्थ वर्कर्स को लेकर पब्लिक मोमेंट ऑर्गनाइज करने के लिए वॉट्सऐप यूज किया है।

गलत इनफॉर्मेशन को रोकने के लिए

वॉट्सऐप के अनुसार, हाल ही में वॉट्सऐप फॉर्वर्ड मैसेज में बढ़ोतरी दर्ज की गई है और ये गलत जानकारी फैलाने का भी काम कर सकते हैं। इस पर कंपनी का मानना है कि इस तरह के गलत इनफॉर्मेशन को रोकने के लिए मैसेज रोकने जरूरी हैं जो तेजी से फैल रहे हैं।
कंपनी ने अपने ब्लॉगपोस्ट में इस बात पर भी जोर दिया है कि वॉट्सऐप पर्सनल यूज के लिए है और इसे पर्सनल प्लेस के तौर पर ही रखना चाहिए।
मैसेज फॉरवर्ड पर कंपनी ने ये भी कहा है कि मैसेज फॉरवर्ड करना गलत बात नहीं है। वॉट्सऐप इस बदलाव के अलावा एनजीओ, सरकार और डब्ल्यू एच ओ के साथ भी मिल कर काम कर रहा है ताकि लोगों तक सही जानकारी पहुंचाई जा सके।

Saturday, March 28, 2020

हिंडाल्को प्रबंधक की गुंडागर्दी जिला शासन-प्रशासन की चमचागिरी, सिंगरौली में हिंडाल्को प्रबंधन की तानाशाही, कोरोना वायरस की मार झेलने को मजबूर क्षेत्र के मजदूर

हिंडाल्को प्रबंधक की गुंडागर्दी जिला शासन-प्रशासन की चमचागिरी, सिंगरौली में हिंडाल्को प्रबंधन की तानाशाही, कोरोना वायरस की मार झेलने को मजबूर क्षेत्र के मजदूर

TOC NEWS @ www.tocnews.org
जिला ब्यूरो चीफ सिंगरौली  // नीरज गुप्ता  7771822877 
सिंगरौली । गौरतलब है कि जहां देश - विदेश में ब्यप्त महा प्रचंड कोरोना वायरस के खौफ से मानव प्रजाति विलुप्त होने की कगार पर अग्रसर नजर आ रही वही मध्य प्रदेश के सिंगरौली जिला में स्थित आदित्य बिरला की महान ऐल्युमिनियाँ प्लांट हिंडाल्को प्रमुख रतन सोमानी की जिला शासन - प्रशासन की मिलीभगत से क्षेत्र के भोली-भाली मजदूरों के साथ किया जा रहा गुंडागर्दी सुर्खियों में है| 
जहाँ एक ओर देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र दामोदर दास मोदी जी देश वाशियों से अपील करते रहे गई कि कोई भी अपने घरों से बाहर न निकले वरना होगी सख्त कार्यवाही वही हिंडाल्को द्वारा कम्पनी की प्रोडक्सन बंद करने के बजाये क्षेत्र के बेकसूर मजदूरों का परिवहन गाय - बकरियों की भांति करा कम्पनी की प्रोडक्सन को सुचारू रूप से चालू रखने में जिला के शासन - प्रशासन के जिम्मेदार अधिकारियों को आर्थिक मदद दिया जा रहा जोड़ो पर.
वही अगर उक्त खबर किसी भी पत्रकार द्वारा चलाये जाने की सूरत में ANI News India के पत्रकार नीरज गुप्ता पर बरगवां थाना में एक गंभीर मामला भी दर्ज करा उसकी गिरफ्तारी हेतु एक कुख्यात अपराधियों की भांति 10 हजार का इनाम भी मौखित रूप से रख क्षेत्रवाशियों को घोषित कर दिया गया | 
अब ऐसे में देश के प्रधान मंत्री की घोषित आपातकाल की इस बेला में क्या महा प्रचंड कोरोना वायरस मात्र गरीबों को ही मात्र "जो रासन के लिए घरों से निकलने वाले को" प्रभाव देना बताया गया | यह कौन बतायेगा | अब यह कौन बतायेगा की कौन है इसका जिम्मेदार।

Thursday, March 26, 2020

महा प्रचंड रूप लिए कोरोना वायरस की गंभीरता को देखते हुए देश के प्रधान मंत्री के आव्हान लॉक डाउन हुआ फुस, आखिर क्यों, कौन बतायेगा

