Wednesday, May 15, 2019

दिल्ली : अल्पसंख्यक क्षेत्रों में अधिक मतदान से बदल सकते हैं समीकरण

दिल्ली : अल्पसंख्यक क्षेत्रों में अधिक मतदान से बदल सकते हैं समीकरण
TOC NEWS @ www.tocnews.org
खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036
लोकसभा चुनाव के लिए 12 मई को दिल्ली के मुस्लिम बहुल इलाकों में हुआ अधिक मतदान तीनों मुख्य राजनीतिक पार्टियों आम आदमी पार्टी, कांग्रेस व भाजपा के लिए चिंता का सबब बन गई है। यहां त्रिकोणीय मुकाबला बनता दिख रहा है।
दिल्ली की कुल सात लोकसभा सीटों में से तीन सीटों पर मुस्लिमों की काफी अहम भूमिका है। मतदान के दिन खासकर मुस्लिम बहुल इलाकों में अधिक मतदान हुआ है। चांदनी चौक, उत्तर पूर्वी दिल्ली और पूर्वी दिल्ली में मुस्लिमों की तादाद अच्छी-खासी है।
राजनीतिक विश्लेषकों का कहना है कि अगर मुस्लिम समुदाय ने आप या कांग्रेस में से किसी एक पार्टी को अपना वोट दिया तो इसका तीनों ही पार्टियों को नुकसान होगा। जबकि अगर वोट बंट जाता है तो फिर भाजपा को फायदा मिलेगा।
रविवार को दिल्ली की सभी सीटों पर 60.5 प्रतिशत मतदान हुआ। वहीं मुस्मिम बहुल क्षेत्र में अपेक्षाकृत अधिक मतदान देखने को मिला। चिलचिलाती गर्मी और रमजान के दौरान रोजा रखने के बावजूद मुस्लिम बहुल इलाके बल्लीमारान में 68.3 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। वहीं शकूरबस्ती, मटिया महल और सीलमपुर में क्रमश: 68.7, 66.9 और 66.5 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया।
चूंकि एक समुदाय से संबंधित मतदान का रिकॉर्ड नहीं है, इसलिए यह नहीं कहा जा सकता कि इन क्षेत्रों में कितने मुस्लिमों ने मतदान किया है। मुस्लिम बहुल इलाकों में अच्छी वोटिंग होने के कारण यही अनुमान लगाया जा रहा है कि इस मतदान में मुस्लिमों की संख्या अधिक रही है।
त्रिलोकपुरी में 65.4, मुस्तफाबाद में 65.2, बाबरपुर में 62.1 और चांदनी चौक में 59.4 प्रतिशत मतदान हुआ है। इनमें ओखला क्षेत्र अपवाद है, जहां पर महज 54.8 प्रतिशत मतदान ही दर्ज किया गया है। इसके अलावा अन्य मुस्लिम बहुल क्षेत्र जैसे मुस्तफाबाद और बाबरपुर में क्रमश: 65.22 और 62.14 प्रतिशत मतदान हुआ है।
दिल्ली में लोकसभा चुनाव-2019 में कुल 60.34 प्रतिशत मतदान हुआ है जोकि पिछले लोकसभा चुनाव-2014 से कम है। 2014 में बल्लीमरान में 67.17, मटिया महल में 66.81, ओखला में 58.21 और सीलमपुर में 68.11 प्रतिशत मतदान हुआ था।
विशेषज्ञों के अनुसार अधिकतर मुस्लिमों की वोट कांग्रेस या आम आदमी पार्टी को ही गई है। हालांकि अगर अधिकतर वोट इन दोनों पार्टियों में बंट जाती है, तो फिर इससे निश्चित तौर पर भाजपा को फायदा पहुंचेगा।