महा प्रचंड रूप लिए कोरोना वायरस की गंभीरता को देखते हुए देश के प्रधान मंत्री के आव्हान लॉक डाउन हुआ फुस, आखिर क्यों, कौन बतायेगा

TOC NEWS @ www.tocnews.org
जिला ब्यूरो चीफ सिंगरौली  // नीरज गुप्ता  7771822877 
  • महान एल्युमिनियम प्लांट हिंडाल्को बरगवां क्यों नही हुआ लॉक डाउन, कौन बतायेगा |
  • आखिरकार जिम्मेदार जिला शासन - प्रशासन हिंडाल्को पर इतने मेहरवान क्यों, हिंडाल्को लॉक डाउन क्यों नही हुआ
जैसा कि महा प्रचंड रूप धारण किये कोरोना वायरस की गंभीरता को देखते हुए देश के माननीय प्रधान मंत्री देश को संबोधित करते हुए और देश में लॉक डाउन का आवाह्न किया गया | जिसमे मात्र मेडिकल, खाने का सामान की दुकान, और इलेक्ट्रिसिटी प्रोडक्सन के अलावा सारे प्रोडक्सन बन किया गया | कोई भी अपने घरों से बाहर नही निकलने का आदेश जारी किया गया | बावजूद इसके जिला शासन - प्रशासन की मिलीभगत से हिंडाल्को द्वारा अपने कम्पनी के प्रोडक्सन को बंद नही किया जाना कहा तक सही यह कौन बतायेगा | आखिरकार भोली-भाली मजदूरों का जीवन इतनी सस्ती कैसे, कौन बतायेगा |
जहां देश के हर कोनों में अगर कोई गरीब घर से बाहर निकलता है तो उसे पुलिस प्रशासन उसे मार कर घर के अंदर भेज दिया जाता रहा है | वही हिंडाल्को में उसके मजदूरों को शिप्ट बस के सहारे कम्पनी अंदर जाने से क्यों नही रोका जाता रहा हैं कौन बतायेगा | आखिरकार देश के प्रधान मंत्री द्वारा देश मे आपातकाल जारी करने के बाद भी हिंडाल्को कम्पनी और सिंगरौली जिला शासन - प्रशासन की तानासाही के चलते क्षेत्र के मजदूरों के जीवन के साथ खुल्लम - खुल्ला खेला जाता रहा खिलवाड़ का जिम्मेदार कौन, कौन बतायेगा |
हिंडाल्को की तानाशाही से अगर क्षेत्र में ब्याप्त हुआ महा प्रचंड कोरोना वायरस तो उसका जिम्मेदार कौन, कौन बतायेगा |

Tuesday, March 24, 2020

नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण को लेकर औद्योगिक संस्थान में बरती जा रही थी लापरवाही, मां शाकंम्बरी स्टील प्लांट को किया सील

नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण को लेकर औद्योगिक संस्थान में बरती जा रही थी लापरवाही, मां शाकंम्बरी स्टील प्लांट को किया सील

TOC NEWS @ www.tocnews.org
जिला ब्यूरो चीफ रायगढ़  // उत्सव वैश्य : 9827482822 
  • थाना चक्रधरनगर अंतर्गत मां शाकंम्बरी स्टील प्लांट अग्रिम आदेश तक सील
  • एसडीएम रायगढ़ एवं थाना प्रभारी चक्रधरनगर की संयुक्त कार्यवाही
  • नोवल कोरोनावायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण को लेकर औद्योगिक संस्थान में बरती जा रही थी लापरवाही
रायगढ़. जिला कलेक्टर रायगढ़ एवं पुलिस अधीक्षक रायगढ़ के दिशा निर्देशन पर आज एसडीएम रायगढ़ एवं थाना प्रभारी चक्रधरनगर की संयुक्त टीम द्वारा ग्राम संबलपुरी स्थित शाकम्बरी स्टील प्लांट को अग्रिम आदेश तक सील किया गया है।
विदित है कि छत्तीसगढ़ शासन वाणिज्य एवं उद्योग विभाग मंत्रालय महानदी भवन नया रायपुर अटल नगर द्वारा दिनांक 23.03.2020 को समस्त कलेक्टर एवं समस्त मुख्य महाप्रबंधक प्रबंधक जिला व्यापार एवं उद्योग केंद्र छत्तीसगढ़ को छत्तीसगढ़ राज्य के औद्योगिक संस्थानों में नोबेल कोरोनावायरस कॉविड-19 के संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण के संबंध में प्रमुख सचिव द्वारा अधोहस्ताक्षरित निर्देश जारी किया गया था.
जिसके अनुसार भारत शासन द्वारा वह इकाई जो आवश्यक सेवाओं की सूची में अनुमत हो यह जैसे खाद्य प्रसंस्करण, चिकित्सा से संबंधित आवश्यक दवाएं एवं उपकरण से संबंधित औद्योगिक संस्थानों सेवाओं का प्रचलन किए जाने निर्देशित किया गया था साथ ही शेष औद्योगिक संस्थानों को तत्काल प्रभाव से आगामी आदेश तक उत्पादन एवं संचालन बंद कराने के निर्देश दिए गए थे
जिस के परिपालन में आज जिला कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक रायगढ़ के दिशा निर्देशन पर थाना चक्रधरनगर अंतर्गत ग्राम संबलपुरी स्थित मां शाकम्बरी स्टील प्लांट में कार्य होने की सूचना पर एसडीएम रायगढ़ श्री आशीष देवांगन एवं थाना प्रभारी चक्रधरनगर निरीक्षक विवेक पाटले अपने स्टाफ के साथ मां शाकम्बरी प्लांट जाकर तस्दीकी किया गया ।
प्लांट में कार्य पूर्व की भांति अनवरत जारी मिला जिसे एसडीएम रायगढ़ द्वारा पंचनामा कर सील किया गया है ।साथ ही पृथक से थाना चक्रधरनगर में अपराध पंजीबद्ध की कार्यवाही की जा रही है।

Sunday, March 22, 2020

श्रमिकों एवं कर्मचारियों को वेतन, अवकाश एवं अन्य आवश्यक सुविधाएं देने के लिए कारखाना ,फैक्टरी व प्लांट के मालिको को निर्देश जारी

श्रमिकों एवं कर्मचारियों को वेतन के लिए इमेज नतीजे
श्रमिकों एवं कर्मचारियों को वेतन, अवकाश एवं अन्य आवश्यक सुविधाएं देने के लिए कारखाना ,फैक्टरी व प्लांट के मालिको को निर्देश जारी
TOC NEWS @ www.tocnews.org
जिला ब्यूरो चीफ रायगढ़  // उत्सव वैश्य : 9827482822 
रायगढ़, नोवेल कोरोना वायरस के कारण उत्पन्न परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए श्रम विभाग द्वारा समस्त नियोजक, अधिभोगी, कारखाना प्रबंधक, प्रोपाईटर, संस्था-प्रतिष्ठान को अपने संस्थान एवं स्थापना में कार्यरत कर्मचारी व श्रमिक ( स्थायी, अस्थायी, ठेका ) आदि को स्वास्थ्य, सुरक्षा, वेतन, भत्ता एवं अन्य सुविधाओं देने तथा उनके परिवार के सदस्यों को वैधानिक, सामाजिक एवं आर्थिक सुरक्षा प्रदान के निर्देश दिए है।
यह भी निर्देश दिए गए है कि कार्यरत कर्मचारी, कर्मकार, श्रमिक आदि को सहूलियत के हिसाब से कार्य करायेें जाए और आवश्यक होने पर उनके निवास से भी कार्य करने हेतु व्यवस्था करें। यदि कोई कोरोना से पीडि़त हो तो उसके स्वास्थ्य लाभ हेतु संपूर्ण सहयोग के साथ-साथ आवश्यकतानुसार सवैतनिक अवकाश प्रदाय करें। यदि किसी कर्मचारी, श्रमिक के परिवार का कोई भी सदस्य इस बीमारी से पीडि़त हो तो उनके उपचार एवं सहयोग हेतु सवैतनिक अवकाश प्रदाय करें।
साथ ही श्रमिक या कर्मचारी तथा उनके परिवार के सदस्य अन्य कारणों से भी बीमार हो तो भी उन्हें सवैतनिक अवकाश एवं अन्य सहूलियत प्रदान करें। वर्तमान माहौल के परिस्थिति में संस्थान में कार्यरत किसी भी कर्मचारी, कर्मकार, श्रमिक आदि की सेवाएं समाप्त, छटनी, सर्विस बे्रेक न करे और न ही किसी कर्मचारियों का वेतन अथवा देय स्वत्वों में कोई कटौती करें।