क्षेत्र के मुस्लिमों से बात की तो पाया कि मुस्लिमों ने आम आदमी पार्टी की अपेक्षा कांग्रेस को अपना समर्थन दिया है। अंजुम जाफरी ने बताया कि लोग केंद्र से गुस्से में हैं और उन्होंने मतदान के दिन बड़ी संख्या में वोट कर अपना गुस्सा जाहिर किया है। उन्होंने बताया कि सभी मुस्लिम जानते हैं कि यह चुनाव राष्ट्रीय है और आम आदमी पार्टी को वोट देना सीधे तौर पर सत्ताधारी पार्टी को फायदा पहुंचाने वाला कदम होगा। अंजुम ने वोट बंटने की संभावना वाले सवाल पर कहा कि अगर यह 50-50 प्रतिशत बंटता तो अधिक अंतर पैदा करता, मगर परिस्थिति अलग है और इस संबंध में वोट का अनुपात 85:15 रहेगा।
इसी के साथ उत्तर पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद क्षेत्र निवासी नईम अंसारी का कहना है कि उनके क्षेत्र में काफी लोग ऐसे हैं जोकि आम आदमी पार्टी के प्रति वफादार थे। मगर उन्होंने भी लोकसभा चुनाव को देखते हुए कांग्रेस को ही अपना वोट दिया है। अंसारी ने कहा कि यह चुनाव पार्षद या विधायक का नहीं बल्कि सांसद का था। चूंकि मुकाबला भाजपा के साथ था, इसलिए उन्होंने आम आदमी पार्टी के बजाए कांग्रेस का साथ दिया।
कांग्रेस भी यह दावा कर रही है कि 80 प्रतिशत मुस्लिम वोट उसी के हिस्से आए हैं और लोग कह रहे हैं कि भाजपा के विरुद्ध कांग्रेस ही सबसे बेहतर विकल्प है। जिसने समुदाय के लोगों के मन में डर वाली मनोवृत्ति पैदा की है।
दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष एवं दिल्ली के पूर्व मंत्री हारून युसूफ का कहना है कि इन क्षेत्रों के लोग भाजपा सरकार की नीतियों से सबसे अधिक प्रभावित थे। इसलिए वह अधिक संख्या में वोट डालने के लिए आए। युसूफ ने बताया कि चाहे वह मुस्लिम हों या दलित, कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने लगातार एक संदेश देने का प्रयास किया है कि वही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुकाबला कर सकते हैं। इसलिए वह कह सकते हैं कि 80 प्रतिशत मुस्लिमों ने कांग्रेस का समर्थन किया है।
मुस्मिल बहुल क्षेत्रों में प्रचार करते समय भी दोनों ही पार्टियों ने मतदाताओं से समझदारी के साथ वोट करने की अपील की थी और यह अहसास भी दिलाया था कि अगर वोट बंटा तो इसका फायदा भाजपा को मिलेगा। वहीं दूसरी ओर भाजपा का दावा है कि चाहे मुस्लिम वोट बंटे हों या नहीं, मगर उनकी पार्टी को फायदा ही मिलेगा।
दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता प्रवीन शंकर कपूूर ने  बताया कि अगर मुस्लिम वोटों का ध्रुविकरण हुआ होगा तो फिर निश्चित तौर पर अधिकतर हिंदू वोटों का भी ध्रुवीकरण हुआ होगा, जिसका फायदा उनकी पार्टी को मिलेगा। यह प्रत्यक्ष तौर पर दिख रहा है जो उन्हें फायदा पहुंचाएगा।
केंद्रीय मंत्री एवं चांदनी चौक संसदीय क्षेत्र के उम्मीदवार हर्षवर्धन ने कहा कि वह नहीं मानते कि किसी हिंदू या मुस्लिम बहुल इलाके में अधिक मतदान होने से किसी पार्टी को अलग से कोई फायदा होगा। उन्होंने कभी हिंदू या मुस्लिम के नाम पर नीतियां नहीं बनाई। हर्षवर्धन ने कहा कि अगर आप मुझसे पूछेंगे कि मेरे संसदीय क्षेत्र में कितने मुस्लिम हैं तो मैं इसका उत्तर नहीं दे सकूंगा। मगर वह इस बात पर आश्वस्त हैं कि मुस्लिम उनके लिए वोट करेंगे।