Thursday, March 19, 2020

मौलिक अधिकारों के हनन एवं ओद्यौगिक प्रदूषण की जांच होगी, 5 सदस्यीय जांच दल गठित

मौलिक अधिकारों के हनन एवं ओद्यौगिक प्रदूषण की जांच होगी, 5 सदस्यीय जांच दल गठित

TOC NEWS @ www.tocnews.org
ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567
नागदा जं. ओद्यौगिक नगर नागदा में आम नागरिकों के मौलिक अधिकारों के हनन के मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग की नई दिल्ली बेंच के निर्देश पर जिला कलेक्टर एवं दंडाधिकारी उज्जैन द्वारा गठित 5 सदस्यीय जांच दल कल दिनांक 20/03/2020 को नागदा स्थित ओद्यौगिक इकाइयों का दौरा कर गंभीर जल, वायु एवं भूमि प्रदूषण एवं विगत 10 वर्षों में उद्योगों में कार्यरत श्रमिकों की मृत्यु सहित विभिन्न अनियमितताओं एवं मामलों में जांच कर अपनी रिपोर्ट मध्यप्रदेश शासन के माध्यम से राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग में दर्ज केस में प्रस्तुत करेंगी।
याचिकाकर्ता दीपक 'पप्पी' शर्मा ने बताया कि उनकी याचिका के संबंध में अनुविभागीय अधिकारी, नागदा की अध्यक्षता में गठित जांच दल द्वारा कल उद्योगों एवं शिकायत के बिंदुओं के संबंध में चिन्हित विभागों का निरीक्षण करेगी । उक्त समिति में श्री एसके धारीवाल (कार्यपालन यंत्री, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, उज्जैन), डॉ. अनुसुइया गवली ( जिला स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी, उज्जैन) श्री सतीश मट्सैनिया (मुख्य नगरपालिका अधिकारी, नागदा) श्री एसएन द्विवेदी ( क्षेत्रीय अधिकारी, मध्यप्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, उज्जैन) एवं श्री आत्माराम सोनी ( महाप्रबंधक, ओद्यौगिक विकास निगम, उज्जैन) को कल की कार्यवाही में स्वयं शामिल होने से संबंधित निर्देश अनुविभागीय अधिकारी नागदा ने जारी कर दिए है ।
दीपक शर्मा ने बताया कि उनके द्वारा विगत कई वर्षों से नागदा के आम नागरिकों को भारतीय संविधान के अनुच्छेद 21 के अन्तर्गत प्रदान मौलिक अधिकारों के उल्लघन एवं क्षेत्र में गंभीर जल, वायु एवं भूमि प्रदूषण की शिकायत की गई थी। जिसपर आयोग के अध्यक्ष जस्टिस एचएल दत्तू द्वारा जिला कलेक्टर, उज्जैन और चेयरमैन, मध्यप्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को रिपोर्ट प्रस्तुत करने के आदेश पूर्व में जारी किए गए थे जिसपर किसी प्रकार की कार्यवाही नहीं करने पर आयोग द्वारा दोबारा दिशानिर्देश जारी करने के पश्चात आनन फानन में जांच दल का गठन किया गया था जो अब उक्त मामले में जांच कर अपनी रिपोर्ट शासन को प्रस्तुत करेगा ।

CCH ADD

CCH ADD
CCH ADD

Popular Posts

dhamaal Posts

जिला ब्यूरो प्रमुख / तहसील ब्यूरो प्रमुख / रिपोर्टरों की आवश्यकता है

जिला ब्यूरो प्रमुख / तहसील ब्यूरो प्रमुख / रिपोर्टरों की आवश्यकता है

ANI NEWS INDIA

‘‘ANI NEWS INDIA’’ सर्वश्रेष्ठ, निर्भीक, निष्पक्ष व खोजपूर्ण ‘‘न्यूज़ एण्ड व्यूज मिडिया ऑनलाइन नेटवर्क’’ हेतु को स्थानीय स्तर पर कर्मठ, ईमानदार एवं जुझारू कर्मचारियों की सम्पूर्ण मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ के प्रत्येक जिले एवं तहसीलों में जिला ब्यूरो प्रमुख / तहसील ब्यूरो प्रमुख / ब्लाक / पंचायत स्तर पर क्षेत्रीय रिपोर्टरों / प्रतिनिधियों / संवाददाताओं की आवश्यकता है।

कार्य क्षेत्र :- जो अपने कार्य क्षेत्र में समाचार / विज्ञापन सम्बन्धी नेटवर्क का संचालन कर सके । आवेदक के आवासीय क्षेत्र के समीपस्थ स्थानीय नियुक्ति।
आवेदन आमन्त्रित :- सम्पूर्ण विवरण बायोडाटा, योग्यता प्रमाण पत्र, पासपोर्ट आकार के स्मार्ट नवीनतम 2 फोटोग्राफ सहित अधिकतम अन्तिम तिथि 30 मई 2019 शाम 5 बजे तक स्वंय / डाक / कोरियर द्वारा आवेदन करें।
नियुक्ति :- सामान्य कार्य परीक्षण, सीधे प्रवेश ( प्रथम आये प्रथम पाये )

पारिश्रमिक :- पारिश्रमिक क्षेत्रिय स्तरीय योग्यतानुसार। ( पांच अंकों मे + )

कार्य :- उम्मीदवार को समाचार तैयार करना आना चाहिए प्रतिदिन न्यूज़ कवरेज अनिवार्य / विज्ञापन (व्यापार) मे रूचि होना अनिवार्य है.
आवश्यक सामग्री :- संसथान तय नियमों के अनुसार आवश्यक सामग्री देगा, परिचय पत्र, पीआरओ लेटर, व्यूज हेतु माइक एवं माइक आईडी दी जाएगी।
प्रशिक्षण :- चयनित उम्मीदवार को एक दिवसीय प्रशिक्षण भोपाल स्थानीय कार्यालय मे दिया जायेगा, प्रशिक्षण के उपरांत ही तय कार्यक्षेत्र की जबाबदारी दी जावेगी।
पता :- ‘‘ANI NEWS INDIA’’
‘‘न्यूज़ एण्ड व्यूज मिडिया नेटवर्क’’
23/टी-7, गोयल निकेत अपार्टमेंट, प्रेस काम्पलेक्स,
नीयर दैनिक भास्कर प्रेस, जोन-1, एम. पी. नगर, भोपाल (म.प्र.)
मोबाइल : 098932 21036


क्र. पद का नाम योग्यता
1. जिला ब्यूरो प्रमुख स्नातक
2. तहसील ब्यूरो प्रमुख / ब्लाक / हायर सेकेंडरी (12 वीं )
3. क्षेत्रीय रिपोर्टरों / प्रतिनिधियों हायर सेकेंडरी (12 वीं )
4. क्राइम रिपोर्टरों हायर सेकेंडरी (12 वीं )
5. ग्रामीण संवाददाता हाई स्कूल (10 वीं )

SUPER HIT POSTS

TIOC

''टाइम्स ऑफ क्राइम''

''टाइम्स ऑफ क्राइम''


23/टी -7, गोयल निकेत अपार्टमेंट, जोन-1,

प्रेस कॉम्पलेक्स, एम.पी. नगर, भोपाल (म.प्र.) 462011

Mobile No

98932 21036, 8989655519

किसी भी प्रकार की सूचना, जानकारी अपराधिक घटना एवं विज्ञापन, समाचार, एजेंसी और समाचार-पत्र प्राप्ति के लिए हमारे क्षेत्रिय संवाददाताओं से सम्पर्क करें।

http://tocnewsindia.blogspot.com




यदि आपको किसी विभाग में हुए भ्रष्टाचार या फिर मीडिया जगत में खबरों को लेकर हुई सौदेबाजी की खबर है तो हमें जानकारी मेल करें. हम उसे वेबसाइट पर प्रमुखता से स्थान देंगे. किसी भी तरह की जानकारी देने वाले का नाम गोपनीय रखा जायेगा.
हमारा mob no 09893221036, 8989655519 & हमारा मेल है E-mail: timesofcrime@gmail.com, toc_news@yahoo.co.in, toc_news@rediffmail.com

''टाइम्स ऑफ क्राइम''

23/टी -7, गोयल निकेत अपार्टमेंट, जोन-1, प्रेस कॉम्पलेक्स, एम.पी. नगर, भोपाल (म.प्र.) 462011
फोन नं. - 98932 21036, 8989655519

किसी भी प्रकार की सूचना, जानकारी अपराधिक घटना एवं विज्ञापन, समाचार, एजेंसी और समाचार-पत्र प्राप्ति के लिए हमारे क्षेत्रिय संवाददाताओं से सम्पर्क करें।





Followers

toc news