No comments:

Post a Comment

dhamaal Posts

जिला ब्यूरो प्रमुख / तहसील ब्यूरो प्रमुख / रिपोर्टरों की आवश्यकता है

जिला ब्यूरो प्रमुख / तहसील ब्यूरो प्रमुख / रिपोर्टरों की आवश्यकता है

ANI NEWS INDIA

‘‘ANI NEWS INDIA’’ सर्वश्रेष्ठ, निर्भीक, निष्पक्ष व खोजपूर्ण ‘‘न्यूज़ एण्ड व्यूज मिडिया ऑनलाइन नेटवर्क’’ हेतु को स्थानीय स्तर पर कर्मठ, ईमानदार एवं जुझारू कर्मचारियों की सम्पूर्ण मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ के प्रत्येक जिले एवं तहसीलों में जिला ब्यूरो प्रमुख / तहसील ब्यूरो प्रमुख / ब्लाक / पंचायत स्तर पर क्षेत्रीय रिपोर्टरों / प्रतिनिधियों / संवाददाताओं की आवश्यकता है।

कार्य क्षेत्र :- जो अपने कार्य क्षेत्र में समाचार / विज्ञापन सम्बन्धी नेटवर्क का संचालन कर सके । आवेदक के आवासीय क्षेत्र के समीपस्थ स्थानीय नियुक्ति।
आवेदन आमन्त्रित :- सम्पूर्ण विवरण बायोडाटा, योग्यता प्रमाण पत्र, पासपोर्ट आकार के स्मार्ट नवीनतम 2 फोटोग्राफ सहित अधिकतम अन्तिम तिथि 30 मई 2019 शाम 5 बजे तक स्वंय / डाक / कोरियर द्वारा आवेदन करें।
नियुक्ति :- सामान्य कार्य परीक्षण, सीधे प्रवेश ( प्रथम आये प्रथम पाये )

पारिश्रमिक :- पारिश्रमिक क्षेत्रिय स्तरीय योग्यतानुसार। ( पांच अंकों मे + )

कार्य :- उम्मीदवार को समाचार तैयार करना आना चाहिए प्रतिदिन न्यूज़ कवरेज अनिवार्य / विज्ञापन (व्यापार) मे रूचि होना अनिवार्य है.
आवश्यक सामग्री :- संसथान तय नियमों के अनुसार आवश्यक सामग्री देगा, परिचय पत्र, पीआरओ लेटर, व्यूज हेतु माइक एवं माइक आईडी दी जाएगी।
प्रशिक्षण :- चयनित उम्मीदवार को एक दिवसीय प्रशिक्षण भोपाल स्थानीय कार्यालय मे दिया जायेगा, प्रशिक्षण के उपरांत ही तय कार्यक्षेत्र की जबाबदारी दी जावेगी।
पता :- ‘‘ANI NEWS INDIA’’
‘‘न्यूज़ एण्ड व्यूज मिडिया नेटवर्क’’
23/टी-7, गोयल निकेत अपार्टमेंट, प्रेस काम्पलेक्स,
नीयर दैनिक भास्कर प्रेस, जोन-1, एम. पी. नगर, भोपाल (म.प्र.)
मोबाइल : 098932 21036


क्र. पद का नाम योग्यता
1. जिला ब्यूरो प्रमुख स्नातक
2. तहसील ब्यूरो प्रमुख / ब्लाक / हायर सेकेंडरी (12 वीं )
3. क्षेत्रीय रिपोर्टरों / प्रतिनिधियों हायर सेकेंडरी (12 वीं )
4. क्राइम रिपोर्टरों हायर सेकेंडरी (12 वीं )
5. ग्रामीण संवाददाता हाई स्कूल (10 वीं )

SUPER HIT POSTS

TIOC

''टाइम्स ऑफ क्राइम''

''टाइम्स ऑफ क्राइम''


23/टी -7, गोयल निकेत अपार्टमेंट, जोन-1,

प्रेस कॉम्पलेक्स, एम.पी. नगर, भोपाल (म.प्र.) 462011

Mobile No

98932 21036, 8989655519

किसी भी प्रकार की सूचना, जानकारी अपराधिक घटना एवं विज्ञापन, समाचार, एजेंसी और समाचार-पत्र प्राप्ति के लिए हमारे क्षेत्रिय संवाददाताओं से सम्पर्क करें।

http://tocnewsindia.blogspot.com




यदि आपको किसी विभाग में हुए भ्रष्टाचार या फिर मीडिया जगत में खबरों को लेकर हुई सौदेबाजी की खबर है तो हमें जानकारी मेल करें. हम उसे वेबसाइट पर प्रमुखता से स्थान देंगे. किसी भी तरह की जानकारी देने वाले का नाम गोपनीय रखा जायेगा.
हमारा mob no 09893221036, 8989655519 & हमारा मेल है E-mail: timesofcrime@gmail.com, toc_news@yahoo.co.in, toc_news@rediffmail.com

''टाइम्स ऑफ क्राइम''

23/टी -7, गोयल निकेत अपार्टमेंट, जोन-1, प्रेस कॉम्पलेक्स, एम.पी. नगर, भोपाल (म.प्र.) 462011
फोन नं. - 98932 21036, 8989655519

किसी भी प्रकार की सूचना, जानकारी अपराधिक घटना एवं विज्ञापन, समाचार, एजेंसी और समाचार-पत्र प्राप्ति के लिए हमारे क्षेत्रिय संवाददाताओं से सम्पर्क करें।





Followers

toc news